Live News »

VIDEO: प्रदेश को जल्द मिलेगा नया DGP, गहलोत सरकार ने UPSC को भेजा 10 नामों का पैनल

VIDEO: प्रदेश को जल्द मिलेगा नया DGP, गहलोत सरकार ने UPSC को भेजा 10 नामों का पैनल

जयपुर: तमाम अटकलों पर विराम लगाते हुए सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार गहलोत सरकार ने आखिरकार नए DGP के लिए UPSC को 10 सीनियर अफसरों का पैनल भेज दिया है. इनमें से यूपीएससी एक नाम का चयन करके राज्य सरकार को भेजेगा और फिर नए डीजीपी के आदेश निकलेंगे. ऐसा इसलिए क्योंकि 30 जून को डीजीपी कपिल गर्ग रिटायर्ड हो रहे हैं. 

बताया जा रहा है कि राज्य सरकार द्वारा यूपीएससी को भेजे गए पैनल में जिन 10 IPS के नाम शामिल हैं, उनमें आलोक त्रिपाठी और NRK रेड्डी भी शामिल हैं. इनके अलावा ओपी गल्होत्रा, राजीव दासोत, बीएल सोनी, एमएल लाठर, भूपेन्द्र सिंह के नाम भी भेजे गए है.

ये हैं प्रबल दावेदार:
ओ पी गल्होत्रा 1985 बैच के अधिकारी हैं, लेकिन उन्हें हटाकर ही गर्ग को डीजीपी बनाया, इसलिए संभावना कम लग रही है. गल्होत्रा जयपुर रेंज के आईजी, एडीजी रह चुके हैं. NRK रेड्डी 1986 बैच के आईपीएस रेड्डी डीजी जेल हैं व स्पेशल डीजी लॉ एंड ऑर्डर रह चुके हैं. वहीं अजमेर, पाली, कोटा सिटी, झुंझुनूं में भी एसपी रह चुके हैं. आलोक त्रिपाठी 1986 बैच के हैं और अभी एसीबी में डीजी हैं. एडीजी ATS, एसीबी एडीजी, एडीजी इंटलीजेंस, एसपी अजमेर, नागौर, हनुमानगढ़, गंगानगर, चूरू, सिरोही रह चुके हैं. वहीं आलोक त्रिपाठी का सितंबर 2020 में रिटायरमेंट है. 

इसके अलावा भूपेंद्र सिंह 1986 बैच के आईपीएस हैं और अभी ATS में डीजी हैं. भूपेंद्र सिंह डीजी जेल, एडीजी जेल, एडीजी प्रशासन व संचार रह चुके हैं. वहीं एसपी सवाई माधोपुर, चूरू, बारां, सीबीआई भी रह चुके हैं. हालांकि दिसंबर में उनका रिटायमेंट है. इनमें आलोक त्रिपाठी और भूपेंद्र यादव प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं. 

और पढ़ें

Most Related Stories

जयपुर एयरपोर्ट से हवाई यात्रा का पांचवां दिन, 20 में से मात्र 9 फ्लाइट का हुआ संचालन

जयपुर एयरपोर्ट से हवाई यात्रा का पांचवां दिन, 20 में से मात्र 9 फ्लाइट का हुआ संचालन

जयपुर: हवाई सेवाओं के संचालन को शुरू हुए शुक्रवार को पांचवा दिन है, लेकिन फ्लाइट्स का संचालन गति नहीं पकड़ पा रहा है. शुक्रवार को भी जयपुर एयरपोर्ट से आधी से ज्यादा फ्लाइट रद्द रहीं. कुल 20 फ्लाइट में से मात्र 9 फ्लाइट का ही संचालन आज हो सका है. सर्वाधिक 6 फ्लाइट स्पाइसजेट एयरलाइन की रद्द हुई. एयर एशिया और एयर इंडिया की 2-2 फ्लाइट रद्द रही. 

