Digital Baal Mela 2021: कोरोना को मात देने में बच्चों की रही है अहम भूमिका, MLA अविनाश गहलोत से संवाद में बच्चे बताएंगे अपना योगदान

Digital Baal Mela 2021: कोरोना को मात देने में बच्चों की रही है अहम भूमिका, MLA अविनाश गहलोत से संवाद में बच्चे बताएंगे अपना योगदान

Digital Baal Mela 2021: कोरोना को मात देने में बच्चों की रही है अहम भूमिका, MLA अविनाश गहलोत से संवाद में बच्चे बताएंगे अपना योगदान

जयपुर: फ्यूचर सोसाइटी और एलआईसी द्वारा प्रायोजित रचनात्मक मंच डिजिटल बाल मेला 2021 इन दिनों हर जगह सुर्खियां बटोरे हुए हैै. बालमन को सुनने वाला ये मंच अब ना सिर्फ बच्चों के बीच अपनी ​छवि बनाये हुए है बल्कि उनके माता पिता को भी आकर्षित कर रहा है. 15 जून को इस मंच का उद्घाटन विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने किया था. जहां उन्होंने इस मंच को बच्चों के लिए सुनहरा भविष्य बताया. इसी के साथ उन्होंने बच्चों का हौसला बढ़ाते हुए 14 नवंबर बाल दिवस के दिन डिजिटल बाल मेले का पहला अधिवेशन विधानसभा में कराने का वादा किया है. बच्चों के लिए ये पहली बार होने जा रहा है जब वो एक मंच के जरिए विधानसभा में जाएंगे और वहां की कार्यप्रणाली को करीब से समझेंगे.

डिजिटल बाल मेला 2021 के मंच पर 19 जून को बच्चे बीजेपी विधायक अविनाश गहलोत संग संवाद करेंगे. इस संवाद का विषय कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे बच्चों का योगदान है. जिसमें बच्चे इस महामारी में अपने द्वारा निभाई गई भूमिका का प्रदर्शन विधायक के सामने करेंगे. इस संवाद में बच्चे हर बार की तरह राजनेता से अपने मन की बात कर सकते है तो वही उनसे अपनी सरकार बनाने के टिप्स भी ले सकते है.

विधायक अविनाश गहलोत का परिचय:
 राजस्थान विधानसभा क्षेत्र के जैतारण से बीजेपी विधायक अविनाश गहलोत काफी सुर्खियों मे रहते है. राजनीति मे आने से पहले ही उन्होंने अपना संगठन बनाना शुरू कर दिया था. 39 वर्षीय अविनाश गहलोत प्रोफेशनली वकील है. अविनाश गहलोत ने स्नातक के बाद वकील की पढ़ाई की है. यही वजह है कि वो हमेशा से ही अपने कार्यो में सक्रिय रहे है. 

अविनाश ने हर मुद्दे पर अपनी आवाज उठाई है ना सिर्फ विधानसभा बल्कि सोशल मीडिया पर भी परिचय:
राजस्थान विधानसभा क्षेत्र के जैतारण से बीजेपी विधायक अविनाश गहलोत काफी सुर्खियों मे रहते है. राजनीति मे आने से पहले ही उन्होंने अपना संगठन बनाना शुरू कर दिया था. 39 वर्षीय अविनाश गहलोत प्रोफेशनली वकील है. अविनाश गहलोत ने स्नातक के बाद वकील की पढ़ाई की है. यही वजह है कि वो हमेशा से ही अपने कार्यो में सक्रिय रहे है. अविनाश ने हर मुद्दे पर अपनी आवाज उठाई है. ना सिर्फ विधानसभा बल्कि सोशल मीडिया पर भी वो हमेशा जनता के हितो के लिए बोलते आये है. युवा विधायक अविनाश गहलोत के पिता नाथूराम गहलोत है. उनकी पत्नी एक ग्रहणी है. आपको बता दें कि विधायक अविनाश गहलोत के अपने पार्टी के सीनियर नेताओं से काफी गहरे संबंध है. वे हमेशा से ही सरकार द्वारा लागू की गई हर स्कीम और योजना का सही अर्थ जनता को समझाते आये है. ऐसे में अविनाश ने अपने पद से मिली शक्तियों का हमेशा से ही सदुपयोग करने का प्रयास किया है.

