VIDEO: मोटर व्हीकल एक्ट में राज्य की शक्तियों के भीतर राहत देने के होंगे प्रयास : खाचरियावास

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/09/01 06:27

जयपुर: परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा है कि 1 सितम्बर से लागू हुए केन्द्रीय मोटर व्हीकल एक्ट के प्रावधानों के अनुसार परिवहन नियमों का उल्लंघन करने पर लगने वाली भारी कम्पाउण्डिंग राशि में व्यावहारिक राहत देने के प्रयास किए जाएंगे. इसके लिए सोमवार को विभाग के अधिकारियों की बैठक बुलाकर राज्य सरकार की शक्तियों के अनुसार आम आम आदमी को राहत दिए जाने की संभावनाओं के आधार पर निर्णय किया जाएगा. 

अधिक जुर्माना वसूल किया जाना व्यावहारिक नहीं:
खाचरियावास ने यह बात रविवार को सिविल लाइंस स्थित अपने राजकीय निवास पर आयोजित प्रेस वार्ता में कही. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का भी मकसद है कि प्रदेश में सड़क दुर्घटनाओं पर रोक लगे और अमूल्य मानव जीवन बचाए जा सकें. इसके लिए वे कोई कोर कसर बाकी नहीं रखेंगे, लेकिन जुर्माना राशि अधिक होने से जांच एजेंसी या पुलिसकर्मी को देखते ही वाहन चालक के दहशत में गलती करने और दुर्घटना होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं. खाचरियावास ने कहा कि आज मोटर साइकिल जनसाधारण का आम परिवहन साधन है और उस पर इतना अधिक जुर्माना वसूल किया जाना व्यावहारिक नहीं है. कहीं-कहीं तो यह जुर्माना वाहन की कीमत से भी अधिक हो रहा है. ई-रिक्शा चलाने वाले गरीब के लिए 30 हजार रुपए बीमा के लिए जुटाना एक बड़ी चुनौती है. मोटर व्हीकल एक्ट को लेकर केन्द्र सरकार के किसी भी तरह का टकराव नहीं है. बल्कि राज्य और केन्द्र के अच्छे और व्यावहारिक सुझावों का आदान-प्रदान करने से ही दुर्घटनाओं पर प्रभावी रोक संभव है.

ड्राइविंग लाइसेंस बनाने की प्रक्रिया सरल करने पर विचार:
परिवहन मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ड्राइविंग लाइसेंस बनाने की प्रक्रिया सरल करने पर विचार कर रही है. उन्होंने बताया कि मोटर व्हीकल एक्ट के दायरे में पंचायत समिति स्तर पर ड्राईविंग लाइसेंस निर्माण की संभावना पर विचार किया जा सकता है. खाचरियावास ने कहा कि रोडवेज के लेखों की पिछले तीन वर्ष की ऑडिट की जाएगी. रोडवेज में शून्य भ्रष्टाचार की पॉलिसी पर काम किया जाएगा और किसी दोषी अधिकारी-कर्मचारी को बख्शा नहीं जाएगा. खाचरियावास ने बताया कि सरकार रोडवेज की हालत में सुधार के लिए प्रतिबद्ध है. करीब 1150 नई बसों की खरीद की योजना पर काम किया जा रहा है. रोडवेज बस स्टेण्ड के नए टर्मिनल का जल्द ही लोकार्पण कराने के प्रयास किए जा रहे हैं. 

... संवाददाता काशीराम चौधरी की रिपोर्ट 

 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in