टूरिज्म ट्रेड के लिए इस वक्त की सबसे बड़ी खबर, 1 जून से प्रदेश में खोल दिए जाएंगे स्मारक और नेशनल पार्क

इंडिगो की भी एक फ्लाइट रही रद्द: 
वहीं इंडिगो की भी एक फ्लाइट रद्द रही. आपको बता दें कि जयपुर एयरपोर्ट से अलग-अलग एयरलाइंस ने कुल 20 फ्लाइट के संचालन का शेड्यूल दिया हुआ है. लेकिन इनमें से रोजाना करीब आधी फ्लाइट ही संचालित हो रही हैं. शुक्रवार को हालांकि मुंबई के लिए फ्लाइट संचालित हुई है, लेकिन पश्चिम बंगाल के कोलकाता के लिए अभी तक फ्लाइट शुरू करने की अनुमति नहीं मिल सकी है. यात्री भार कम रहने की वजह से एयरलाइंस को फ्लाइट रद्द करनी पड़ रही हैं. 

ये 11 फ्लाइट हुई रद्द:
- स्पाइसजेट की सुबह 5:45 बजे सूरत जाने वाली फ्लाइट SG-2763 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 7:20 बजे जालंधर जाने वाली फ्लाइट SG-2750 हुई रद्द
- एयर इंडिया की सुबह 7:35 बजे आगरा जाने वाली फ्लाइट 9I-687 हुई रद्द
- एयर इंडिया की सुबह 10:45 बजे दिल्ली जाने वाली फ्लाइट 9I-844 हुई रद्द
- इंडिगो की शाम 4:45 बजे कोलकाता जाने वाली फ्लाइट 6E-6156 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 8 बजे मुंबई जाने वाली फ्लाइट SG-279 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 9:45 बजे उदयपुर जाने वाली फ्लाइट SG-6632 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की दोपहर 2:55 बजे वाराणसी जाने वाली फ्लाइट SG-2752 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की दोपहर 2:15 बजे गुवाहाटी जाने वाली फ्लाइट SG-448 हुई रद्द
- एयर एशिया की सुबह 9:15 बजे बेंगलूरु जाने वाली फ्लाइट I5-1721 हुई रद्द
- एयर एशिया की सुबह 11:45 बजे हैदराबाद जाने वाली फ्लाइट I5-1543 हुई रद्द

भाजपा के पूर्व मंत्री भंवर लाल शर्मा का निधन, राजनीतिक हलकों में छाई शोक की लहर

भाजपा के पूर्व मंत्री भंवर लाल शर्मा का निधन, राजनीतिक हलकों में छाई शोक की लहर

जयपुर: दिग्गज भाजपा नेता भंवर लाल शर्मा का शुक्रवार को निधन हो गया. भंवर लाल शर्मा BJP के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष और राज्य सरकार में मंत्री रहे चुके थे.  भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया और सांसद रामचरण बोहरा उनके घर के लिए रवाना हुए. भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम प्रकाश माथुर ने भंवर लाल शर्मा के निधन पर गहरी संवेदना जताई. पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी भंवर लाल शर्मा के निधन पर गहरी संवेदना जताते हुए शोक व्यक्त किया.

टूरिज्म ट्रेड के लिए इस वक्त की सबसे बड़ी खबर, 1 जून से प्रदेश में खोल दिए जाएंगे स्मारक और नेशनल पार्क

