close ads


वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए यूपी कैबिनेट की बैठक, विधायक निधि और वेतन में कटौती के प्रस्ताव पर हुई चर्चा

 वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए यूपी कैबिनेट की बैठक, विधायक निधि और वेतन में कटौती के प्रस्ताव पर हुई चर्चा

लखनऊ: यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए कैबिनेट की बैठक की. बैठक में कोरोना वायरस से निपटने के लिए योगी सरकार ने भी एक वर्ष के लिए विधायकों के वेतन में 30 प्रतिशत कटौती और एक साल के लिए विधायक निधि खत्म करने का फैसला किया है. इस दौरान विधायक निधि और वेतन में कटौती के प्रस्ताव पर चर्चा हुई. कटौती के बजट का इस्तेमाल कोरोनावायरस से लड़ने में किया जाएगा. इससे पूर्व हिमाचल प्रदेश सरकार भी विधायकों के वेतन में कटौती का फैसला चुकी है.

योगी सरकार का बड़ा फैसला:
उत्तर प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव की बढ़ती संख्या को देखते हुए योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. दरअसल, मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए प्रदेश के 15 जिलों को रात 12 बजे से पूरी तरह सील करने का निर्णय लिया है. इन जिलों में कोई भी आवाजाही नहीं होगी. यहां तक की सामानों की होम डिलिवरी होगी. यूपी में अब तक संक्रमितों की संख्या बढ़कर 350 हो गई है. 

सुप्रीम कोर्ट की तर्ज पर राजस्थान हाईकोर्ट में भी अब फाईलिंग, संभवतया सभी प्रकार के केसों की फाईलिंग करने वाला बना पहला हाईकोर्ट

ये जिले हुए सील:
कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए यूपी के वाराणसी, लखनऊ, महराजगंज, बस्ती, बुलंदशहर, नोएडा, गाज़ियाबाद, शामली, कानपुर, सीतापुर, मेरठ, सहारनपुर, आगरा, फ़िरोज़ाबाद और बरेली जिले की सीमाएं पूरी तरह सील कर दी गई है. अब ना यहां पर कोई आएगा, ना ही यहां से कोई बाहर जा पाएगा.

कर्फ्यू पास नहीं होंगे जारी:
इस दौरान आवश्यक सेवाओं को छोड़कर किसी को कर्फ्यू पास जारी नहीं होंगे. जरूरी सेवाओं के अलावा किसी को भी घर से निकलने की इजाजत नहीं होगी. इन जिलों के बॉर्डर पूरी तरह सील कर दिए जाएंगे. मीडियाकर्मियों की एंट्री बैन करने पर भी विचार हो रहा है. विशेष परिस्थिति में ही इजाजत दी जाएगी.

Coronavirus Updates: नहीं थम रहा देशभर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा, संक्रमित लोगों की संख्या हुई 5274

और पढ़ें