कृषि उपज मंडी में लगे मूंग के ढेर, समर्थन मूल्य नहीं मिलने से किसान परेशान

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/09/13 02:02

किशनगढ़ (अजमेर)। किशनगढ़ के जयपुर रोड स्थित कृषि उपज मंडी में मूंग की आवक शुरू हो गई है ।मूंग की आवक होने के बावजूद अभी तक समर्थन मूल्य पर खरीद का कोई अता-पता नहीं है। राज्य सरकार की लेटलतीफी का खामियाजा किसानों को भुगतना पड़ रहा है।

कृषि उपज मंडी दलहन विशिष्ट मंडी होने के कारण आस-पास के गांवों के काश्तकार अपनी उपज बेचने यहां आते है। यहां सर्वाधिक मूंग और चने की आवक होती है, वर्तमान में मूंग की आवक होना शुरू हो गई है। केंद्र सरकार ने मूंग का न्यूनतम समर्थन मूल्य ₹6975 प्रति क्विंटल घोषित किया है इसके बावजूद राज्य सरकार की खरीद का अभी तक अता पता नहीं है। इस कारण काश्तकारों को कम दामों पर मूंग बेचना पड़ रहा है, जिससे काश्तकारों को आर्थिक नुकसान हो रहा है। इसके बावजूद इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। 

कृषि मंडी में मूंग की प्रतिदिन आवक बढ़ती जा रही है वर्तमान में मूंग 4400 से 4800 रुपये प्रति क्विंटल के बीच बेचा जा रहा है। मूंग का औसत मूल्य 4650 रुपये प्रति क्विंटल के बीच बेचा जा रहा है, जो न्यूनतम समर्थन मूल्य से काफी कम है। मंडी परिसर में जगह-जगह मूंग के ढेर दिखाई देने लगे है। मूंग की भगवती फसलों की कटाई हो चुकी है अब पछेती फसलों की कटाई आगामी सप्ताह से शुरू होगी। माह के अंत तक मूंग की अच्छी आवक होना प्रारंभ हो जाएगी। किशनगढ़ पंचायत समिति क्षेत्र में बोई गई मूंग की फसलों में 25 फीसदी से अधिक का नुकसान हुआ है। सावन सूखा निकलने के कारण मूंग की फसल बारिश की कमी से खराब हो गई। शेष फसल के भाव भी ओने पौने मिलने के कारण किसान अपने आप को ठगा सा महसूस कर रहा है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in