सोशल मीडिया की अफवाह पर परिजनों ने जताई कोरोना पॉजिटिव की आंशका, एसडीएम ने कराया दाह संस्कार

सोशल मीडिया की अफवाह पर परिजनों ने जताई कोरोना पॉजिटिव की आंशका, एसडीएम ने कराया दाह संस्कार

सोशल मीडिया की अफवाह पर परिजनों ने जताई कोरोना पॉजिटिव की आंशका,  एसडीएम ने कराया दाह संस्कार

भीलवाड़ा: जिले के करेड़ा में कोरोना पॉजिटिव से नेगटिव होकर सकुशल घर पहुंची 3 माह की मासूम बच्ची की मौत के बाद परिजनों ने हंगामा खड़ा कर दिया. कारण यह रहा की सोशल मीडिया पर कांट छांट कर एक खबर को प्रस्तुत किया गया. उसी खबर को तथ्यात्मक मानते हुए परिजनों ने प्रशासन को आड़े हाथ ले लिया जिसके बाद प्रशासनिक अधिकारी सहित थानाधिकारी जगदीश प्रसाद ने समझाइश कर मामले को शांत कराया.

कांग्रेस का बड़ा ऑनलाइन अभियान, सोनिया गांधी ने की हर परिवार को 7500 रुपये प्रति माह देने की मांग 

अस्पताल से उसे डिस्चार्ज कर घर भेज दिया गया:
हुआ यूं कि करेड़ा थाना क्षेत्र के एक परिवार को गत दिनों(कोविड-19) संक्रमण हो गया. जिन्हें जिला अस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया. परिवार की महिला व एक 3 माह की बच्ची की कोरोना रिपोर्ट नेगिटिव आने के बाद अस्पताल से उसे डिस्चार्ज कर घर भेज दिया गया. बुधवार को बच्ची की तबियत बिगड़ने के बाद नजदीकी अस्पताल ले जाया गया वहां प्राथमिक उपचार कर घर ले गए जहां बच्ची ने दम तोड़ दिया. उसी दरमियान किसी व्यक्ति में सोशल मीडिया पर बच्ची के कोरोना पॉजिटिव होने की तथ्यहीन खबर वायरल कर दी. जिससे परिजनों के मन मे एक गलत धारण बन गई कि जब बच्ची कोरोना पॉजिटिव थी तो उसे नेगिटिव बता कर घर क्यो भेज दिया गया.

फेफड़े मजबूत करने के लिए खाएंगे ये चीजें तो रोगों से रहेंगे दूर 

बच्ची के पिता को भीलवाड़ा में क्वॉरेंटाइन: 
आज सुबह जब घरवालों ने बच्ची का अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया तो उपखंड अधिकारी महिपाल सिंह, तहसीलदार हरेंद्र सिंह, नायब तहसीलदार ओमप्रकाश शर्मा, थाना प्रभारी जगदीश प्रसाद आदि ने मौके पर पहुंचकर परिजनों से समझाइस की. उपखंड अधिकारी महिपाल सिंह ने गड्डा खोदकर बच्ची का अंतिम संस्कार का कार्यक्रम करवाया. वहीं बताया गया कि बच्ची के पिता को भीलवाड़ा में क्वॉरेंटाइन किया हुआ है. 

और पढ़ें