VIDEO: राजस्थान में विजयादशमी पर हुआ रावण दहन, सादगी से मनाया गया दशहरे का पर्व, बिना पटाखों के जले पुतले  

VIDEO: राजस्थान में विजयादशमी पर हुआ रावण दहन, सादगी से मनाया गया दशहरे का पर्व, बिना पटाखों के जले पुतले  

जयपुर: राजस्थान में कोरोना संक्रमण और उसके बाद लागू हुई गाइडलाइन की वजह से लगातार दूसरे साल दशहरे का पर्व सादगी से मनाया जा रहा है. इस बार जयपुर में चुनिंदा लोगों की मौजूदगी में ही रावण दहन किया जा रहा है. यहां लाखों लोगों को ऑनलाइन दहन दिखाने की तैयारी है. इसके साथ ही जोधपुर, उदयपुर, अजमेर में सांकेतिक तौर पर रावण दहन किया जा रहा है. बाड़मेर, जैसलमेर, पाली और बीकानेर समेत प्रदेश के कई जिलों में इस बार रावण दहन कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया है.

कोटा में रावण दहन:
कोविड गाइडलाइन की पालना में कोटा का राष्ट्रीय दशहरा मेला इस बार स्थानीय मेला बनकर रह गया. 101 फीट के मुकाबले रावण इस बार केवल 25 फीट और मेघनाद-कुंभकर्ण के पुतले 15-15 फीट की सांकेतिक हाइट के ही बनाए गए.हालांकि दहन से पहले सवारी-पूजा और नाभी भेदन की परंपराएं विजयश्री रंगमंच पर जरुर निभायी गई.

अजमेर में हुआ रावण दहन:
बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक विजयदशमी का पर्व आज अजमेर में भी सरकारी निर्देशों और कोरोना गाइडलाइन के बीच मनाया गया. मुख्य समारोह पटेल मैदान में आयोजित नही किया गया, लेकिन शहर के अलग अलग इलाको में छोटे रावण का दहन किया गया. कैसरगंज इलाके में रावण की बगीची में अहंकारी लंकेश का दहन हुआ. विधायक वासुदेव देवनानी सहित मेयर और अन्य जनप्रतिनिधि भगवान श्री राम की पालकी लेकर पहुंचे और रावण के साथ प्रतीकात्मक युद्ध करते हुए उसका दहन किया.

रावण के ससुराल में चोरी छिपे जले रावण :
जोधपुर में रावण के ससुराल में चोरी छिपे रावण के पुतले जले. कोरोना गाइडलाइन के चलते दशहरा आयोजन नहीं हुआ. अलग-अलग गली मोहल्लों में रावण दहन किया गया. दशहरे के अवसर पर रावण के वंशज शोक मनाते हैं. श्रीमाली गोदा परिवार के लोग रावण के वंशज हैं.

विजयादशमी पर रावण दहन:
कोरोना गाइडलाइन और पटाखों पर लगे बैन के बाद जयपुर में भी इस साल दशहरे पर रावण दहन कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया जाएगा. शहर के आदर्श नगर स्थित दशहरा मैदान में जहां सिर्फ सांकेतिक रावण दहन किया जा रहा है. वहीं मानसरोवर में आयोजित होने वाले दशहरे मेले को इस बार रद्द कर दिया गया है. हालांकि मानसरोवर में सद्भावना परिवार की ओर से इस बार रावण दहन कार्यक्रम का ऑनलाइन आयोजन किया जा रहा है. आम आदमी घर बैठे ही दशहरे पर होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम घर बैठे ही देख सकेंगे.

और पढ़ें