Fight Against Corona: फर्स्ट इंडिया के डिजिटल मंच पर चिकित्सा मंत्री समेत अधिकारियों ने दिए इन सवालों के जबाव

Fight Against Corona: फर्स्ट इंडिया के डिजिटल मंच पर चिकित्सा मंत्री समेत अधिकारियों ने दिए इन सवालों के जबाव

जयपुर: फर्स्ट इंडिया न्यूज की ओर से 'फाइट अगेंस्ट कोरोना' डिजिटल अवेयरनेस कॉन्क्लेव आयोजित किया गया.इस कॉन्क्लेव में चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा, फर्स्ट इंडिया के चैनल हेड जगदीश चन्द्र, जयपुर के कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा, जयपुर सेंट्रल जेल के अधीक्षक राकेश मोहन शर्मा शामिल हुए.वहीं चिरायु हॉस्पिटल के डॉयरेक्टर डॉ.मनोज चौधरी, लक्ष्मणगढ़ स्थित मोदी यूनिवर्सिटी की डीन उमा भारद्वाज ने भी कॉन्क्लेव में शिरकत की.

गहलोत सरकार के कोरोना मैनेजमेंट को सराहा:

इस दौरान गहलोत सरकार के कोरोना मैनेजमेंट को सराहा गया.लोगों को कोविड वैक्सीनेशन के बारे में जागरुक करने पर बात हुई.साथ ही कोरोना से बेपटरी अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने सहित कई मुद्दों पर चर्चा की गई.कॉन्क्लेव में चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा ने कहा कि हमने बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर नहीं होने पर भी 15-16 महीने में 1 लाख 45 हजार RTPCR टेस्ट करने की कैपेसिटी डेवलप कर ली है.PM मोदी भी गहलोत सरकार के कोरोना मैनेजमेंट को सराह चुके हैं.

कोरोना का बेहतरीन मैनेजमेंट:

वहीं चैनल हेड जगदीश चंद्र ने कहा कि CM गहलोत और चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने कोरोना का बेहतरीन मैनेजमेंट किया.जिसे पूरे देश में सराहा गया.तो गहलोत सरकार की दूरदर्शिता से कोरोना की तीसरी संभावित लहर की रोकथाम को लेकर भी पूरी तैयारी कर ली गई हैं.इधर जयपुर कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा ने कहा कि ऑक्सीजन हमारे लिए बहुत बड़ा चैलेंज था.लेकिन फिर भी हमने पीक टाइम में करीब 10 हजार सिलेंडर प्रतिदिन सप्लाई किए थे.इसका नतीजा ये रहा कि राजस्थान में किसी की भी ऑक्सीजन की कमी से मौत नहीं हुई.

और पढ़ें