Live News »

आबादी इलाके में मोबाइल टावर लगाने फूटा लोगों का रोष

आबादी इलाके में मोबाइल टावर लगाने फूटा लोगों का रोष

लालसोट(दौसा): जिले के लालसोट उपखण्ड मुख्यालय के वार्ड 22 में शहर के आजाद चौक के पास आबादी के बीच एक मकान की छत पर रातोरात मोबाइल टावर खड़ा करने से सोमवार सुबह क्षेत्र के लोगों का रोष फूट पड़ा. मौके पर क्षेत्र के सैकड़ों महिला पुरुषों की भीड़ जमा हो गई और इस तरह रातोरात प्रशासन की अनुमति लिए बिना ही टावर खड़ा करने पर भड़क उठे.

दर्जनों लोग अपखण्ड अधिकारी कार्यालय पहुंचे: 
लोगों ने इस तरह अवैध रुप से मोबाइल टावर खड़ा करने पर कड़ा रोष प्रकट करते हुए मकान मालिक के खिलाफ कार्यवाही की मांग व टावर का सामान भी जब्त करने की मांग करने लगे. इस दौरान क्षेत्र के दर्जनों लोग उपखण्ड अधिकारी कार्यालय पर भी इस मामले की शिकायत करने पर पहुंच गए. कुछ देर बाद मौके पर नगर पालिका ईआ नवरत्न शर्मा भी नगर पालिका कर्मचारियों के दल के साथ मौके पर पहुंच गए और बिना अनुमति आबादी क्षेत्र के बीच इस तरह टॉवर लगाने वाले मकान मालिक पंकज शर्मा को कड़ी फटकार भी लगाई.

जबरन खड़ा किया जा रहा टॉवर: 
उन्होंने कहा कि वे दो दिन पूर्व ही क्षेत्र की लोगों की शिकायत पर कर्मचारियों को यह भेज कर आबादी इलाके में मकान की छत पर मोबाइल टावर नहीं लगाने के निर्देश दे चुके है, उसके बाद भी जबरन टावर को खड़ा किया जा रहा है. बाद में पालिका के ईओ ने कर्मचारियों को मौके से सामान को जब्त करने व मोबाइल टावर नहीं लगाने के लिए मकान मालिक को नोटिस भी देने के निर्देश दिए. 

और पढ़ें

Most Related Stories

शादी समारोह में शामिल हो कर घर लौट रहे दो चचेरे भाइयों की सड़क हादसे में मौत

शादी समारोह में शामिल हो कर घर लौट रहे दो चचेरे भाइयों की सड़क हादसे में मौत

लालसोट(दौसा): दौसा जिले के लालसोट उपखण्ड क्षेत्र के नगरियावास गांव के पास एनएच 11 बी पर बीती रात्रि हुए एक सडक़ हाइसे में बाइक सवार दो चचेरे भाइयों की मौके पर ही मौत हो गयी. 

विवादों के घेरे में RU कुलपति, अब महाराजा कॉलेज में गोखले हॉस्टल रिनोवेशन पर सवाल

शादी समारोह में शामिल हो कर गांव लौट रहे थे: 
जानकारी के अनुसार उपखण्ड के थलौज गांव निवासी दो चचेरे भाई एक शादी समारोह में शामिल हो कर गांव लौट रहे थे, इसी दौरान नगरियावास गांव के पास उनकी बाइक व सामने आ रही एक वैन के बीच जोरदार भिड़ंत हो गयी,जिससे दोनो की मौके ही मौत हो गयी. मामले की जानकारी के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनो शव को मुदार्घर पहुंचाया. 

Coronavirus Updates: पिछले 24 घंटे में 18653 नए मामले सामने आए, भारत में मामले बढ़ने की रफ्तार दुनिया में तीसरे नंबर पर 

VIDEO: दौसा में 8वीं की छात्रा से गैंगरेप, वीडियो व फोटो भी वायरल करने का आरोप

VIDEO: दौसा में 8वीं की छात्रा से गैंगरेप, वीडियो व फोटो भी वायरल करने का आरोप

दौसा: जिले में 8वीं की छात्रा से गैंगरेप का मामला सामने आया है. परिजनों ने मामले की शिकायत पुलिस को दी है. इसको लेकर देर रात लालसोट थाने में प्रकरण भी दर्ज हुआ है. दर्ज प्रकरण में वीडियो व फोटो भी वायरल करने का आरोप लगाया है. इसके बाद CO मनराज मीना मामले की गम्भीरता जांच कर रहे हैं. दो आरोपियों से इसको लेकर पूछताछ की जा रही है. हालांकि अभी तक इसके बारे में पूरी जानकारी नहीं मिल पाई है. वहीं पुलिस मामले की गहनता से जांच में जुटी हुई है. 

