अलवर: शादी समारोह में नगदी-जेवरात चुराने वाले गैंग का पर्दाफाश, चोरी करने के लिए अपनाते थे ये तरीका

अलवर: शादी समारोह में नगदी-जेवरात चुराने वाले गैंग का पर्दाफाश, चोरी करने के लिए अपनाते थे ये तरीका

अलवर: शादी समारोह में नगदी-जेवरात चुराने वाले गैंग का पर्दाफाश, चोरी करने के लिए अपनाते थे ये तरीका

अलवर: जिले की अरावली विहार थाना पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए सांसी गैंग का खुलासा किया है जो शादी समारोह में मैरिज होम से गहने और नकदी चुराने का काम करती थी. पुलिस टीम ने 2800 किलोमीटर तक आरोपियों का पीछा कर दो बाल अपचारी को निरुद्ध कर लिया जबकि एक महिला समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. 

मैरिज होम में जाकर नाबालिग बच्चे करते थे तलाश: 
अलवर के पैराडाइज मैरिज गार्डन में 26 नवंबर को आरोपियों द्वारा वारदात को अंजाम दिया गया था जिसमें 12 तोला सोना-चांदी का सामान और ₹40000 नगद भी थे. जिसके बाद पुलिस ने वारदात करने वाले आरोपियों की पहचान की जो मध्यप्रदेश की सांसी गैंग थी लगातार पीछा करने के बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. आरोपियों के पास दो नाबालिग बच्चे भी थे जो मैरिज होम में जाकर तलाश करते थे कि किसके पास गहने और नगदी का बैग है और मौका पाते ही बैग लेकर फरार हो जाते. बाहर दूसरे आरोपी गाड़ी लेकर तैयार मिलते थे और आरोपी गाड़ी में सवार होकर उस शहर से भाग जाते थे. 

आरोपियों के साथ से कई कीमती सामान बरामद:
वारदात करने में गिरफ्तार आरोपियों में कालू सिंह, राजेश और शिमला है जो मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिले के निवासी हैं. पूछताछ में अलवर के साथ ही मध्य प्रदेश के शिवपुरी में और उरैई में दो और वारदातों को करना स्वीकार किया है. अलवर पुलिस अधीक्षक में अरावली विहार थाने में प्रेस कांफ्रेंस कर इस वारदात का खुलासा किया. आरोपियों के कब्जे से पुलिस ने एक स्विफ्ट कार, चार सोने की चूड़ियां, एक सोने का मंगलसूत्र, एक सोने का हार, 1 जोड़ी सोने के कानों के टॉप्स और तीन मोबाइल हैंडसेट बरामद किए हैं.

और पढ़ें