शामलाजी शामलाजी विष्णु मंदिर ट्रस्ट का विवादित फैसला, छोटे कपड़े पहनकर आने वालों की एंट्री पर रोक

शामलाजी विष्णु मंदिर ट्रस्ट का विवादित फैसला, छोटे कपड़े पहनकर आने वालों की एंट्री पर रोक

  शामलाजी विष्णु मंदिर ट्रस्ट का विवादित फैसला, छोटे कपड़े पहनकर आने वालों की एंट्री पर रोक

शामलाजी: देश में इन​ दिनो उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के महिलाओं के पहनावे के बयान को लेकर बवाल मचा हुआ है. इस बीच गुजरात के प्रसिद्ध धार्मिक स्थल शामलाजी विष्णु मंदिर ट्रस्ट ने भी ऐसा ही एक विवादास्पद फैसला किया है. ट्रस्ट ने छोटे कपड़े (स्कर्ट-बरमूडा) पहनकर आने वाले श्रद्धालुओं के मंदिर में प्रवेश पर रोक लगा दी है. मंदिर ट्रस्ट से मिली जानकारी के अनुसार यह नियम शुक्रवार से ही लागू कर दिया गया है.

मंदिर के बाहर बोर्ड पर लिखा छोटे कपड़े पहनकर मंदिर में प्रवेश न करें:
ट्रस्ट ने मंदिर के बाहर एक बोर्ड भी लगाया है जिसमें लिखा है- दर्शन के लिए आने वाले भाइयों और बहनों से विनती है कि छोटे कपड़े पहनकर मंदिर में प्रवेश न करें. इस पर लोगों मे जमकर चर्चा का विषय बना हुआ है. लोग मंदिर ट्रस्ट के इस आदेश की निंदा कर रहे है. मास्क पहनना अनिवार्य है

छोटे कपडे पहनकर आने वालों को कमेटी देगी वस्त्र:
ट्रस्ट का कहना है कि ऐसे कपड़े पहनकर आने वाले श्रद्धालुओं को मंदिर के बाहर ही रोक दिया जाएगा. हालांकि ट्रस्ट की ओर से दर्शन करने तक के लिए कपड़ों की व्यवस्था की जाएगी. इसके तहत मंदिर के बाहर ही पुरुषों के लिए धोती और पितांबर और महिलाओं के लिए लहंगे की व्यवस्था होगी. जिन्हें पहनकर मंदिर में प्रवेश किया जा सकेगा. 

शामलाजी है गुजरात का प्रसिद्ध धार्मिक स्थल:
शामलाजी गुजरात के अरवल्ली जिले में स्थित एक कस्बा है. जो शामलाजी विष्णु मंदिर के नाम पर है. यह करीब 2,000 साल पुराना मंदिर है. शामलाजी मंदिर मेशवो नदी के किनारे स्थित है. यह श्रीहरि के आठवें अवतार श्रीकृष्ण के श्यामल स्वरूप के नाम पर है. यह गुजरात के प्रसिद्ध धार्मिक स्थलों में से एक है.

ये था उत्तराखंड के सीएम तीरथ सिंह का विवादित बयान:
उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा था कि औरतों को घुटने के पास फटी जींस पहने देखकर हैरानी होती है. ऐसी महिलाएं बच्चों के सामने ऐसे कपड़े पहनेंगी तो उन्हें क्या संस्कार देंगी? उनके इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर उनके खिलाफ टिप्पणी शुरू हो गई है. सोशल मीडिया पर कई महिलाओं ने सीएम रावत के बयान की आलोचना करते हुए रिप्ड जींस के साथ अपनी फोटो शेयर की है.

और पढ़ें