BJP प्रदेश महामंत्री मदन दिलावर का विवादित बयान: Digvijay Singh की श्रद्धा तो पाकिस्तान के प्रति है

BJP प्रदेश महामंत्री मदन दिलावर का विवादित बयान: Digvijay Singh की श्रद्धा तो पाकिस्तान के प्रति है

BJP प्रदेश महामंत्री मदन दिलावर का विवादित बयान:  Digvijay Singh की श्रद्धा तो पाकिस्तान के प्रति है

जयपुर: रामगंजमंडी विधानसभा क्षेत्र (Ramganjmandi Assembly Constituency) से BJP विधायक व भाजपा प्रदेश महामंत्री मदन दिलावर (BJP State General Secretary Madan Dilawar) ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है. दिलावर ने धारा 370 पर दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) द्वारा दिए गए बयान पर कड़ी आपत्ति जताई है. दिलावर ने कहा कि अब वो जमाना गया, जब देश विरोधी ताकतें, भारत देश के लिए कुछ भी बोला करती थी. और सुना जाता था. अब उंगली उठाने वाले की उंगली काट दी जाएगी. हाथ उठाने वाले का हाथ काट दिया जाएगा. जो भी भारत देश को आंख दिखाएगा उसकी आंख निकाली जाएगी.

पाकिस्तान के प्रति है दिग्विजय सिंह की श्रद्धा:
दिलावर ने कहा कि दिग्विजय सिंह के द्वारा कई बार देश विरोधी बयान दिए जाते रहे हैं. जिस कारण से वे चर्चा में बने रहना चाहते हैं. उनकी निष्ठा और श्रद्धा भारत देश के प्रति कतई नहीं है. उनकी श्रद्धा तो पाकिस्तान के प्रति है. जो नमक भारत देश का खाते हैं, और गुणगान पाकिस्तान का करते हैं. ऐसे लोग देशद्रोही नहीं, बल्कि गद्दार भी हैं.

कश्मीर में दुबारा धारा 370 लागू करना ख्याली पुलाव:
दिलावर ने प्रेस नोट जारी कर चेतावनी देते हुए कहा कि कश्मीर में दुबारा धारा 370 लागू करना ख्याली पुलाव है. ये दिन में भी सपने देख रहे हैं. कांग्रेस पार्टी का सत्ता में आना तो दूर की बात है. अब तो इस देश से इस पार्टी का नामोनिशान मिटने वाला है. फिर भी देश की जनता को झूठ बोल कर उन्हें भ्रमित कर सत्ता में आए और कश्मीर में 370 की बहाली हुई. तो देश के करोड़ों देशभक्त बहाली करने वालों के हाथ ही काट देंगे. उन्हें इस काबिल नहीं छोड़ेंगे कि वे इस प्रकार के सपने भी देख सकें.

यह है पूरा मामला:
दरअसर, शनिवार को क्लब हाउस चैट का एक ऑडियो क्लिप वायरल हुई थी. इसमें मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे. इसी दौरान पाकिस्तानी पत्रकार के सवाल के जवाब में उन्होंने कहा था कि जम्मू-कश्मीर से धारा-370 हटाने के लिए इंसानियत को ताक पर रख दिया गया. सभी को कालकोठरी में बंद कर दिया गया. अगर कांग्रेस सत्ता में आई, तो इस फैसले को पलट देंगे.

और पढ़ें