Live News »

जिला कलेक्टर नेहा गिरी ने खनन माफिया द्वारा हमले को बताया निराधार 

जिला कलेक्टर नेहा गिरी ने खनन माफिया द्वारा हमले को बताया निराधार 

धौलपुर: बाढ़ प्रभावित गांव में व्यवस्थाओं का जायजा लेने जा रही जिला कलेक्टर नेहा गिरी पर आज खनन माफिया द्वारा हमला होने और फायरिंग होने की खबर सामने आई. सोशल मीडिया पर यह खबर काफी वायरल भी हुई, जिसको लेकर नेहा गिरी ने इन सब को महज अफवाह बताया है. इसे लेकर शाम को जिला कलेक्टर और एसपी मृदुल कच्छावा ने संयुक्त प्रेस वार्ता कर पूरी घटना की जानकारी दी. 

अवैध चंबल रेत से भरे ट्रैक्टर ट्रॉली पर कार्रवाई:
प्रेस वार्ता में जिला कलेक्टर नेहा गिरी ने बताया कि दोपहर में बाढ़ पीड़ित ग्राम पंचायत मोरोली के बड़ा का पुरा गांव में प्रशासनिक व्यवस्थाओं का दौरा करने गई थी. इस दौरान गांव में उन्हें एक अवैध चंबल रेत से भरा ट्रैक्टर ट्रॉली मिला, इस पर ट्रैक्टर ट्रॉली और उसके चालक को पकड़कर पुलिस के सुपुर्द कर दिया. इसकी निगरानी के लिए धौलपुर तहसीलदार को मौके पर तैनात कर दिया गया तथा कलेक्टर दूसरे गांव में प्रशासनिक व्यवस्थाओं का दौरा करने निकल गई. इसके बाद कुछ लोग हाथों में लाठी-डंडे लेकर ट्रैक्टर ट्रॉली से मौके पर आए व पुलिस एवं तहसीलदार के कब्जे से जप्त ट्रैक्टर ट्रॉली व चालक को छुड़ाकर ले गए. 

भारी संख्या में पहुंची पुलिस:
घटना की सूचना मिलते ही कलेक्टर गिरी ने तुरंत कंट्रोल रूम को सूचना दी. इसके बाद भारी संख्या में निहालगंज थाना, सदर थाना व कोतवाली थाना और पुलिस लाइन से पुलिस जाब्ता बड़ापुरा गांव पहुंचा. जहां पुलिस ने आरोपी सुरेंद्र सिंह पुत्र ज्ञान सिंह निवासी बड़ापुरा मोरोली को पकड़ लिया. एसपी मृदुल कच्छावा ने बताया कि पुलिस ने आरोपी सुरेंद्र को गिरफ्तार कर लिया है तथा घटना को लेकर कोतवाली थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है. वहीं पुलिस के कब्जे से छुड़ाए गए ट्रैक्टर ट्रॉली को जप्त करने के लिए पुलिस की कई टीमें गठित की गई है, जो संभावित ठिकानों पर दबिश देकर ट्रैक्टर ट्रॉली को जप्त करने की कोशिश में लगी हुई है. एसपी ने बताया कि फिलहाल सुरेंद्र सिंह और अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. आरोपियों को चिन्हित करने के बाद गिरफ्तारी की जाएगी. वहीं कलेक्टर ने बताया कि घटना को लेकर सोशल मीडिया पर वायरल हुई फायरिंग और हमले की सूचना पूरी तरह निराधार एवं झूठी है. 

.... धौलपुर से विनोद तिवारी की रिपोर्ट 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें
और पढ़ें

Stories You May be Interested in