close ads


मध्यप्रदेशः शहडोल के सरकारी अस्पताल में तीन दिन में आठ बच्चों की मौत के बाद जागी सरकार,  दिए जांच के आदेश

मध्यप्रदेशः शहडोल के सरकारी अस्पताल में तीन दिन में आठ बच्चों की मौत के बाद जागी सरकार,  दिए जांच के आदेश

भोपाल/ शहडोल: मध्यप्रदेश सरकार ने शहडोल जिले के एक सरकारी अस्पताल में तीन दिन के अंदर आठ बच्चों की मौत के मामले में जांच के आदेश दिए हैं. इन बच्चों को शहडोल जिला अस्पताल के सिक न्यूबॉर्न केयर यूनिट (एसएनसीयू) और पीडियाट्रिक इंटेसिंव केयर यूनिट (पीआईसीयू) में भर्ती कराया गया था.

27 नवंबर से 30 नवंबर के बीच आठ बच्चों ने तोड़ा दमः 
शहडोल के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी राजेश पांडे ने मंगलवार को बताया कि दो तथा तीन साल की आयु के दो और बच्चों की सोमवार रात को मौत हो गई. इन बच्चों को अनूपपुर जिले से इलाज के लिए वहां लाया गया था. इन दो बच्चों की मौत के साथ ही चार माह की उम्र के आठ बच्चों की 27 नवंबर से 30 नवंबर के बीच मौत हो चुकी है. इन बच्चों को जिला अस्पताल के एसएनसीयू और पीआईसीयू में भर्ती कराया गया था. पांडे ने बताया कि फिलहाल जिला अस्पताल के एसएनसीयू और पीआईसीयू में 33 बच्चे भर्ती हैं. 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बच्चों की मौत के कारण को जानने के लिए दिए जांच के आदेशः
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार रात को दो बच्चों की मौत के बाद इस पूरे मामले की जांच के आदेश दिए हैं. चौहान ने अधिकारियों से यह पता करने के लिए कहा है कि क्या इन बच्चों की मौत चिकित्सा कर्मचारियों की लापरवाही के कारण हुई है. चौहान ने कहा कि यदि आवश्यकता हो तो बच्चों के उपचार के लिए चिकित्सा विशेषज्ञों को जबलपुर से शहडोल भेजा जाए. मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी ने मंगलवार को कहा कि स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव को बच्चों की मौत के मामले में जांच कर जल्द रिपोर्ट पेश करने के लिए कहा गया है.
सोर्स भाषा

और पढ़ें