अलवर सरिस्का टाइगर रिजर्व में बनेगा ईको टूरिज्म सेंटर, 1.5 करोड़ रुपए किए जाएंगे खर्च

सरिस्का टाइगर रिजर्व में बनेगा ईको टूरिज्म सेंटर, 1.5 करोड़ रुपए किए जाएंगे खर्च

सरिस्का टाइगर रिजर्व में बनेगा ईको टूरिज्म सेंटर,  1.5 करोड़ रुपए किए जाएंगे खर्च

अलवर: वन्य जीवों के प्रति जागृति लाने, सरिस्का के बारे में पर्यटकों और आमजन को जानकारी देने के लिए सरिस्का में एक इको टूरिज्म सेंटर बनाया जाएगा. इसके लिए 1.5 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे. अलवर के जिला कलेक्टर शिव प्रसाद नकाते ने कहा कि सरिस्का टाइगर रिजर्व राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में आने से न केवल पूरे देश में जाना जाता है, बल्कि सप्ताह अन्त पर्यटकों के लिए सबसे नजदीक पर्यटक केंद बना हुआ है.

यहां पर आने वाले पर्यटकों को वन्य जीवों एवं बाघों के बारे में जानकारी देने के लिए 1.5 करोड़ की लागत से एक इको केंद्र बनाया जाएगा. इस केंद्र पर ऑडियो विजुअल के माध्यम से आने वाले पर्यटकों को सारिस्का का इतिहास यहां पाये जाने वाले वन्यजीव और बाघों के बारे में जानकारी दी जाएगी.

सरिस्का में पाये जाने वाले प्रत्येक बाघ का विवरण दिया जाएगा. इसके अलावा आस-पास के रहने वाले लोगों और स्कूली बच्चों को भी वन्यजीव एवं बाघ का रहना क्यों जरूरी है. इस बारे में विस्तार से जानकारी दी जाएगी, जिससे कि उनमें वन्यजीवों के प्रति जागृति आ सके. गर्मियों में पानी कि कोई कमी नहीं रहे इसके लिए सोलर पंप लगवाए जाएंगे.

और पढ़ें