दहेज नहीं मिला तो पत्नी को किया दोस्त के हवाले, न्याय के लिए भटक रही पीड़िता

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/07/17 01:54

नागौर: दहेज समाज में फैला एक ऐसा दंश है जिसने कई जिंदगियां तबाह कर दी और कई सुहागनों से मजबूरन उनकी जिंदगी छीन ली. साथ ही कईयों को ऐसी कड़वी यादें दी जो ताउम्र भुलाई नहीं जा सकती. सीकर की रहने वाली विवाहिता के साथ दहेज के खातिर कुछ ऐसा ही हुआ कि सुनने वालों के होश उड़ गए. नागौर जिले की चितावा थाने मे पति व ससुराल पक्ष और पति के दोस्तों के खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद पति और नजदीकी रिश्तेदार की गिरफ्तारी हो चुकी है लेकिन रेप का प्रयास करने वाले युवक की अभी तक गिरफ्तारी नहीं होने पर पीड़िता ने दूसरी बार नागौर एसपी के सामने परिवाद पेश किया है.  

गरीब परिवार में जन्म लेना उसका सबसे बड़ा गुनाह: 
ऐसे में अब नागौर जिला पुलिस अधीक्षक डॉ विकास पाठक ने चितावा थाना अधिकारी को इस मुकदमे की फाइल लेकर तलब किया है. जानकारी के अनुसार विवाहिता का कसूर सिर्फ इतना था कि वो दहेज में गाड़ी नहीं लाई थी, और दहेज में कीमती जेवर नहीं लाई थी, ढेर सारा कैश भी नहीं लाई थी. उसके लिए गरीब परिवार में जन्म लेना ही उसका सबसे बड़ा गुनाह बन गया फिर क्या था, उसके पति ने उसकी मांग सिंदूर से सजाने की बजाय उसके जन्मों का साथ निभाने का वादा किया था लेकिन उसके साथ बैडरूम मे अपने दोस्त को भेज दिया. विवाहिता ने जब इसका विरोध किया तो ससुराल पक्ष के लोगों ने उसके साथ जमकर मारपीट की. मगर सब कुछ जानते-समझते हुए वह अपने ससुराल वालो का हर जुल्म-ओ-सितम सहने लगी और हर बार ससुराल वालों का अत्याचार बढ़ता गया.

पत्नी को किया दोस्त के हवाले: 
हद तो तब हो गई जब एक दिन पति ने दहेज न लाने की उसे ऐसी सजा दे डाली कि किसी की भी रूह कांप जाए. पति ने पहले तो पीड़िता के साथ जमकर मारपीट की और फिर अपने दोस्त के हवाले कर दिया. उसके बाद दोस्त से उसकी पत्नी के साथ जबरन बलात्कार की कोशिश लेकिन उसमें सफल नही हो सका. पीड़िता ने चितावा थाने में जबरन दुष्कर्म के प्रयास और अपने साथ हुई मारपीट का मामला दर्ज करवाया, मगर पुलिस की मिली भगत से मामले में नामजद आरोपी आजतक गिरफ्तार नहीं होने से पीड़िता न्याय की गुहार करती दर-दर भटक रही है. 

...नरपत ज़ोया संवाददाता 1st इंडिया न्यूज नागौर 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in