पूर्वी राजस्थान के एक मीणा नेता की BSP में जाने की चर्चा, प्रदेश की सियासत में सुगबुगाहट तेज !

पूर्वी राजस्थान के एक मीणा नेता की BSP में जाने की चर्चा, प्रदेश की सियासत में सुगबुगाहट तेज !

पूर्वी राजस्थान के एक मीणा नेता की BSP में जाने की चर्चा, प्रदेश की सियासत में सुगबुगाहट तेज !

जयपुर: प्रदेश की सियासत में इन दिनों एक चर्चा ने राजनीतिक गलियारों में सुगबुगाहट तेज कर दी है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पूर्वी राजस्थान (East Rajasthan) के एक मीणा नेता BSP में जा सकते हैं. यह पायलट कैंप (Sachin Pilot) में माने जाते हैं. इनका बीएसपी का प्रदेशाध्यक्ष बनने का प्रयास है. ऐसे में भावी रणनीति के मद्देनजर यह मीणा विधायक इस तरह का कदम उठा सकते हैं. यह पहले भी बीएसपी से विधायक रहे थे. यह अलग बात है कि इनकी बीजेपी के एक बड़े नेता भी नजदीकियां है! इनकी अभी कांग्रेस के कद्दावर मीणा क्षत्रपों में गिनती होती है. 

आपको बता दें, एक साल पहले प्रदेश की राजनीति में जिस तरह से सियासी घटनाक्रम घटा था उसके बाद से ही सचिन पायलट लगातार अपने समर्थक विधायकों को मंत्रिमंडल में शामिल करवाने का प्रयास कर रहे हैं. लेकिन अब धीरे-धीरे उनका धैर्य जवाब देता जा रहा है. अब कुछ विधायक ऐसे भी हैं जो समय को भांपकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का गुणगान करने लगे हैं. ऐसे में एक बार फिर पायलट कैंप के विधायक की बसपा में शामिल होने की चर्चा उनके लिए चिंता का कारण बन सकती है. 

सचिन पायलट की ये है चाहत:
फिलहाल सचिन पायलट यही चाहते हैं कि मंत्रिमंडल का विस्तार हो. सरकार में 9 मंत्री के पद खाली हैं और उनके समर्थक विधायकों को मंत्रिमंडल में और सरकारी नियुक्ति में जगह दी जाए, लेकिन ऐसा होता संभव नहीं दिख रहा है. अब बड़ा सवाल यह है कि अगर सचिन पायलट की मांगे पूरी नहीं होती हैं तो वो क्या करेंगे.

और पढ़ें