Digital Bal Mela: कोरोना से मुक्ति दिलायेगा बापू का मंत्र, 7 साल के अधिश्री गौतम ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के रूप में दिया मास्क लगाने का संदेश

Digital Bal Mela: कोरोना से मुक्ति दिलायेगा बापू का मंत्र, 7 साल के अधिश्री गौतम ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के रूप में दिया मास्क लगाने का संदेश

Digital Bal Mela: कोरोना से मुक्ति दिलायेगा बापू का मंत्र, 7 साल के अधिश्री गौतम ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के रूप में दिया मास्क लगाने का संदेश

जयपुर: डिजिटल रचनात्मक मंच बाल मेला क्रिएटिविटी की नई बुलंदियों पर है. सप्ताह आखिरी जरूर है. लेकिन बच्चों की प्रतिभा एक दम नई और समाज को बखूबी कोरोना के प्रति जागरूक करने वाली है. राजस्थान में फ्यूचर सोसायटी और एलआईसी द्वारा प्रस्तुत डिजिटल बाल मेला की महक इन दिनों देशभर में है. छोटे गांव-ढाणियों से लेकर गोवा महाराष्ट्र जैसे राज्यों के बच्चे अपनी कौशलता दिखा कर बाल मेला में चार चांद लगा रहे हैं. बाल मेला के प्रतिभागी बच्चों की लाजवाब क्रिएटिविटी की जितनी प्रशंसा की जाये उतनी ही कम है.

बाल मेला के प्रतिभावान बच्चों की शृंखला में नया नाम जुड़ा:  
बाल मेला के प्रतिभावान बच्चों की शृंखला में नया नाम जुड़ा है. झालावाड़ के खानपुर गांव की 'अधिश्री गौतम' का...12 साल के अधिश्री वैसे तो कक्षा सात में हैं लेकिन इनकी प्रतिभा और कोरोना के प्रति जागरूकता का तरीका एक दम ही नायाब है.

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का किरदार अदा किया: 
नन्हें अधिश्री ने फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता में भाग लेकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का किरदार अदा किया है साथ ही समाज को कोरोना से जागरूकता का संदेश भी दिया है. बाल मेला की फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता में अधिश्री द्वारा निभाए गए बापू के किरदार की खास बात है कि खुद बापू ने कोरोना से बचने के लिए मास्क लगाया है और कोरोना से सावधान रहने की सीख दे रहे हैं.

गांधी जी का रूप धारण कर मास्क लगाने का जन संदेश दिया: 
बच्चों से लेकर बड़े और बूढ़ों के दिल में बसे बापू की छवि को बाल मेला प्रतिभागी अधिश्री ने एक बार फिर नए तरीके से जागरूक किया. देश को आजाद करवाने में जैसे राष्ट्रपिता की भूमिका अहम रही है वैसे ही यहां कोरोना से मुक्ति को लेकर अधिश्री ने गांधी जी का रूप धारण कर मास्क लगाने का जन संदेश दिया है. अधिश्री का ये संदेश लोगों के दिलों में कोरोना के प्रति सजग रहने और मास्क लगाने के लिए प्रेरित कर रहा है.  

डिजिटल बाल मेला में आज एंट्री भेजने का आखिरी दिन:
बता दें, डिजिटल बाल मेला में आज एंट्री भेजने का आखिरी दिन है. तो आप भी अपने बच्चों को एक नए क्रिएटिव आइडिया और प्रतियोगिता का चुनाव करते हुए उसका वीडियो बनाकर भेज दें बाल मेला के व्हाट्सएप नंबर पर और हो जाएं टैलेंट हंट में शामिल. यही नहीं, आप ऐसी ही क्रिएटिव एंट्री बाल मेला में भेज कर प्रदेश की बाल सुर्ख़ियों का हिस्सा भी बन सकते हैं. बच्चे का हुनर उसे प्रदेश के प्रमुख टीवी चैनल और अख़बार में जगह दिलाकर एक नई पहचान दिलायेगा. ध्यान रहे कि बाल मेला में हिस्सा लेने और किसी भी प्रतियोगिता के लिए वीडियो सबमिट करने की अंतिम तारीख आज यानी 21 दिसंबर है. आज रात 12 बजे तक भेजी गई एंट्रियां ही मान्य होंगी और बाल मेला में शामिल की जायेगी.

राज्य स्तर पर कैश अवार्ड और प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया जायेगा:
बाल मेला के प्रतिभागियों की मेहनत का परिणाम 25 दिसंबर, 2020 को जारी किया जाना तय किया गया है. साथ ही जीतने वाले प्रतिभागी को राज्य स्तर पर कैश अवार्ड और प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया जायेगा. डिजिटल बाल मेला परिणाम की घोषणा के संबंध में डिजिटल मेला वेबसाइट www.digitalbaalmela.com और सोशल मीडिया पेज पर जानकारी साझा की जायेगी.

और पढ़ें