अब विधायक अविनाश गहलोत बच्चों से सीधा संवाद करने आ रहे है वे डिजिटल बाल मेला 2021 के मंच पर बच्चों से कोरोना के खिलाफ जंग लड़ने पर बात करेंगे. गौरतलब है कि इन दिनों देशभर में कोरोना ने कहर बरपाया हुआ है ऐसे में इसके निवारण के लिए भले ही वैक्सीन आ गई हो लेकिन इसके बावजूद हर किसी को सतर्कता बरतनें की आवश्यकता है. अपने इस संवाद में विधायक अविनाश गहलोत बच्चों को कोरोना से लड़ने का हौसला देंगे साथ ही उनके मन की बात जानेंगे. इस सेशन में बच्चे अविनाश गहलोत के सामने सरकार से जुड़े अपने सवाल भी पेश करेंगे और 'बच्चों की सरकार कैसी हो' में अपना योगदान देने के लिए उनसे टिप्स भी लेंगे।वो हमेशा जनता के हितो के लिए बोलते आये है.

युवा विधायक अविनाश गहलोत के पिता नाथूराम गहलोत है। उनकी पत्नी एक ग्रहणी है. आपको बता दें कि विधायक अविनाश गहलोत के अपने पार्टी के सीनियर नेताओं से काफी गहरे संबंध है. वे हमेशा से ही सरकार द्वारा लागू की गई हर स्कीम और योजना का सही अर्थ जनता को समझाते आये है. ऐसे में अविनाश ने अपने पद से मिली शक्तियों का हमेशा से ही सदुपयोग करने का प्रयास किया है. 

अब विधायक अविनाश गहलोत बच्चों से सीधा संवाद करने आ रहे है वे डिजिटल बाल मेला 2021 के मंच पर बच्चों से कोरोना के खिलाफ जंग लड़ने पर बात करेंगे. गौरतलब है कि इन दिनों देशभर में कोरोना ने कहर बरपाया हुआ है ऐसे में इसके निवारण के लिए भले ही वैक्सीन आ गई हो लेकिन इसके बावजूद हर किसी को सतर्कता बरतनें की आवश्यकता है. अपने इस संवाद में विधायक अविनाश गहलोत बच्चों को कोरोना से लड़ने का हौसला देंगे साथ ही उनके मन की बात जानेंगे. इस सेशन में बच्चे अविनाश गहलोत के सामने सरकार से जुड़े अपने सवाल भी पेश करेंगे और बच्चों की सरकार कैसी हो में अपना योगदान देने के लिए उनसे टिप्स भी लेंगे.

शनिवार शाम 4 बजे  विधायक अविनाश गहलोत से सीधा संवाद:
शनिवार शाम 4 बजे विधायक अविनाश गहलोत कोरोना काल में बच्चों के योगदान पर चर्चा करेंगे किस प्रकार महामारी के इस दौर में बच्चों ने अपना कर्तव्य निभाया है किस प्रकार बच्चों ने देश के नागरिक होने के नाते इंसानियत का अद्धभूत उदाहरण पेश किया है. जो उनके भविष्य में उनकी छवि को एक नया मोड़ देता है. गौरतलब है ​कि डिजिटल बाल मेला 2021 एक मंच ही ऐसा है, जहां बच्चे अपनी कला का देशभर के सामने प्रदर्शन कर सकते है. अपनी सरकार को अपने सुझाव दे सकते है उनसे सीधे सवाल कर सकते है और वही अपनी सरकार बनाने में अपना योगदान दे सकते है.

Live with  विधायक अविनाश गहलोत:
Digital Baal Mela: डिजिटल बाल मेला सीजन-2 बच्चों की सरकार कैसी हो.
 
बच्चों के सवालों के जवाब देने आ रहे है दिग्गज विधायक-  विधायक अविनाश गहलोत
कुछ पल का है इंतजार और फिर हमारे बीच होंगे विधायक- विधायक अविनाश गहलोत

शनिवार शाम 4 बजे Google Meet पर जुड़ना न भूले 

Link : https://meet.google.com/ysn-pfjh-shh

और पढ़ें