AusvInd 2ndODI: बुमराह को शुरूआती स्पैल में दो ओवर देने पर कोहली पर भड़के गौतम गंभीर, कहा- कोई भी कप्तान ऐसा नहीं करता

AusvInd 2ndODI: बुमराह को शुरूआती स्पैल में दो ओवर देने पर कोहली पर भड़के गौतम गंभीर, कहा- कोई भी कप्तान ऐसा नहीं करता

 AusvInd 2ndODI: बुमराह को शुरूआती स्पैल में दो ओवर देने पर कोहली पर भड़के गौतम गंभीर, कहा- कोई भी कप्तान ऐसा नहीं करता

नई दिल्लीः पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर को लगता है कि भारतीय कप्तान विराट कोहली ने अपने मुख्य तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को दूसरे वनडे में शुरूआती स्पैल में केवल दो ओवर देकर रणनीतिक चूक की जो दुनिया में कोई और कप्तान नहीं करेगा. सिडनी में दूसरे वनडे में भारत को 51 रन से हार का सामना करना पड़ा जिससे ऑस्ट्रेलिया ने तीन मैचों की श्रृंखला में 2-0 से अजेय बढ़त बना ली.

गंभीर ने कहा- जसप्रीत बुमराह को शुरूआत में केवल दो ही ओवर देना रणनीतिक नहीं बल्कि बहुत बड़ी गलतीः
गंभीर को लगता है कि दोनों टीमों के बीच अभी तक अंतर यही था कि ऑस्ट्रेलियाई कप्तान आरोन फिंच ने पहले दो वनडे में अपने सबसे सफल तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड का इस्तेमाल बखूबी किया. गंभीर ने ‘ईएसपीएनक्रिकइंफो’ के ‘मैच डे हिंदी’ में कहा कि मुझे यह समझने में मुश्किल हो रही है कि अगर आपके पास जसप्रीत बुमराह जैसी काबिलियत का गेंदबाज है तो आपने उसे शुरूआत में केवल दो ही ओवर दिए. यह रणनीतिक भूल ही नहीं बल्कि ‘बहुत बड़ी गलती’ है. उन्होंने कहा कि मैं बुमराह और मोहम्मद शमी के पांच-पांच ओवर के स्पैल की उम्मीद कर रहा था ताकि वे विकेट हासिल करने की कोशिश करते. इसलिए मुझे नहीं लगता कि दुनिया में कोई भी कप्तान ऐसा होगा जो नई गेंद से जसप्रीत बुमराह को दो ओवर देगा. 

गंभीर ने कहा- ऑस्ट्रेलिया के तीन शीर्ष बल्लेबाज अपनी शानदार फॉर्म में हो तो इनका विकेट लेने का सर्वश्रेष्ठ मौका जसप्रीत बुमराह के पासः
ऑस्ट्रेलिया के तीन शीर्ष बल्लेबाज आरोन फिंच, डेविड वार्नर और स्टीव स्मिथ ने शानदार बल्लेबाजी की और गंभीर को लगता है कि अगर किसी गेंदबाज के पास इन तीनों को आउट करने का मौका था तो यह बुमराह के पास ही था. उन्होंने कहा कि फिंच, वार्नर और स्मिथ, शीर्ष तीन बल्लेबाज अपनी शानदार फार्म में तो इनका विकेट लेने का सर्वश्रेष्ठ मौका किसके पास होगा? जसप्रीत बुमराह के पास. और आप उसे दो ही ओवर देते हो और 10 ओवर के बाद उसे लाते हो, जब गेंद पुरानी हो चुकी है और तब आप उससे इन परिस्थितियों में विकेट चटकाने की उम्मीद करते हो. वह भी इंसान है. इसके बाद उन्होंने उदाहरण दिया कि फिंच ने किस तरह पहले दो मैचों में हेजलवुड का इस्तेमाल किया.
सोर्स भाषा

और पढ़ें