यूरो 2020 फुटबॉल चैम्पियनशिप: रोनाल्डो की नजरें सर्वाधिक गोल के रिकार्ड पर

यूरो 2020 फुटबॉल चैम्पियनशिप: रोनाल्डो की नजरें सर्वाधिक गोल के रिकार्ड पर

 यूरो 2020 फुटबॉल चैम्पियनशिप: रोनाल्डो की नजरें सर्वाधिक गोल के रिकार्ड पर

मैड्रिड: पुर्तागाल के दिग्गज खिलाड़ी और कप्तान क्रिस्टियानो रोनाल्डो 11 जून से शुरू हो रहे यूरो 2020 फुटबॉल चैम्पियनशिप मुकाबले में खिताब के बचाव के साथ राष्ट्रीय टीम के लिए सबसे ज्यादा गोल करने के रिकार्ड को अपने नाम करना चाहेंगे तो वही फ्रांस को विश्व चैम्पियन बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले काइलान एमबापे की काोशिश अपनी टीम को लगातार दूसरी बड़ी खिताब दिलाने की होगी. इन दोनों साथ फीफा के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी (2020) चुने गए पोलैंड के राबर्ट लेवांडोवस्की , केविन डी ब्रुयन, हैरी केन, ब्रूनो फर्नांडीज, ईडन हजार्ड और एंटोइने ग्रिजमैन जैसे दिग्गज यूरो 2020 में में अपनी साख के मुताबिक प्रदर्शन करना चाहेंगे.

रोनाल्डो:
पुर्तगाल की राष्ट्रीय टीम को अलविदा कहने के करीब पहुंच चुके 36 साल के रोनाल्डो अंतरराष्ट्रीय करियर के खत्म होने से पहले एक और रिकार्ड अपने नाम करना चाहेंगे. वह राष्ट्रीय टीम के लिए सबसे ज्यादा गोल के ईरान के अली देई के रिकार्ड से छह गोल दूर है. यूरो 2020 में पुर्तगाल की टीम ग्रुप एफ में है जिसमें हंगरी, जर्मनी और फ्रांस जैसी मजबूत टीमें है. रोनाल्डो को इससे पहले स्पेन और इस्राइल के खिलाफ अभ्यास मैच भी खेलना है. पुर्तगाल को प्रतिभाशाली ब्रुनो फर्नाडीज से भी उम्मीदें होगी जो पिछले साल से शानदार लय में है.

एमबापे:
युवा खिलाड़ी के तौर पर 2018 में फ्रांस को विश्व चैम्पियन बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले एमबापे तीन साल बाद टीम के दिग्गज खिलाड़ियों की सूची में आ गये है। विश्व कप में ग्रिजमैन के अग्रिम पंक्ति में उनकी शानदार जोड़ी बनी थी. बार्सिलोना का प्रतिनिधित्व करने वाले ग्रिजमैन हालांकि लय में नहीं है लेकिन एमबापे के साथ मिलने से वह विरोधियों के लिए खतरनाक हो सकते है.

लेवांडोस्की:
रोबर्ड लेवांडोस्की के शानदार प्रदर्शन के दम पर बायर्न म्यूनिख ने पिछले सत्र में घरेलू और यूरोपीय टूर्नामेंटों का ज्यादातर खिताब अपने नाम किया. पिछले साल के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी भी चुने गये लेवांडोस्की अपनी राष्ट्रीय टीम पोलैंड को भी ऐसी ही सफलता दिलाने के मकसद से यूरो 2020 में उतरेंगे.

केन:
इंग्लैंड के कप्तान केन ने यूरो 2020 के क्वालीफाइंग में सबसे ज्यादा 12 गोल किये थे. वह पिछले विश्व कप के दौरान भी सबसे ज्यादा गोल करने वाले खिलाड़ी बने थे. इंग्लैंड के लिए 2015 में पदार्पण के बाद 34 गोल कर चुके केन पर एक बार टीम को सफलता दिलाने का भार होगा.

डी ब्रुयन:
मैनचेस्टर सिटी को प्रीमियर लीग (ईपीएल) का खिताब दिलाने में अहम भूमिका निभाने वाले डी ब्रुयन की मौजूदगी से बेल्जियम इस यूरोपीय खिताब के प्रबल दावेदारों में से एक है.उनकी और हजार्ड की जोड़ी के दमदार खेल के कारण टीम फीफा रैंकिंग में शीर्ष पर काबिज है.

और पढ़ें