Audio Viral: पाकिस्तानी पत्रकार से दिग्विजय ने कहा- कांग्रेस आई तो 370 हटाने के फैसले पर पुनर्विचार करेंगे, BJP बोली- कांग्रेस का पहला प्यार पाकिस्तान

Audio Viral: पाकिस्तानी पत्रकार से दिग्विजय ने कहा- कांग्रेस आई तो 370 हटाने के फैसले पर पुनर्विचार करेंगे, BJP बोली- कांग्रेस का पहला प्यार पाकिस्तान

Audio Viral: पाकिस्तानी पत्रकार से दिग्विजय ने कहा- कांग्रेस आई तो 370 हटाने के फैसले पर पुनर्विचार करेंगे, BJP बोली- कांग्रेस का पहला प्यार पाकिस्तान

नई दिल्ली: अनुच्छेद 370 को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह एक बार फिर विवादों में घिर गए हैं. दिग्विजय सिंह का एक क्लब हाउस का सनसनीखेज ऑडियो सामने आया है, जिसमें दिग्विजय सिंह अनुच्छेद-370 पर बात कर रहे हैं. इस ऑडियो में दिग्विजय ये कहते सुनाई दे रहे हैं कि अगर कांग्रेस सत्ता में वापस आती है तो 370 हटाने पर विचार किया जाएगा.

बीजेपी आईटी सेल के हेड अमित मालवीय ने कांग्रेस के महासचिव दिग्विजय सिंह का यह ऑडियो जारी किया है. इसके साथ ही उन्होंने दावा किया है कि इस चैट में पाकिस्तानी पत्रकार भी मौजूद थे. उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि क्लबहाउस चैट में राहुल गांधी के करीबी दिग्विजय सिंह पाकिस्तानी पत्रकार से कह रहे हैं कि अगर कांग्रेस सत्ता में आती है तो आर्टिकल 370 हटाने के फैसले पर दोबारा विचार किया जाएगा. सच में? यही तो पाकिस्तान चाहता है..." 

इस सनसनीखेज ऑडियो को लेकर दिग्विजय सिंह भाजपा नेताओं के निशाने पर आए हैं. भाजपा नेता और प्रवक्ता संबित्र पात्रा ने वायरल चैट को रिट्वीट करते हुए कांग्रेस और दिग्विजय सिंह को निशाने पर लिया. संबित पात्रा ने ट्विटर पर लिखा कि दिग्विजय सिंह ने अनुच्छेद 370 बहाल करने पर पुनर्विचार की बात कही. उन्होंने हिंदू कट्टरपंथी का जिक्र किया. कांग्रेस राष्ट्रविरोधियों का क्लब हाउस है. 

वहीं केंद्रीय मंत्रि गिरिराज सिंह ने भी वायरल चैट को ट्वीट करते हुए लिखा कि कांग्रेस का पहला प्यार पाकिस्तान है. दिग्विजय सिंह ने राहुल गांधी का संदेश पाकिस्तान तक पहुंचाया है. कांग्रेस कश्मीर को हथियाने में पाकिस्तान की मदद करेगी. 

370 को निष्प्रभावी करने का कांग्रेस कर रही विरोध: 
आपको बता दें कि केंद्र की मोदी ने सरकार ने 5 अगस्त, 2019 को जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी कर दिया था. तब से ही कांग्रेस पार्टी लगातार इसका विरोध कर रही है. 


 

और पढ़ें