नई दिल्ली Election Result 2022: इंकलाब के लिए पंजाब को बधाई, मुख्यमंत्री केजरीवाल ने ट्वीट की भगवंत मान के साथ तस्वीर, पटियाला सीट से हारे कैप्टन अमरिंदर सिंह

Election Result 2022: इंकलाब के लिए पंजाब को बधाई, मुख्यमंत्री केजरीवाल ने ट्वीट की भगवंत मान के साथ तस्वीर, पटियाला सीट से हारे कैप्टन अमरिंदर सिंह

Election Result 2022:  इंकलाब के लिए पंजाब को बधाई, मुख्यमंत्री केजरीवाल ने ट्वीट की भगवंत मान के साथ  तस्वीर, पटियाला सीट से हारे कैप्टन अमरिंदर सिंह

नई दिल्ली/चंडीगढ़: उत्तर प्रदेश, पंजाब समेत पांच राज्य में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे सामने आ रहे हैं. शुरुआती रुझानों में बीजेपी एक बार फिर यूपी, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में सरकार बनाती दिख रही है. जबकि पंजाब में AAP की सरकार बन रही है. पंजाब की पटियाला अर्बन सीट से पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की हार हुई है. आम आदमी पार्टी के अजितपाल सिंह कोहली ने अमरिंदर सिंह को 13 हजार वोटों से मात दी है. चुनाव से पहले ही अमरिंदर सिंह ने कांग्रेस छोड़ अपनी सरकार बनाई थी. पंजाब में चुनाव नतीजे आने के बाद अरविंद केजरीवाल का पहला ट्वीट आया है, उन्होंने भगवंत मान के साथ तस्वीर साझा करते हुए लिखा कि इस इंक़लाब के लिए पंजाब के लोगों को बहुत-बहुत बधाई. 

आपको बता दें कि देश के पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों के लिए डाले गए मतों की बृहस्पतिवार को जारी गणना के बीच भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) राजनीतिक दृष्टि से अहम उत्तर प्रदेश राज्य में समाजवादी पार्टी (सपा) को पछाड़ती हुई और आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब में ऐतिहासिक जीत की ओर आगे बढ़ती दिख रही है.मतगणना के रुझान के अनुसार, भाजपा ने उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा में भी बढ़त बना ली है.

सभी की निगाहें राजनीतिक रूप से अहम उत्तर प्रदेश पर टिकी हैं, जहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार सत्ता में लगातार दूसरी बार काबिज होने की कोशिश कर रही है.उत्तर प्रदेश की कुल 403 सीटों में से 368 सीट के उपलब्ध रुझान के अनुसार, सत्तारूढ़ दल 236 सीटों पर आगे है, जबकि चुनाव प्रचार रैलियों में भारी भीड़ जुटाने में सफल रहे अखिलेश यादव के नेतृत्व वाली सपा 97 सीटों पर बढ़त बनाकर दूसरे स्थान पर है.

इसके अलावा भगवा दल की सहयोगी पार्टी अपना दल (सोनेलाल) नौ सीट पर आगे है. कांग्रेस चार और बसपा तीन सीट पर बढ़त बनाए हुए है. राज्य में भाजपा को 42.8 प्रतिशत और सपा को 31.1 प्रतिशत वोट मिलने का अनुमान जताया गया था. इस राज्य में 80 लोकसभा सीट हैं. दो साल बाद होने वाले आम चुनाव से पहले हुए इन विधानसभा चुनावों को अहम माना जा रहा है. इन चुनावों में आप भी दिल्ली से बाहर अपनी पकड़ मजबूत करने में कामयाब होती दिख रही है.

निर्वाचन आयोग की वेबसाइट के रुझानों के अनुसार, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली पार्टी पंजाब की 117 सीटों में से 89 पर आगे है. कांग्रेस 13 सीट पर बढ़त के साथ दूसरे स्थान पर है. शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के पास सात और भाजपा के पास पांच सीट पर बढ़त है. इसके अलावा जलालाबाद सीट पर पंजाब में शिरोमणि अकाली दल (शिअद) प्रमुख सुखबीर सिंह बादल तथा चमकौर साहिब एवं भदौड़ विधानसभा सीटों पर कांग्रेस नेता एवं मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी समेत कई बड़े नेता अपनी-अपनी सीट पर पीछे चल रहे हैं.

गोवा में सत्तारूढ़ दल कुल 40 में से 18 सीट पर आगे है, जबकि उसकी निकटतम प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस 12 सीट पर बढ़त बनाए हुए है. अभी तक के रुझानों के अनुसार, महाराष्ट्र गोमंतक पार्टी (एमजीपी) सरकार गठन में अहम भूमिका निभा सकती है. फिलहाल एमजीपी छह सीट पर आगे है. गोवा फॉरवर्ड पार्टी (जीएफपी) और आम आदमी पार्टी (आप) एक-एक सीट पर आगे हैं, जबकि निर्दलीय उम्मीदवार तीन सीट पर बढ़त बनाए हुए है.

उत्तराखंड में 70 सीट में 63 सीट के अब तक प्राप्त रुझान के अनुसार, भाजपा 44 सीट पर और कांग्रेस 15 सीट पर आगे है. उत्तराखंड में कांग्रेस के महासचिव और प्रदेश चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हरीश रावत लालकुआं सीट पर भाजपा के मोहन सिंह बिष्ट से पीछे चल रहे हैं. भाजपा नेता एवं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी खटीमा सीट पर पीछे चल रहे हैं. मणिपुर की 60 में से 37 सीटों के उपलब्ध रुझानों के अनुसार, भाजपा 15 और कांग्रेस पांच सीट पर आगे है. नेशनल पीपल्स पार्टी की सात और नगा पीपल्स फ्रंट की पांच सीटों पर बढ़त है.

और पढ़ें