Live News »

काश्तकारों को नई नीति के अनुसार पट्टे किए वितरित
काश्तकारों को नई नीति के अनुसार पट्टे किए वितरित

भीलवाड़ा (नवीन जोशी)। काले सोने के नाम से ख्‍यातनाम अफीम की खेती को लेकर भीलवाड़ा जिला अफीम कार्यालय ने काश्तकारों को नयी नीति के तहत पट्टे वितरण करना शुरू कर दिया है। जिसमें भीलवाड़ा की 4 और चित्‍तौड़गढ़ जिले की 2 तहसीलों के किसानों को पट्टा वितरण किया जा रहा है। यह पट्टा वितरण कार्यक्रम 31 अक्‍टूबर तक जारी रहेगा। वहीं किसानों पर पुरानी अफीम नीति के चलते जो तलवार लटकी हुई थी वो नयी नीति के आने से हट गयी है। जिसके कारण किसानों के चेहरों पर खुशी की लहर है।  

अफीम पट्टा लेने आए किसानों ने कहा कि,"हमारे पट्टे पूर्व में कम अफीम तोल और मार्फिन की कमी के कारण कट गए थे। जिसके कारण हमें पिछले कई वर्षों से अफीम की खेती नहीं कर पा रहे थे। अब जो सरकार ने नयी नीति निकाली है उससे हमें भी पट्टे मिल गये है। इसके कारण इस बार हम खेती भी कर पाएंगे और इस कदम के लिए सरकार को हम धन्‍यवाद देते है।" जिला अफीम अधिकारी एस.के.सिंह ने कहा कि, "पट्टा वितरण के प्रथम चरण में हमने 10 अक्‍टूबर से 18 अक्‍टूबर तक 4 हजार 6 सौ 69 पट्टों का वितरण किया। अब हम सरकार द्वारा जारी नयी नीति के तहत किसानों को पट्टे वितरण कर रहे है। जिसमें ऐसे किसान शामिल है जो पूर्व में किसी कारणवश निरस्‍त हो चुके थे। हम 31अक्‍टूबर तक करीब 5 सौ से 6 सौ किसानों को पट्टे वितरण का लक्ष्‍य रखा है।" सिंह ने यह भी कहा कि, "सरकार ने इस बार किसानों को राहत प्रदान की है और ऐसे किसानों को भी पट्टे दिये जा रहे है। जिन पर पूर्व में एनडीपीएस का मामला चला हो और उन्‍हे कोर्ट द्वारा बरी कर दिया गया हो।"

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें
और पढ़ें

Stories You May be Interested in