सैनिक कल्याण बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष प्रेम सिंह बाजौर पर हमला, कार में की तोड़ फोड़; कपड़े तक फाड़े 

सैनिक कल्याण बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष प्रेम सिंह बाजौर पर हमला, कार में की तोड़ फोड़; कपड़े तक फाड़े 

सैनिक कल्याण बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष प्रेम सिंह बाजौर पर हमला, कार में की तोड़ फोड़; कपड़े तक फाड़े 

अलवर: हरियाणा बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे किसानों ने रविवार दोपहर बाद भाजपा नेता और सैनिक कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष रहे प्रेमसिह बाजौर की फॉर्च्यूनर गाड़ी पर हमला कर दिया. पूर्व सैनिक कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष और बीजेपी नेता प्रेम सिंह बाजौर पर हरियाणा बॅार्डर पर  हमला हुआ. बताया जा रहा है कि जब बाजौर अपनी कार से जयपुर से दिल्ली जा रहे थे तब राजस्थान– हरियाणा बॅार्डर पर बैठे किसानों ने बाजौर का विरोध किया. 

किसानों से हुई थी बहस:
बताया जा रहा है के जब बाजौर जयपुर से दिल्ली जा रहे थे तब रास्ते में बाजौर और किसानों के बीच बहस हो गई. बताया जा रहा है कि इसी दौरान कुछ युवकों ने बाजौर की गाड़ी पर हमला बोल दिया. प्रेम सिंह बाजौर के साथ भी मारपीट कर उऩके कपड़े तक फाड़ दिए. उनकी कार में भी भारी नुकसान हुआ है. हालांकि किसानों ने मारपीट से इनकार किया है. लेकिन खुद बाजौर ने किसानों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है.

कार के तोड़े सीसे, बोनट को किया डेमेज:
जिससे गाड़ी के सीसे तोड़ दिए और बोनट को डेमेज कर दिया. किसानों ने प्रेम सिंह बाजौर के साथ भी मारपीट करते हुए कपड़े फाड़ दिए. हमले में बाजोर के शरीर पर चोटें आई हैं. वह भाजपा पार्टी के काम से जयपुर से दिल्ली जा रहे थे. उसके साथ गाड़ी चालक मनोज सिंह और पीए छोटेलाल मौजूद थे. 

किसान आंदोलन के कार पास आते ही लगाए गए बेरिकेट्स:
प्रेमसिंह बाजोर ने बताया कि उनकी गाड़ी जाम में धीरे-धीरे चल रही थी. जैसे ही उनकी गाड़ी किसानों के पास आई तो किसानों ने बेरिकेट्स लगा दिया और भाजपा गो बैक, भाजपा गौ बैक के नारे लगाने लगे. उन्होंने किसानों को टोका तो उन पर हमला कर दिया. बाजोर ने कहा कि मुझे लगता है कि यह किसान नहीं है. शराब, गांजा या दूसरे नशें में हमला किया गया है. दिल्ली में पार्टी का काम जरुरी होने के कारण वह दूसरी गाड़ी से दिल्ली के लिए रवाना हो गए. बाजोर ने कहा कि उन्होंने आज पुलिस थाने में मामला दर्ज नहीं करवाई है. कल सोमवार को प्रेस कांफ्रेस भी करेगें और रिपोर्ट भी दर्ज करवाएगें.
 

और पढ़ें