VIDEO: शिक्षा विभाग का नवाचार, अब तबादलों के लिए ऑनलाइन देने होंगे आवेदन

Laxman Raghav Published Date 2019/09/10 09:29

बीकानेर: राजस्थान में शिक्षकों के तबादलों को लेकर सियासत अक्सर गर्माती रही है. पिछली सरकार के कार्यकाल में तत्कालीन शिक्षा मंत्री को विधायक द्वारा थप्पड़ तक मारने की घटना हुई. वहीं राजनीतिक हस्तक्षेप से भी तबादलों के आरोप लगते रहे हैं. ऐसे में शिक्षा विभाग ने शिक्षकों के तबादले के लिए इस बार ऑनलाइन आवेदन मांगे है. खास रिपोर्ट:

पारदर्शिता की तरफ एक महत्वपूर्ण कदम:
इस बार शिक्षक तबादलों के लिए ऑनलाइन आवदेन मांगे गए है. इसे पारदर्शिता की तरफ एक महत्वपूर्ण कदम माना जा रहा है. माध्यमिक शिक्षा निदेशक नथमल डिडेल का कहना है कि प्रयास है कि तबादलों को लेकर शिक्षकों के लिए एक पारदर्शी व्यवस्था लागू की जाए. इससे पहले इस बार शिक्षकों के सम्मान के लिए भी इसी तरह ऑनलाइन आवेदन मांगे गए थे और उसके परिणाम बेहतर रहे. 

सीधे पत्रव्यवहार से संभव नहीं:
जानकारी के अनुसार हालांकि मंत्रियों और विधायकों की डिजायर को प्राथमिकता मिलेगी, लेकिन उसके लिए भी शिक्षकों को ऑनलाइन प्रकिया से गुजरना पड़ेगा. पहले की तरह महज सचिवालय से सीधे पत्रव्यवहार से ये संभव नहीं हो सकेगा. शिक्षकों में इस प्रक्रिया को लेकर उत्साह है, वहीं तमाम कवायद के बाद अब भी बहुतेरे शिक्षक तबादलों का आवेदन लेकर निदेशक के कार्यालय में पहुंच रहे है. हालांकि निदेशक नथमल डिडेल विन्रमता से उन्हें ऑनलाइन आवेदन की सलाह देते हैं. शिक्षक नेता महेन्द्र पांडेय कहते हैं कि पहली बार हुआ है, एक बार सकारात्मक होकर परिणाम का इंतजार करना चाहिए. 

क्या है ऑनलाइन तबादला आवेदन की प्रकिया:
—rajasthanshaladarpan.nic.in लॉग इन करके स्टाफ कार्नर में शिक्षक टैब द्वारा आवदेन किया जा सकेगा।
—सामान्य स्थानान्तरण और पारस्परिक स्थानन्तरण दोनों विकल्प उपलब्ध है. 
—स्थानान्तरण हेतु तीन इच्छित विद्यालय, जिले की पंचायत समिति के किसी भी विद्यालय में तथा जिले के किसी भी विद्यालय में या अधिकतम 5 विद्यालयों का चयन किया जा सकेगा. 
—आवदेक की विशेष उपलब्धि हो तो उसे रेखांकित करने के लिए भी एक कॉलम दर्शाया गया है. 

राजस्थान प्राथमिक और माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेश महामंत्री महेन्द्र पाण्डेय हालांकि एक बात जोड़ते है कि इस आवदेन को निदेशक ने प्रक्रिया बताया है, अधिकार नहीं, तो शिक्षक फिर नेताओं के चक्कर लगा रहे है. कुल मिलाकर तारीफ करनी होगी कि राज्य की सरकार ने इस तरह का कदम उठाने की पहल तो की है.

... बीकानेर संवाददाता लक्ष्मण राघव की रिपोर्ट 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in