चुनाव पूर्व रंग लाया निर्वाचन विभाग का अभियान, जब्त हुआ करीब 45 करोड़ का नकदी-सामान

Dr. Rituraj Sharma Published Date 2018/12/01 09:46

जयपुर (ऋतुराज शर्मा)। चुनाव पूर्व अपराधिक गतिविधियों की रोकथाम में निर्वाचन विभाग का अभियान रंग लाया है। कुल 44 करोड़ 67 लाख 99 हजार 848 की कीमत की अवैध राशि और सामान जब्त किया है। इनमें अब तक साढ़े 14 करोड़ से ज्यादा की नकदी बरामद की गई है। साथ ही अब तक 2 लाख 11 हजार 869 गैर जमानती वारंट तामील हो चुके हैं। खास रिपोर्ट-

आचार संहिता लगने के साथ ही आपराधिक तत्वों की धरपकड़ और अन्य जरूरी एहतियाती उपाय तेज कर दिए गए हैं। इसके तहत अब तक 

—अब तक 2 लाख 11 हजार 869 गैर जमानती वारंट तामील
—राज्य में 1 लाख 74 हजार 711 लाइसेंसी हथियार हैं जिसमें से 1 लाख 58 हजार 331 जमा हो चुके हैं।
—अब तक 14 करोड़ 50 लाख 5785 अवैध राशि बरामद हुई है।
—3 लाख 86 हजार लीटर अवैध शराब बरामद जिसकी कीमत है 5 करोड़ 95 लाख 47 हजार 889।
—मादक पदार्थों की बरामदगी नारकोटिक्स विभाग द्वारा
—525 किलो गांजा, 20 किलो अफीम बरामद। इसकी कीमत है 50 लाख 24 हजार 80 रुपये।
—मादक पदार्थों की बरामदगी FS/SST द्वारा
—22739 किलो डोडा पोस्त, ब्राउन शुगर 100.5 ग्राम, अफीम दूध -4.827 किलो, अफीम-159.76 किग्रा
—चरस-3.884 किग्रा, भांग-45 ग्राम
—4लाख 47 हजार 920 टेबलेट बरामद, कोरेक्स सिरप-88 लीटर, नशीली दवाइयां 37490, कैप्सूल 980 बरामद।
—6 करोड़ 40 लाख 14 हजार 544 रुपये की है इन आइटम्स की कीमत।

कीमती धातुएं 
—सोने के आभूषण 17.109 किग्रा, 977 मिलीग्राम
—चांदी के आभूषण 559.742 किग्रा बरामद
—इनकी अनुमानित कीमत 6 करोड़ 42 लाख 62 हजार 320

अन्य सामान
—97 कार,18 केम्पर, 43 बाइक्स, 21 एसयूवी, 8 स्कूटी, 30 ट्रक 5 ऑटो, 11 जीप, 2 बस, 4 पिकअप बरामद।
—जिनकी कीमत 10 करोड़ 89 लाख 45 हजार 230 है।

कुल राशि व सामग्री बरामद 
—44 करोड़ 67 लाख 99 हजार 848 की कीमत

और क्या क्या एहतियाती उपाय किये जा रहे हैं
—प्रदेश में निर्वाचन विभाग ने संदिग्ध गतिविधियों पर निगरानी तेज कर दी है।
—वाहनों की जांच के साथ ही अवैध शराब और नशीले पदार्थों की धरपकड़ शुरू तेज हो गई है।
—राजनीतिक दलों के कार्यक्रमों को वीडियो कैमरे में कैद करना जारी है। 
—इन कार्यक्रमों के खर्च को निर्वाचन विभाग राजनीतिक दलों के खाते में शामिल करेगा।
—सभी जिला कलक्टरों को राजनीतिक कार्यक्रमों पर नजर रखने के लिए कहा गया है, वहीं पुलिस ने गश्त को तेज कर दिया है।

विभाग के अधिकारियों के मुताबिक 6 अक्टूबर को आचार संहिता लगने के बाद से ही हर गतिविधि पर चुनाव आयोग की देखरेख में नजर रखी जा रही है। प्रदेशभर में रोजाना होने वाली कार्रवाई की रिपोर्ट भी भारत निर्वाचन आयोग को भेजी जा रही है। निर्वाचन विभाग पुलिस रोजाना होने वाली कार्रवाई की रिपोर्ट विधानसभावार तैयार कर रहा है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

ममता के गढ़ में शाह की हुंकार

EVM हैकिंग को लेकर विवाद, राहुल गांधी पर भाजपा का बड़ा हमला
15वें प्रवासी भारतीय दिवस पर PM Modi का नमो मंत्र
जानिए सर्वार्थसिद्धि योग में किये जाने वाले महा टोटकों के बारे में
10:00 बजे की सुपर फास्ट खबरें | News 360
राहुल गांधी का लकी वाला चकी
\'हलवा समारोह\' के साथ बजट की छपाई शुरू
राहुल की ताशपोशी के लिए \"चकी\" की रणनीति
loading...
">
loading...