जयपुर Digital Baal Mela 2021: कोरोना काल में गहलोत सरकार ने किया सराहनीय काम, डिबेट प्रतियोगिता में भाग लेते हुए बोले जयंत गोयंका

Digital Baal Mela 2021: कोरोना काल में गहलोत सरकार ने किया सराहनीय काम, डिबेट प्रतियोगिता में भाग लेते हुए बोले जयंत गोयंका

Digital Baal Mela 2021: कोरोना काल में गहलोत सरकार ने किया सराहनीय काम, डिबेट प्रतियोगिता में भाग लेते हुए बोले जयंत गोयंका

जयपुर: बात हो चाहे कोविड 19 की, या बेरोजगारों को रोजगार की, महिलाओं की सुरक्षा की या बच्चों की शिक्षा की, किसानों की ऋण की या मजदूरों के पलायन की. हमारे मुख्यमंत्री का सराहनीय योगदान रहा है.ये कहना है जयपुर के जयंत गोयंका का.जिन्होंने डिजिटल बाल मेला की डिबेट प्रतियोगिता  क्या अशोक गहलोत सफल मुख्यमंत्री विषय पर अपनी राय रखी.जयंत ने राजस्थान सरकार के पक्ष में अपने तर्क दिये.उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जैसे नेता कोई नहीं है.जिन्होंने राजस्थान का विकास करने में अपनी योजनाएं बनाई.

Digital Baal Mela की डिबेट प्रतियोगिता में भाग लेते हुए जयंत ने मुख्यमंत्री की कई योजनाओं का भी जिक्र किया.जिसमें कोविड 19 की दूसरी लहर में लॉकडाउन के जरिये लोगों को संक्रमण से बचाना.तो वही अस्पतालों की व्यवस्था.इसके साथ ही जयंत ने चिरंजीवी बीमा योजना का भी जिक्र किया.अपने वीडियो में जयंत गोयंका ने बताया कि मुख्यमंत्री ने भीलवाड़ा के प्रोजेक्ट पर सराहनीय काम किया है.जिसकी पूरे देश में प्रशंसा की जा रही है.ऐसे नेता तो सफल होते ही है.इसी के साथ जयंत ने अशोक गहलोत सरकार के पक्ष में अपने विचार जाहिर किए.बताया कि उनकी नजर में अशोक गहलोत सरकार ने बहुत ही सराहनीय ​काम किये है और ऐसे नेता हर क्षेत्र, हर राज्य वही हर देश में होने चाहिए.

जयंत की ही तरह यदि आपके मन में भी डिजिटल बाल मेला के बच्चों की सरकार कैसी हो या बाल मेला में आयोजित हो रही डिबेट प्रतियोगिता 'क्या मोदी सरकार सबसे अच्छी' या 'क्या अशोक गहलोत सफल मुख्यमंत्री' के प्रति कोई विचार हो तो.अब देरी ना करें जल्द से जल्द डिजिटल बाल मेला को अपने बच्चे का वीडियो बनाकर भेजे और देश के सामने उनके विचार लाएं.वीडियो बनाने की सभी प्रक्रिया यहां हैं.

ऐसे लें डि​बेट प्रतियोगिता में भाग:
डिबेट प्रतियोगिता के बारें में जानने के बाद बच्चों के मन में सबसे बड़ा सवाल यही आता है कि वो कैसे इस प्रतियोगिता में भाग लेकर सरकार से अपने मन की बात कर सकते है. तो बच्चे अब चिंता ना करें. वाद-विवाद प्रतियोगिता में शामिल होने की प्रतियोगिता बिल्कुल सरल है. तो आइए जानते है बच्चे कैसे रखें अपना पक्ष:

- इस प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए बच्चों को अपना वीडियो बनाना होगा.
- 6 से 16 साल के बच्चे डिजिटल बाल मेला को अपना वीडियो भेजे.
- वीडियो को डिजिटल बाल मेला के सोशल प्लेटफॉर्म पर भेजना होगा.
- बच्चे अपना वीडियो वेबसाइड http://www.digitalbaalmela.com/
  व्हॉटसअप 8005915026
 पर भेज सकते है. बता दें वीडियो में किसी प्रकार की समय पाबंदी नहीं है लेकिन बच्चों को वीडियों में विषय से संबंधित तथ्यों पर बात करना जरूरी है.अपनी बात कहने के साथ वीडियों में बच्चे अपने नाम के साथ स्कूल और शहर का नाम जरूर जोड़े.वही वीडियो में बच्चे #BacchoKiSarkaarKaisiHo मेंशन करें.

किस संदर्भ में बात कर बच्चे डिबेट प्रतियोगिता के लिए बनाएं अपना वीडियो:

इस वीडियो में बच्चे मोदी सरकार कितनी अच्छी विषय पर बात करेंगे.तो वही दूसरा विषय 'क्या अशोक गहलोत सफल मुख्यमंत्री' पर अपना वीडियो में बनाकर सरकार के लिए पक्ष और विपक्ष पर अपनी बात रखें.बच्चों के तर्क तथ्यों पर आधारित होने चाहिए.बच्चे मोदी सरकार के साथ ही राजस्थान सरकार के कार्यों का आकलन कर सकते है.सरकार के कार्यो के किसी भी योजना, नियम अपना तर्क- वितर्क रख सकते है.अपनी सरकार को संदेश दे सकते है.उनके लिए उनकी सरकार अच्छी या बुरी खुलकर बता सकते है.सरकार को बच्चों के लिए क्या करना चाहिए पर भी अपने विचार रख सकते है.वही सरकार से अपने अधिकारों के बारें में बात कर सकते है.

डिजिटल बाल मेला की वेबसाइड के साथ अब बच्चे व्हॉटसप पर भी भेज सकते है अपनी एंट्री: 
डिजिटल बाल मेला सीजन2 में 'बच्चों की सरकार कैसी हो' की किसी भी प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए बच्चों को अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा जिसके लिए बच्चे रजिस्ट्रेशन के लिए वेबसाइट http://www.digitalbaalmela.com/ के साथ ही डिजिटल बाल मेला के व्हॉटसप नंबर 8005915026 पर भी अपनी एंट्री भेज सकते है.

और पढ़ें