किसान आंदोलन पर तेंदुलकर के ट्वीट से नाराज हुए मलयाली फैंस, गुस्से में कह दी ये बड़ी बात...

किसान आंदोलन पर तेंदुलकर के ट्वीट से नाराज हुए मलयाली फैंस, गुस्से में कह दी ये बड़ी बात...

तिरुवनंतपुरमः किसान आंदोलन पर क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के ट्वीट से नाराज काफी संख्या में केरलवासी अब टेनिस खिलाड़ी मारिया शारापोवा के सोशल मीडिया पेज का रुख कर रहे हैं और 2015 में इस रूसी खिलाड़ी की आलोचना करने को लेकर खेद प्रकट करते नजर आ रहे हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें  कि उस समय मारिया ने कहा था कि वे किसी सचिन तेंदुलकर को नहीं जानती हैं. जिसके बाद वे काफी ट्रोल हुईं थी. 

फैंस वापस कर रहें हैं मारिया का रुख

दरअसल, लोगों ने शरापोवा द्वारा तेंदुलकर के बारे में एक इंटरव्यू में अनभिज्ञता जताने पर रूसी टेनिस खिलाड़ी की आलोचना की थी. मगर अब अधिकतर संदेशों में पिछली आलोचनात्मक टिप्पणी के लिए खेद जताया जा रहा है और तेंदुलकर की आलोचना की जा रही है. वहीं, कुछ लोग शरापोवा को कोरोना वायरस महामारी कम होने पर भगवान के अपने देश केरल की यात्रा करने और मशहूर त्रिशूर पूरम में शामिल होने का भी न्योता भी दे रहे हैं.

फैंस ने कहा सचिन उस स्तर के व्यक्ति नहीं हैं

मलयालम एवं अन्य दक्षिण भारतीय भाषाओं में सैकड़ों यूजर ने संदेश लिखा है कि शारापोवा आप सचिन के बारे में सही थीं. वह उस स्तर के व्यक्ति नहीं है, जिसे आप जाने. टेनिस स्टार ने बुधवार को ट्वीट किया था कि कोई और भी वर्षों तक भम्रित रहा? उनके इसके ट्वीट के बाद वर्ष 2015 की तरह ही उनके ट्विटर और फेसबुक पेज पर मलयालम में टिप्पणी की बाढ़ आ गई थी. 

सचिन ने की थी देश की तरफदारी 

शरापोवा वर्ष 2015 में मलयाली लोगों के निशाने पर आ गई थी, जब उन्होंने कहा था कि वह तेंदुलकर को नहीं जानती हैं. उल्लेखनीय है कि क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने बुधवार को ट्वीट किया था कि भारत की संप्रभुता से समझौता नहीं किया जा सकता है. विदेशी शक्तियां दर्शक तो बन सकती हैं लेकिन प्रतिभागी नहीं. भारतीय, भारत को जानते हैं और भारत के लिये फैसला लेना चाहिए. एक देश के तौर पर एकजुट रहें. (सोर्स-भाषा)

 

और पढ़ें