कोरोना का डर: CBSE की 12वीं परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल

  कोरोना का डर: CBSE की 12वीं परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल

  कोरोना का डर: CBSE की 12वीं परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल

नई दिल्ली: देश में कोरोना की दूसरी लहर (Second Wave) अपने चरम पर है. वही पर संक्रमण और मौत का आंकड़ा लगातार गतीमान है. ऐसे में अब सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में याचिका दायर कर सीबीएसई (CBSE) की 12वीं की बोर्ड परीक्षा रद्द करने की मांग की गई है.

परिणामों को ऑब्जेक्टिव मेथेड लॉजिक के आधार पर घोषित करने की मांग:
कोर्ट में लगी याचिका में इस वर्ष 12वीं के स्टूडेंट्स के परिणामों को ऑब्जेक्टिव मेथेड लॉजिक (Objective Method Logic) के आधार पर घोषित करने का अनुरोध किया गया है. गौरतलब है कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (Central Board of Secondary Education) की कक्षा 12 की परीक्षा 4 मई से 14 जून के बीच होनी है, लेकिन कोविड-19 महामारी (Covid-19 Pandemic) के मद्देनजर परीक्षा को स्थगित किया गया है.

CBSE ने परीक्षा को कैंसिल करने के लेकर मीडिया रिपोर्ट्स का किया खंडन:
वहीं CBSE ने 12वीं की परीक्षाओं के संबंध में को उन मीडिया रिपोर्ट्स (Media Reports) का खंडन किया, जिनमें दावा किया जा रहा है कि बोर्ड कक्षा 12वीं की परीक्षाओं को रद्द कर सकता है. 12वीं की परीक्षाओं के संबंध में मीडिया रिपोर्ट्स के जवाब में CBSE ने कहा है यह स्पष्ट किया जाता है कि CBSE ने कक्षा 12वीं की परीक्षाओं के संबंध में ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया गया है जैसा कि मीडिया के कुछ वर्गों में अनुमान लगाया जा रहा है. इस मामले में लिए गए किसी भी निर्णय की आधिकारिक तौर (Officially) पर जनता को जानकारी दी जाएगी.
 

सोशल मीडिया के जरीए भी रद्द करने की मांगी की गई:
आपको बता दें कि इससे पहले शिक्षा मंत्रालय (Ministry of Education) ने पहले कहा था कि वे 1 जून को महामारी की स्थिति की समीक्षा करने के बाद कक्षा 12वीं की बोर्ड की परीक्षा को लेकर चर्चा करेंगे. इससे पहले CBSE कक्षा 12वीं के स्टूडेंट्स ने कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के बढ़ते हुए मामलों के मद्देनजर बोर्ड परीक्षा रद्द करने का अनुरोध करते हुए हैशटैग #saveboardstudents नाम से एक ऑनलाइन कैंपेन शुरू किया था. इसके अलावा स्टूडेंट्स ने Change.org पर एक याचिका भी दायर की है जिसमें सरकार से 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा रद्द करने की मांग की गई है.

और पढ़ें