हाईवे पर तेल फैलने से आधा दर्जन वाहन दुर्घटनाग्रस्त, जीप पलटने से चालक की मौत, एंबुलेंस भी पलटी

हाईवे पर तेल फैलने से आधा दर्जन वाहन दुर्घटनाग्रस्त, जीप पलटने से चालक की मौत, एंबुलेंस भी पलटी

लालसोट(दौसा): दौसा जिले के लालसोट उपखण्ड क्षेत्र से गुजरने वाले कोटा-लालसोट मेगा हाईवे पर शुक्रवार सुबह तेल भरे किसी अज्ञात टेंकर का ढक्कन खुलने के बाद करीब 10 किमी क्षेत्र में रोड़ पर जगह जगह तेल फैल गया. रोड़ पर तेल फैलने से हुई फिसलन के चलते उपखण्ड के गोल्या गांव से लेकर बगड़ी तक करीब आधा दर्जन वाहन भी रोड़ पर दुर्घटनाग्रस्त हो कर पलट गए. इनमे सुंदरपुर मोड़ के पास एक जीप पलटने से जीप के चालक की मौत हो गई.

मौके के लिए रवाना हुई 108 एंबुलेंस भी पलटी: 
पुलिस के अनुसार इस घटना में जीप चालक खटवा गांव निवासी शिव लहरी जोगी की मौत हुई है. इस घटना की जानकारी मिलने पर मौके के लिए रवाना हुई 108 एंबुलेंस भी गोल्या गांव के पास रोड़ पर तेल फैलने से हुई फिसलन के चलते पलट गई. मामले की जानकारी मिलने पर मंडावरी थाना पुलिस भी हरकत में आयी और मौके पर पहुंच कर हालात का जायजा लिया. पुलिस का कहना है कि रोड़ से फिसलन को समाप्त करने के लिए मिट्टी डाले जाने का काम शुरू कर दिया गया है. 

VIDEO: युवती के बोरवेल में गिरने की सूचना पर करीब आठ घण्टे तक चली पांच जेसीबी से खुदाई, लड़की अपने प्रेमी संग जयपुर में मिली

VIDEO: युवती के बोरवेल में गिरने की सूचना पर करीब आठ घण्टे तक चली पांच जेसीबी से खुदाई, लड़की अपने प्रेमी संग जयपुर में मिली

दौसा: जिले के लालसोट के अनुपपुरा गांव में खुले बोरवेल में 17 वर्षीय युवती के गिरने के मामले में अब नया मोड़ आ गया है. युवती प्रेमी के साथ जयपुर में मिली है. पुलिस ने प्रेमी और युवती को हिरासत में ले लिया है. पुलिस की पूछताछ में सामने आया है कि लड़की ने घरवालो को गुमराह करने के लिए खेत में लगे बोरवेल के पास कपड़े छोड़े थे. इसके साथ ही युवती ने हाथ से लिखा पत्र भी वहां छोड़ा था जिसके चलते परिवार के लोगों ने बोरवेल में गिरने की आशंका जताई थी. 

करीब आठ घण्टे तक चली पांच जेसीबी: 
उसके बाद पुलिस और प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर बचाव अभियान चलाया था. करीब आठ घण्टे तक चली पांच जेसीबी से खुदाई की गई लेकिन लड़की का पता नहीं चला. रात में नौ बजे लड़की जयपुर में मिली. 

दौसा: बोरवेल में गिरी 17 वर्षीय युवती, मौके पर मिला हाथ से लिखा पत्र

मौके पर युवती के कपड़े और हाथ का लिखा पत्र मिला: 
जानकारी के अनुसार खेत में लगे बोरवेल के पास मौके पर युवती के कपड़े और हाथ का लिखा पत्र मिला है, जिसमें मैं अब कभी नहीं मिलूंगी की लिखावट होने से आत्महत्या का भी अंदेशा जताया गया. इसके बाद परिजनों ने युवती को बोरवेल में गिर जाने का अंदेशा व्यक्त कर इसकी जानकारी प्रशासन को दी. 

