धौलपुर धौलपुर: चंबल नदी में नहाने गए तीन सगे भाई डूबे, नानी घर आए हुए थे मासूम

धौलपुर: चंबल नदी में नहाने गए तीन सगे भाई डूबे, नानी घर आए हुए थे मासूम

धौलपुर: चंबल नदी में नहाने गए तीन सगे भाई डूबे, नानी घर आए हुए थे मासूम

धौलपुर: धौलपुर जिले के कोतवाली थाना क्षेत्र में राजघाट गांव के पास से बह रही चंबल नदी के तट पर बड़ा हादसा हो गया. जहां आज दोपहर 3 सगे भाई नदी में नहाते हुए डूब गए, नदी किनारे तीनों भाइयों के कपड़े देख परिजनों ने पुलिस को सूचना दी. सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने तीनों भाइयों के नदी में डूबने की आशंका जताते हुए रेस्क्यू ऑपरेशन चला दिया. पुलिस के रेस्क्यू ऑपरेशन में दो सगे भाइयों के शव निकाल लिए.

वहीं करीबन आधे घंटे और रेस्क्यू करने के बाद तीसरे भाई का भी शव नदी से बाहर निकाला लिया गया. मामले की जानकारी देते हुए सीओ सिटी प्रमेन्द्र महेला ने बताया कि चम्बल नदी के किनारे बसे हुए गांव वर का पुरा के रहने वाले खेमचंद्र के तीनों बेटे रोहित उम्र 10 साल, चिराग उम्र 8 साल और कान्हा उम्र 6 साल पास के गांव राजघाट में अपनी नानी के घर गए हुए थे जहाँ से आज दोपहर को चंबल नदी में नहाने के लिए गए थे. जब काफी देर तक बच्चे बाहर नहीं आये तो परिजन उनकी तलाश करने के लिए नदी पर पहुंचे. जहां नदी किनारे तीनों बच्चों के कपड़े पड़े हुए देखकर परिजनों ने बच्चों के नदी में डूबने की आशंका जताते हुए कोतवाली थाना पुलिस को सूचना दे दी. जिस सूचना पर पुलिस ने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया.

वहीं मामले की जानकारी मिलते ही एसडीएम भारती भारद्वाज,सीओ सिटी,एसएचओ कोतवाली जाब्ता सहित मौके पर पहुंचे. जहां स्थानीय गोताखोरों और एसडीआरएफ की टीम ने रेस्क्यू ऑपरेशन करते हुए चिराग और कान्हा के शव नदी से बाहर निकाल लिया. बाद में करीबन आधा घंटा और रेस्क्यू करते हुए तीसरे भाई रोहित को भी बाहर निकाल लिया गया, जिसके बाद कोतवाली पुलिस ने तीनों बालकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवाया. जहां तीनों के शवों का पोस्टमार्टम करा शव परिजनों को सपुर्द कर दिया है. घटना के बाद से ही मृतकों के गांव और ननिहाल में मातम पसरा हुआ है हर कोई व्यक्ति घटना को सुनकर व्यथित है. 

और पढ़ें