नई दिल्‍ली: अस्पतालों में सभी सुविधाओं के लिए किए जा रहे है प्रयास, कोरोना की तीसरी लहर के लिए रहना चाहिए तैयार- गडकरी 

अस्पतालों में सभी सुविधाओं के लिए किए जा रहे है प्रयास, कोरोना की तीसरी लहर के लिए रहना चाहिए तैयार- गडकरी 

अस्पतालों में सभी सुविधाओं के लिए किए जा रहे है प्रयास, कोरोना की तीसरी लहर के लिए रहना चाहिए तैयार- गडकरी 

नई दिल्‍ली: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Union Minister Nitin Gadkari) ने बुधवार को आश्वासन दिया कि सरकार महाराष्ट्र सहित देश के कुछ हिस्सों में अस्पतालों में ऑक्सीजन की सुचारू आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए सभी उपाय किए जा रहे हैं. कोविड स्थिति पर एक न्‍यूज चैनल से से बात करते हुए उन्होंने कहा कि बेड बढ़ाने की तत्काल आवश्यकता है और चेतावनी दी है कि कोविड-19 (Covid-19) की तीसरी और चौथी लहर देश को प्रभावित कर सकती है. उन्होंने कहा कि चिकित्सा बुनियादी ढांचे को बढ़ाने से घातक वायरस से कुशलता से लड़ने में मदद मिलेगी. 

जेनेटेक लाइफसाइंसेज आज से वर्धा में दवा का आज से करेगा उत्पादन शुरू:
कोविड-19 मामलों में स्पाइक के कारण रेमेडिसवीर (Remediesvir) की बढ़ती मांग पर गडकरी ने कहा कि जेनेटेक लाइफसाइंसेज (Genetic lifesciences) आज से वर्धा में दवा का उत्पादन शुरू कर देगा। उन्होंने कहा कि कंपनी प्रति दिन 30,000 शीशियों का उत्पादन करेगी. डॉक्टरों द्वारा COVID-19 के उपचार में रेमेडिसविर इंजेक्शन का उपयोग किया जा रहा है. दवा को अस्पताल में भर्ती वयस्कों में प्रतिबंधित आपातकालीन उपयोग के लिए नियामक द्वारा अनुमोदित किया गया है.

भारत 3,00,000 से अधिक दैनिक कोरोना वायरस से जूझ रहा: 
उन्होंने कहा कि इंजेक्शन नागपुर, विदर्भ के अन्य जिलों और महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों में आवश्यकतानुसार वितरित किए जाएंगे. BJP नेता ने कहा कि यह रेमेडिसविर इंजेक्शन की कमी को दूर करेगा. भारत पिछले कुछ दिनों में 3,00,000 से अधिक दैनिक कोरोना वायरस (Daily Corona Virus) के मामलों के साथ महामारी की दूसरी लहर से जूझ रहा है और कई राज्यों के अस्पताल मेडिकल ऑक्सीजन और बेड की कमी से जूझ रहे हैं.

महाराष्ट्र ने मंगलवार को 66,358 नए कोरोना वायरस पॉजिटिव केस और 895 मौत की सूचना दी, जिससे संक्रमणों की संख्या 44,10,085 हो गई और मरने वालों की तादाद 66,179 हो गई. राज्य अब 6,72,434 सक्रिय मामलों के साथ जूझ रहा है. मुंबई में 3,999 नए मामले और 59 मौतें दर्ज की गईं, जिससे कुल मिलाकर 6,35,483 केस और मरने वालों की संख्‍या 12,920 हो गई है. दिन के दौरान महाराष्ट्र के अस्पतालों से कुल 67,752 मरीजों को छुट्टी दी गई, जोकि ठीक होने की संख्या को 36,69,548 तक ले गए.

और पढ़ें