मेडिकल कोचिंग संस्थानों के मैप पर बीकानेर टॉप, NEET में रहा सर्वश्रेष्ठ

Laxman Raghav Published Date 2019/06/07 11:18

बीकानेर: मेडिकल कोचिंग संस्थानों के मैप पर बीकानेर तेजी से उभर रहा है इस बार उत्तर पश्चिमी राजस्थान में टॉप रैंक्स बीकानेर कोचिंग संस्थान में पढ़े छात्रों की आई है. सीकर ,जोधपुर और अजमेर जैसे शहरों से बेहतर रैंक NEET में बीकानेर से आई. मेडिकल कोचिंग संस्थानों के मैप पर बीकानेर तेजी से उभर रहा है. इस बार उत्तर पश्चिमी राजस्थान में टॉप ब्रांड्स बीकानेर कोचिंग संस्थान में पढ़े छात्रों की आई है. खासतौर पर सिंथेसिस कोचिंग इंस्टीट्यूट डॉक्टर्स फैक्ट्री साबित हो रहा है इस छूट का रिजल्ट इस बार 12 पर्सेंट से भी अधिक रहा एक रिपोर्ट

टॉप 5 में 6 छात्र बीकानेर से
इस बार नीट के रिजल्ट में टॉप फाइव हंड्रेड रैंक्स में से 6 छात्र बीकानेर के हैं. 4 सिंथेसिस के छात्रों ने परचम फहराया तो 2 छात्र आकाश इंस्टीट्यूट से भी चयनित हुए. कई आर्थिक दृष्टि से पिछड़े छात्रों ने भी नीट एग्जाम में सफलता पाई है पान की दुकान पर काम करने वाले शख्स के बेटे ने नीट क्लीयर किया है और उसका श्रेय सिंथेसिस की फैकेल्टी को देते हुए कहता हैकि आर्थिक दिक्कतों के बाद भी संस्थान का सहयोग मिला. तो वहीं 121वीं रैंक प्राप्त करने वाले यश का कहना है कि सोशल मीडिया से दूर रहकर उसने पढ़ाई की और निश्चित तौर पर जेट वनजीवन सुधार और बजाज सर का सुधार और बजाज सरकार सहयोग मिला जिसके चलते संरक्षण हो पाया.

बीकानेर के कोचिंग संस्थान रहे सर्वश्रेष्ठ
निश्चित तौर पर भारत पाकिस्तान सीमा पर स्थित बीकानेर जैसे अपेक्षाकृत छोटे शहर की कोचिंग कोचिंग संस्थान ने वाकई बेहतर मार्गदर्शन दिया जिसके चलते छात्र भी अब श्रेय देने से नहीं चूक रहे हैं. सिंथेसिस कोचिंग संस्थान में सफलता का जश्न भी गुलाल उड़ा कर मनाया गया. बीकानेर में ही नहीं अपितु उत्तर पश्चिमी राजस्थान में सिंथेसिस ने अपने बेहतर फैकेल्टी और क्वालिटी कोचिंग की छाप छोड़ी है. 

डायरेक्टर ने जताई खुशी
संस्थान के डायरेक्टर और प्रबंधक इस पर खुशी जताते हुए कहते हैं कि निश्चित तौर पर छात्रों की मेहनत सबसे पहले है और सही मार्गदर्शन ने ये संभव भी कर दिखाया है लेकिन हमारे लिए अब ये चुनौती भी है कि आगे भी बेहतर रैंक बनाये रखे. मेहनत जज्बे के साथ यदि सही मार्गदर्शन मिल जाए तो मंजिल दूर नहीं ।बीकानेर जैसे छोटे शहर के छात्रों ने डॉक्टर बनकर अपने मां-बाप और खुद के सपनों को साकार किया ही है साथ ही साथ शहर का भी मान बढ़ाया

 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in