छोटी बहन ने खोला भेद: 
उधर, युवती के बोरवेल में गिरने को लेकर कुछ संदेह होने पर पुलिस को अनोखी की छोटी बहन से पूछताछ में कुछ क्लू मिला. इसके बाद गांव के कुछ युवकों की जानकारी जुटाई तो कड़ी जुड़ती चली गई. अनोखी ने गांव के युवक के मोबाइल से जयपुर में किसी को कॉल किया था. इसके बाद उस नंबर की जानकारी निकाली तो परिजनों ने नंबर परिचित का बताया. 

दौसा: बोरवेल में गिरी 17 वर्षीय युवती, मौके पर मिला हाथ से लिखा पत्र

दौसा: बोरवेल में गिरी 17 वर्षीय युवती, मौके पर मिला हाथ से लिखा पत्र

दौसा: जिले के लालसोट तहसील के अनूपपुरा गांव में  खुले बोरवेल में 17 वर्षीय युवती के गिर जाने से मौके पर हड़कंप मच गया. घटना की जानकारी के मिलने के बाद ASP, CO, SHO सहित कई अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं. वहीं JCB की मदद से खुदाई का काम भी जारी है. 

मौके पर युवती के कपड़े और हाथ का लिखा पत्र मिला: 
जानकारी के अनुसार मौके पर युवती के कपड़े और हाथ का लिखा पत्र मिला है, जिसमें मैं अब कभी नहीं मिलूंगी की लिखावट होने से आत्महत्या का भी अंदेशा जताया जा रहा है. घटना आज सुबह की बताई जा रही है. घटना की जानकारी तब मिली जब खेत में चल रहे बोरिंग के कारणों की तलाश करने के लिे परिवार के लोग खेत में पहुंचे तो कच्चा अनुपयोगी बोरबले जो पथ्तर से ढका हुआ था, उसपर से पत्थर हटा हुआ मिला. पास में ही युवती के कपड़े भी मिले. इसके बाद परिजनों ने युवती को बोरवेल में गिर जाने का अंदेशा व्यक्त कर इसकी जानकारी प्रशासन को दी. 

कपड़े और खत को पुलिस ने जब्त कर लिया:
मौके पर पुलिस तथा प्रशासन पहुंचा और हालात का जायजा लिया. कपड़ों में युवती द्वारा लिखा हुआ एक खत मिला, जिसमें अब मैं नहीं मिलूंगी... सहित अन्य इबारत लिखी हुई मिली. कपड़े और खत को पुलिस ने जब्त कर लिया है. खत के आधार पर आत्महत्या का अंदेशा व्यक्त किया जा रहा है. मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रशासन ने जेसीबी मशीनों से बोरवेल के पास खुदाई का काम कर रही है. 


 

VIDEO: अमरूद चुराने पर मासूम की पेड़ से बांधकर जमकर पिटाई, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो

VIDEO: अमरूद चुराने पर मासूम की पेड़ से बांधकर जमकर पिटाई, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो

लालसोट(दौसा): लालसोट के बगड़ी में मासूम को पेड़ से बांधकर पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. जानकारी के अनुसार इस मासूम बालक की पिटाई अमरूद चुराने पर की गई है. बालक को नहीं पता था कि भूख मिटाने के लिए एक अमरूद खाने पर उसको इतनी यातनाएं झेलनी पड़ेगी. वीडियो में में बालक की उम्र 5 से 7 वर्ष के बीच होना बताई जा रही है. यह पूरा प्रकरण लालसोट के मंडावरी थाना क्षेत्र का बताया जा रहा है. हालांकि फर्स्ट इंडिया इस वायरल वीडियो की पुष्टि नहीं करता है. 
 

कोचिंग जा रही छात्रा का अपहरण कर कार में किया गैंगरेप, पहचान छुपाने के लिए आंखों पर बांधा दुपट्टा

कोचिंग जा रही छात्रा का अपहरण कर कार में किया गैंगरेप, पहचान छुपाने के लिए आंखों पर बांधा दुपट्टा

लालसोट(दौसा): लालसोट में एक कोचिंग छात्रा से कार में गैंगरेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है. आरोपी 3 युवकों ने छात्रा को जबरदस्ती कार में बिठाकर कई किलोमीटर तक उसके साथ गैंगरेप किया. गैंगरेप के बाद आरोपियों ने पीड़िता को जान से मारने की धमकी देकर बीच सड़क पर छोड़ दिया. 

