अंधविश्वास के चलते 4 माह के मासूम को गर्म सलाखों से दागा, हालत गंभीर

अंधविश्वास के चलते 4 माह के मासूम को गर्म सलाखों से दागा, हालत गंभीर

लोहावट(जोधपुर): अंधविश्वास के चलते एक मासूम को गर्म सलाखों से दागने का मामला सामने आया है. मामला लोहावट के फतेहसागर का है जहां 4 माह के मासूम स्वरूप को अंधविश्वास के चलते परिजनों द्वारा गर्म सलाखों से दगवाया. गरम सलाखों के दागने से स्वरूप की तबीयत बिगड़ गई जिसके बाद परिजन उसे लेकर लोहावट अस्पताल पहुंचे. 

मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार पर संकट, कांग्रेस विधायक आएंगे जयपुर 

पिछले 2 दिनों से सांस लेने में दिक्कत 
प्राप्त जानकारी के अनुसार चार माह का स्वरूप अपने ननिहाल में फतेहसागर में था. पिछले 2 दिनों से स्वरुप को सांस लेने में दिक्कत हो रही थी. अंधविश्वास के चलते ननिहाल पक्ष द्वारा मासूम स्वरुप को बीती रात पेट पर गर्म सलाखों से दगाया गया जिसके बाद उसकी की तबीयत बिगड़ गई. तबीयत बिगड़ने पर आज परिजनों द्वारा उसे लोहावट अस्पताल लाया गया जहां शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ कमल किशोर ने मासूम की जांच की और उसका उपचार शुरू किया.

सीएम गहलोत ने सिंधिया पर किया वार, कहा-जनता के विश्वास और विचारधारा के साथ किया विश्वासघात

अंधविश्वास के चलते परिजनों ने उसे गर्म सरिए से दगवा दिया:
चिकित्सक ने बताया की स्वरूप को 2 दिन पूर्व निमोनिया हो गया था जिसके चलते उसे सांस लेने में दिक्कत आ रही थी वही अंधविश्वास के चलते परिजनों ने उसे गर्म सरिए से दगवा दिया जिसके बाद उसकी तबीयत बिगड़ गई है. अभी मासूम को ऑक्सीजन पर रखा गया है और उसे जोधपुर के अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया है. 

और पढ़ें