ओमप्रकाश माथुर ने जताया शोक:
भंवरलाल शर्मा के निधन पर भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओमप्रकाश माथुर ने शोक जताते हुए कहा कि आत्मा को भीतर तक पीड़ा देने वाला समाचार जयपुर से प्राप्त हुआ. महामारी का ऐसा संकट की उनके अंतिम दर्शन भी ना कर पा रहा हूं. जनसंघ से जनता पार्टी फिर भाजपा पार्षद से 6 बार विधायक रहे चुके है. भंवर लाल शर्मा ने भैरों सिंह जी की हर सरकार में अहम भूमिका निभाई है. कई बार प्रदेश अध्यक्ष अनगिनत भूमिकाओं में उन्हें देखा और उनसे सिखा भी है. उनकी जीवटता , साहस, कार्यकर्ताओं से और आम जनता से उनका आज तक सतत सम्पर्क था. उनके व्यक्तित्व के बारे में हर शब्द छोटा है. मुझे उनका आशीष राजनीति में रहते और अब गांव में जीवन व्यतीत करते समय भी हमेशा प्राप्त हुआ. मेरे लिये व्यक्तिगत क्षति, एक युग का अंत एक पीढ़ी का अवसान. प्रभु अपने श्रीचरणों उन्हें स्थान दे , परिवार को सम्बल प्रदान करें.

राजनीतिक हलकों में छाई शोक की लहर:
भाजपा के पूर्व मंत्री भंवर लाल शर्मा के निधन की खबर से राजनीतिक हलकों में शोक की लहर छा गई. मुख्य सचेतक डॉ.महेश जोशी ने दुख जताया है. कहा-उनका जाना मेरे लिए व्यक्तिगत क्षति है. ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें. परिजनों को इस दुख की घड़ी को सहने की क्षमता प्रदान करें.

वंदे भारत मिशन के तहत 2 फ्लाइट पहुंची जयपुर, कजाकिस्तान और दुबई से एयर इंडिया की फ्लाइट पहुंची जयपुर

वंदे भारत मिशन के तहत 2 फ्लाइट पहुंची जयपुर, कजाकिस्तान और दुबई से एयर इंडिया की फ्लाइट पहुंची जयपुर

जयपुर: विदेशों में फंसे प्रवासी भारतीयों को भारत में लाने का सिलसिला लगातार जारी है. मिशन वंदे भारत के तहत शुक्रवार को दो फ्लाइट जयपुर पहुंची. इनमें 281 प्रवासी राजस्थानी जयपुर पहुंचे. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने एयरपोर्ट पर प्रवासी राजस्थानियों का स्वागत किया.

राजगढ़ SHO आत्महत्या प्रकरण: राजेंद्र राठौड़ समेत 150 लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज !

जयपुर सांसद रामचरण बोहरा भी एयरपोर्ट पर रहे मौजूद:
इस दौरान जयपुर सांसद रामचरण बोहरा भी मौजूद रहे. एक फ्लाइट कजाकिस्तान के अलमाटी से जयपुर पहुंची, जिसमें 98 प्रवासी राजस्थानी पहुंचे. इनमें ज्यादातर मेडिकल के विद्यार्थी जयपुर पहुंचे हैं. इसके अलावा दूसरी फ्लाइट दुबई से जयपुर पहुंची. जिसमें 183 प्रवासी राजस्थानी आए हैं. एयरपोर्ट पर मेडिकल स्क्रीनिंग और इमीग्रेशन, कस्टम की कार्यवाही पूरी करने के बाद सभी यात्रियों को 7 दिन संस्थागत क्वॉरेंटाइन के लिए भेज दिया गया. 

टूरिज्म ट्रेड के लिए इस वक्त की सबसे बड़ी खबर, 1 जून से प्रदेश में खोल दिए जाएंगे स्मारक और नेशनल पार्क

टूरिज्म ट्रेड के लिए इस वक्त की सबसे बड़ी खबर, 1 जून से प्रदेश में खोल दिए जाएंगे स्मारक और नेशनल पार्क

टूरिज्म ट्रेड के लिए इस वक्त की सबसे बड़ी खबर, 1 जून से प्रदेश में खोल दिए जाएंगे स्मारक और नेशनल पार्क

जयपुर: कोरोना रोकथाम के लिए लगाए लॉकडाउन की वजह से बंद पडे टूरिज्म ट्रेड के लिए इस वक्त की सबसे बड़ी खबर मिल रही है. 1 जून से राजस्थान में स्मारक और नेशनल पार्क खोल दिए जाएंगे. 

