Live News »

गंगौरा के अंजनी मंदिर की दीवार गिरी, हादसा टला

गंगौरा के अंजनी मंदिर की दीवार गिरी, हादसा टला

पहाड़ी(भरतपुर)। ग्राम पंचायत गंगौरा में स्थित एकमात्र अंजनी माता मंदिर की दीवार गिरने से बड़ा हादसा तो टल गया परंतु अभी तक SDM रघुनाथ खटीक ने मंदिर की तरफ झांक कर नही देखा है। जबकि बड़ा हादसा होने की संभावना बनी हुई है। 

लोगों में प्रशासन की अनदेखी के चलते मंदिर दुर्दसा का शिकार तो हो ही रहा है साथ ही बड़े हादसे को न्योता दे रहा है। साहब की इस लापरवाही के चलते श्रद्धालुओ सहित क्षेत्र के लोगों में भारी आक्रोश है।
 

और पढ़ें

Most Related Stories

गेहूं खरीद को लेकर एसडीएम को सौंपा ज्ञापन, मंडी का ताला जड़ किया विरोध प्रदर्शन

गेहूं खरीद को लेकर एसडीएम को सौंपा ज्ञापन, मंडी का ताला जड़ किया विरोध प्रदर्शन

पहाड़ी(भरतपुर)। गौण मंडी यार्ड में एफसीआई अधिकारियों व ठेकेदार की मिलीभगत के चलते किसानों की गेहूं की फसल खरीद में धांधली व भ्रष्टाचार का मामला गर्माता जा रहा है। जिसको लेकर किसानों ने मंडी का ताला जड़कर नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन के बाद एसडीएम पहाड़ी को ज्ञापन सौंप कार्यवाही की मांग की है।

किसानों का आरोप है कि एफसीआई अधिकारियों व ठेकेदार राजेश खंडेलवाल की मिलीभगत के चलते किसानों के गेहूं का उचित मूल्य न मिलकर सस्ते दामो में गेहूं की खरीद की जा रही है किसानों का आरोप है कि एफसीआई अधिकारियों व ठेकेदार द्वारा गेहूं की फसल की गुणवत्ता पर सवाल खड़े कर सरकारी खरीद से मना कर दिया जाता है। वहीं व्यापारियों द्वारा सस्ते दामो में गेहूं की फसल को खरीद लिया जाता है। इनकी मनमर्जी व कमीशन के खेल के चलते किसान को घंटो तपती धूप में समर्थन मूल्य में अपनी फसल को बेचना चाहता है परंतु खरीद में चल रही धांधली के चलते किसान को सस्ते दामो में फसल बेचने को मजबूर किया जा रहा है। किसानों ने ज्ञापन में साफ तौर पर मिलीभगत का आरोप लगाते हुए बताया है कि किसान की फसल को मंडी व्यापारियों द्वारा सस्ते दामों में खरीद कर एफसीआई के कट्टों में भर दिया जाता है और सरकारी खरीद दिखा दी जाती है ज्ञापन में किसानों की समस्या का शीघ्र समाधान नही किया गया तो किसान आंदोलन पर उतारू हो जाएंगे।

मेवात में चलता लूट का नेटवर्क:-
जिला हैडक्वाटर से 80 किमी दूर मेवात के किसानों का शोषण होना कोई नही बात नही है यहां हर वर्ष ये खरीद में धांधली का मामला सुर्खियों में रहता है किसान और व्यापारियों के बीच लेन देन के चलते किसान व्यापारियों का विरोध करने में सक्षम नही रहते है,क्योंकि किसान समय पड़ने पर किसान को रुपये की जरूरत पड़ने पर व्यापारियों से पैसा लेना पड़ता है जिसके चलते किसान सब तरीके से दबा हुआ महसूस कर घुट घुट कर जीता है।

कैसे चलता धांधली का खेल:-
किसान के गेहूं को सस्ते दामो में खरीदकर ठेकेदार व एफसीआई अधिकारी से मिलीभगत कर एफसीआई के कट्टों में सरकारी खरीद दिखा दी जाती है इसमें चहेतों व विश्वासपात्र लोगों की गिरदावरी को लिया जाता है जो कि बैंक से पैसे निकाल व्यापारी को नगद वापिसी कर दे,इस प्रकार चलता है लूट का नेटवर्क,उधर व्यापारियों व ठेकेदार सहित एफसीआई अधिकारियों की मिलीभगत इसलिए होती है कि ठेकेदार को व्यापारियों के जरिये माल खरीद करनी पड़ती है जिसमे एफसीआई अधिकारी की सहमति भी होती है इस तरह सब मिलकर किसान को ठगा जाता है।

80 किलो गोमांस और अवैध हथियार सहित एक गोतस्कर दबोचा

80 किलो गोमांस और अवैध हथियार सहित एक गोतस्कर दबोचा

पहाड़ी(भरतपुर)। पहाड़ी मेवात क्षेत्र में लगातार बढ़ रही गौ तस्करी की घटनाओं को लेकर मुखबिर की सूचना पर आज पहाड़ी थाना पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 80 किलो गोमांस और अवैध हथियार सहित एक गौ तस्कर को दबोच लिया।

डीएसपी राय सिंह बेनीवाल ने बताया कि कठोल और चानिया कला गांव के जंगलों में बाइक पर खुरजी बनाकर पॉलिथीन में पैक करके हरियाणा बढेढ निवासी मूसा कुरैशी को जाल बिछाकर पुलिस ने दबोच लिया । बाइक और अवैध हथियार 80 किलो को गोमांस को पुलिस ने जप्त कर मामले की जांच में जुटी हुई है।

हम आपको बता दें कि कामां पहाड़ी मेवात क्षेत्र में गौ तस्करी ब गौ मांस बिक्री का धंधा बड़े जोरों पर चल रहा है जिसे लेकर भरतपुर एसपी हैदर अली जैदी के निर्देश पर डीएसपी राय सिंह बेनीवाल के नेतृत्व में टीम गठित कर इन पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए थे जिसके चलते कार्ययोजना बनाकर आज बड़ी कार्रवाई को पुलिस ने अंजाम दिया है। 

हथियारों के बल पर नाबालिग बालिका से गैंगरेप

हथियारों के बल पर नाबालिग बालिका से गैंगरेप

पहाड़ी(भरतपुर)। नाबालिग बालिका से हथियारों के बल पर 4 हवस के भेड़ियों ने गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया है। पीड़िता की मां का आरोप है दुष्कर्मियों ने नाबालिग बालिका की वीडियो क्लिप बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया है। 

उल्लेखनीय है कि गांव सावलेर निवासी नाबालिग का परिवार सावलेर गांव में मेहनत मजदूरी करके अपना पेट पालते है गांव के ही निवासी हवस के भेड़िए आबिद,अजरु,रहीस,अब्बास पीड़िता को अकेला पकड़ उसके साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया,मामले में नामजद तीनो आरोपी की गुंडागर्दी है जो मारपीट व छीनाझपटी करना आम बात है। 

पीड़िता से गैंगरेप के बाद आरोपियो ने वीडियो क्लिप बना पीड़िता को वायरल करने की एवज में कई दिनों तक सामूहिक दुष्कर्म किया उसके बाद भी आरोपियो ने सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। पीड़िता के परिजनों ने पहाड़ी थाने में नामजद मामला दर्ज कराया है जिस पर पीड़िता का पुलिस ने मेडिकल कराया है।

Open Covid-19