छात्रा की आंखों पर दुपट्टा बांधकर किया दुष्कर्म: 
लालसोट पुलिस के अनुसार वारदात 3 दिन पहले 1 नवंबर को सुबह की बताई जा रही है. पीड़िता अपने गांव से सुबह 5 बजे कोचिंग के लिए निकली थी. उसके बाद होदायली मोड़ के पास कार सवार तीन युवक पहुंचे और छात्रा को जबरदस्ती कार में खींच लिया. उसके बाद आरोपियों ने छात्रा की आंखों पर उसका ही दुपट्टा बांध दिया ताकि वह उनकी पहचान नहीं कर पाए. फिर आरोपी युवकों ने कई किलोमीटर तक पीड़िता को कार में घुमाकर उसके साथ दुष्कर्म किया. 

घबराई छात्रा ने घर पहुंचकर परिजनों को बताई आपबीती: 
पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर आरोपियों की पहचान कर रामलखन, मोहित और लालाराम को गिरफ्तार कर मामला दर्ज कर लिया है. बताया जा रहा है कि तीनों आरोपियों ने पीड़िता के साथ करीब 6 घंटे दुष्कर्म किया. उसके बाद पीड़िता को गंगापुर रोड़ पर उतार कर किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गए. घटना के बाद घबराई हुई छात्रा ने घर पहुंचकर परिजनों को आपबीती बताई. उसके बाद पीड़िता ने तीनों आरोपियों के खिलाफ गैंगरेप का मामला दर्ज करवाया. 


 

मोरेल बांध ओवरफ्लो होने से क्षेत्र के लोगों में उत्साह, प्रतिदिन उमड़ रही हजारों की भीड़

मोरेल बांध ओवरफ्लो होने से क्षेत्र के लोगों में उत्साह, प्रतिदिन उमड़ रही हजारों की भीड़

लालसोट(दौसा): कहावत है बिन पानी सब सून, और जब लंबे इंतजार के बाद चारों और पानी को देखे तो निश्चित रुप से ही हमारा मन भी खुशियों झूम उठता है. मन में कई तरह की उम्मीदें भी हिलोरे मारने लागती है. कुछ यही नजारा है इन दिनों दौसा जिले के लालसोट उपखण्ड के मोरेल बांध पर. 

21 साल बाद पहली बार लबालब हुआ बांध: 
दौसा जिले के लालसोट उपखण्ड क्षेत्र में मौजूद मोरेल बांध 21 साल बाद पहली बार लबालब हुआ है, पूरे ऐशिया महाद्वीप में सबसे बड़ा कच्चा डेम माने जाने वाले इस मोरेल बांध की कुल भराव क्षमता 30 फीट 5 ईंच है और इस बार क्षेत्र में हुर्ई जोरदार बारिश से यह बाध सन 1998 के बाद पहली बार लबालब हो गया है. यह बांध पूरा भरने के बाद इस बांध पर पिछले तीन दिनों से चादर चल रही है. बांध पूरा भरने पर दौसा व सवाई माधोपुर जिले के ग्रामीणों में जबरदस्त उत्साह देखा जा रहा है. प्रतिदिन बांध पर हजारों लोग इस भव्य नजारे को देखने के लिए पहुंच रहे है.

बांध का रख रखाव दौसा जिला प्रशासन के जिम्मे:  
बांध की वेस्ट वेयर से गुजर रहे पानी में दिन भर हजारों लोगों को मौज मस्ती भी करते देखा जा रहा है. मोरेल बांध दौसा एवं सवाई माधोपुर जिले के सैकड़ों गांवों के हजारों किसानों के लाईफ लाईन माना जाता है. बांध का निर्माण कार्य सन 1948 में शुरू होकर चार साल बाद 1952 में पूरा हुआ था. बांध का कैचमेंट क्षेत्र दौसा जिले में होने से इसका रख रखाव भी दौसा जिला प्रशासन के जिम्मे है. इस बांध से दो नहरों द्वारा हर साल रबी की फसलों के लिए नहरों से पानी छोड़ा जाता है. दौसा जिले से गुजरने वाली पूर्व नहर कुल 6705 हैक्टियर भूमि को सिंचाई करती है और सवाई माधोपुर जिले से गुजरने वाली मुख्य नहर से 12 हजार 388 हैक्टियर भूमि पर सिंचाई होती है. 

Open Covid-19