close ads


मेडिलिस्ट दिव्या का केजरीवाल पर आरोप, मदद का वादा कर फोन तक नहीं उठाया

मेडिलिस्ट दिव्या का केजरीवाल पर आरोप, मदद का वादा कर फोन तक नहीं उठाया

नई दिल्ली। एशियन गेम्स में कुश्ती में कांस्य पदक जीतने वाली महिला पहलवान दिव्या काकरन ने केजरीवाल सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा है कि आपने तब कोई मदद नहीं की, जब मुझे सबसे ज्यादा जरूरत थी। काकरन ने कहा, कॉमनवेल्थ में जब गोल्ड जीता तब भी सीएम केजरीवाल ने बुलाया। मैंने कहा एशियन गेम्स की तैयारी के लिए कुछ चाहिए, लेकिन मेरे लिए कुछ भी नहीं किया। मैंने लिखकर दिया लेकिन मेरा फोन भी नहीं उठाया गया।

सीएम से कहा गरीब बच्चों के बारे में कुछ सोचिए। जिस वक़्त ज़्यादा ज़रूरत रहती है उस वक़्त हमारी सहायता कोई नहीं करता है। काकरन ने कहा, हरियाणा में देखिये खिलाड़ियों को कितना सपोर्ट है। वहां 3 करोड़ मिलते हैं और यहां 20 लाख, हरियाणा में कहते हैं घी दूध है। घी दूध दिल्ली में भी है लेकिन यहां सपोर्ट नहीं है।

दिव्या को सुनने के बाद सीएम केजरवाल ने कहा कि अब तक जो नीतियां थी उसमें कई सारी खामियां थी, उसको सुधारने के काफी प्रयत्न किए। हमारे कामों में अड़चन डाली जा रही है। पहले हमारी नीतियां ऊपर जाकर रोक दी जाती थी लेकिन आज जो हम कर पा रहे हैं क्योंकि सुप्रीम कोर्ट का डिसीजन आया है।
 

और पढ़ें