जैसलेमर ईडी ने नीरव मोदी पर कसा शिकंजा, जैसलमेर में 12 पवनचक्की जब्त

ईडी ने नीरव मोदी पर कसा शिकंजा, जैसलमेर में 12 पवनचक्की जब्त

ईडी ने नीरव मोदी पर कसा शिकंजा, जैसलमेर में 12 पवनचक्की जब्त

जैसलेमर: मुम्बई में पंजाब नेशनल बैंक की एक शाखा से कथित रूप से 2 अरब डॉलर का कर्ज लेकर भारत से फरार चल रहे भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी के खिलाफ सरकार और प्रवर्तन निर्देशालय अब और अधिक सख्त हो गया है. हाल ही मुम्बई सहित कई अन्य ठिकानों पर कार्रवाई करते हुए ईडी ने नीरव मोदी की करोड़ों की सम्पति जब्त की है. 

सीएम गहलोत ने प्रदेश में सड़क दुर्घटनाएं में कमी लाने के दिए निर्देश, कहा-लापरवाही बरतने वाले वाहन चालकों पर हो कड़ी कार्रवाई

12 पवन उर्जा संयंत्र जब्त:
इसी कड़ी में जैसलमेर जिले मे नीरव मोदी के भाई निशाल मोदी के नाम से पंजीकृत चार शैल कम्पनियों के 12 पवन उर्जा संयंत्रों को जब्त करने की कार्रवाई की गई है.जानकारी के मुताबिक जैसलमेर जिले के जोधा गांव के पास विन वर्ल्ड कंपनी के 800 किलो वॉट की 12 पवन चक्कियां जो की नीरव मोदी के भाई निशाल मोदी के नाम पंजीकृत सोलर एक्पोर्ट, स्टैलर डायमंड, डायमंड आर अस और निशाल मर्चेंडाइंग प्राइवेट लिमिटेड कम्पनी के नाम थी उन्हें हाल ही में जब्त किया गया है.

50 से 52 करोड़ की संपति की गई जब्त:
गौरतलब है कि इन पवन उर्जा संयंत्रों को ईडी द्धारा 2018 में कार्रवाई के दौरान अटैच किया गया था लेकिन अब इसे ईडी ने जब्त कर दिया है. जानकारी के मुताबिक ईडी की इस कार्रवाई के बाद इन पवन उर्जा संयत्रों पर बिजली का उत्पादन बंद कर दिया जाएगा. विशेषज्ञों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक एक विंड मिल प्रोजेक्ट का अनुमानित बाजार मूल्य 4 से 4.50 करोड़ रुपए है ऐसे में ईडी की इस कार्रवाई से लगभग 50 से 52 करोड़ की संपति जब्त की गई है.

विकास दुबे के पकड़े जाने के बाद पपला को पकड़ने की मांग, बहरोड़ पुलिस थाने में दिनदहाड़े दिया था वारदात को अंजाम

और पढ़ें