गहलोत सरकार ने लिया विधवा विवाह उपहार राशि 51 हजार रूपये करने का निर्णय

Naresh Sharma Published Date 2019/07/18 08:52

जयपुर: बजट में बीपीएल परिवार की बेटियों के लिए हथलेवा के रूप में ₹21000 की घोषणा करने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सरकार के सामाजिक सरोकार को आगे बढ़ाते हुए एक और बड़ी घोषणा की है. गहलोत ने विधवा विवाह उपहार राशि 30 हजार रूपये से बढ़ाकर 51 हजार रूपये करने का निर्णय किया है. उन्होंने इसके लिए वित्त विभाग से प्राप्त प्रस्ताव को स्वीकृति दे दी है. 

जन घोषणा पत्र की क्रियान्विति के क्रम में लिया निर्णय: 
राज्य सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की ओर से प्रदेश की विधवाओं के पुनर्विवाह के लिए संचालित विधवा विवाह उपहार योजना के अंतर्गत देय राशि 30 हजार रूपये से बढ़ाकर 51 हजार रुपए करने का यह निर्णय जन घोषणा पत्र की क्रियान्विति के क्रम में लिया गया है. 

वरिष्ठ लिपिक के 203 छाया पदों को स्वीकृति: 
एक अन्य बड़ी घोषणा करते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने खान एवं भू-विज्ञान विभाग में वर्कचार्ज मेट्रिक नाकेदारों और अन्य कार्मिकों को पदोन्नति के अवसर देने के लिए वरिष्ठ लिपिक के 203 छाया पद सृजित करने के प्रस्ताव को स्वीकृति दी है.

प्रस्ताव के अनुसार, राजस्थान उच्च न्यायालय द्वारा दिए गए निर्णयों की अनुपालना में खान एवं भू-विज्ञान विभाग में वर्ष 1980 से 1984 के बीच नियुक्त वर्कचार्ज मेट्रिक नाकेदारों तथा कम्प्यूटर ऑपरेटर टाइपिस्ट आदि अन्य कार्मिकों को मेट्रिक नाकेदारों के समकक्ष मानकर इन सबको राजस्थान सबऑडिनेट ऑफिसेज मिनिस्ट्रीरियल सर्विसेज रूल्स, 1957 के अंतर्गत नियमित कर समस्त परिणामिक परिलाभ दिया जाना था. 

203 छाया पद सृजित करने का प्रस्ताव: 
राज्य सरकार के वित्त विभाग ने इसके लिए वर्ष 2007-08 से 2015-16 के बीच वरिष्ठ लिपिकों के स्वीकृत एवं रिक्त पदों की स्थिति के अनुसार उक्त कार्मिकों के लिए वरिष्ठ लिपिक के कुल 203 छाया पद सृजित करने का प्रस्ताव मुख्यमंत्री की स्वीकृति के लिए भिजवाया, जिसे गहलोत ने मंजूरी दे दी है. 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in