कुछ दिनों के लिए पर्यटकों का प्रवेश रहेगा निशुल्क: 
स्मारकों में कुछ दिनों के लिए पर्यटकों का प्रवेश निशुल्क रहेगा. नेशनल पार्क में सफारी की दरों में भी कमी की जाएगी. प्रदेश में 18 मार्च से स्मारक और नेशनल पार्क बंद थे. टूरिज्म ट्रेड को अभी तक करीब 4000 करोड़ का नुकसान हो चुका है. होटल, रिजॉर्ट्स भी 1 जून से शुरू किए जा सकते हैं. 

जयपुर सचिवालय में कोरोना की दस्तक, 1 चतुर्थ श्रेणी कर्मी की मां की हुई थी मौत, रिपोर्ट आई थी कोरोना पॉजिटिव 

स्मारक और नेशनल पार्क खोलने का निर्णय:
आपको बता दें कि कोरोना बचाव के लिए लगाये गए लॉकडाउन की वजह से राजस्थान में इमरजेंसी सेवाओं को छोडकर सभी बंद थे. लेकिन लॉकडाउन के चौथे चरण में अधिकांश सभी जगह छूट दी गई है. ऐस में लॉकडाउन का चौथा चरण 31 मई को समाप्त होने जा रहा है. ऐसे में प्रदेश सरकार ने पर्यटन प्रेमियों के लिए स्मारक और नेशनल पार्क खोलने का निर्णय लिया.

राजगढ़ SHO आत्महत्या प्रकरण: राजेंद्र राठौड़ समेत 150 लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज !

स्कूल शिक्षा परिवार का बड़ा निर्णय, अब निजी स्कूल एक साथ नही लेंगे फीस

स्कूल शिक्षा परिवार का बड़ा निर्णय, अब निजी स्कूल एक साथ नही लेंगे फीस

जयपुर: एक बार फिर फर्स्ट इंडिया जनता की आवाज़ बना. निजी स्कूलों की ओर 3 महीने की एक साथ फीस जमा कराने को लेकर फर्स्ट इंडिया ने प्रमुखता से ये मुद्दा उठाया. खबर के बाद अब परिजनों को राहत की सांस मिली है. 

-अब निजी स्कूल एक साथ नही लेंगे फीस
-स्कूल शिक्षा परिवार का बड़ा निर्णय
-शिक्षा मंत्री गोविंद डोटासरा ने भी की निर्णय की तारीफ
-स्कूल शिक्षा परिवार से जुड़े है 30 हज़ार स्कूल

-अब 3 महीने की फीस दे सकेंगे 9 महीने में
-आगामी सत्र में स्कूल नही करेंगे फीस में बढ़ोतरी
-वही फीस माफ को लेकर बनाई जाएगी 3 सदस्यीय कमेटी
-कमेटी में प्रधानचार्य,शिक्षक और परिजन रहेंगे मौजूद

जयपुर सचिवालय में कोरोना की दस्तक, 1 चतुर्थ श्रेणी कर्मी की मां की हुई थी मौत, रिपोर्ट आई थी कोरोना पॉजिटिव 

स्कूल शिक्षा परिवार की ओर से आदेश जारी:
राजस्थान में अब निजी स्कूल 3 महीने की फीस एक साथ नही ले सकेंगे. इसके लिए अब स्कूल शिक्षा परिवार की ओर से शुक्रवार को आदेश जारी किए गए है, जिसमे 3 महीने की फीस 9 महीने के अंदर जमा कर सेकेंगे. वहीं इसके लिए 3 सदस्यीय कमेटी भी बनाई गई है जो कि ये निर्धारित करेगी कि फीस माफ की जाए या फिर नही इसके साथ ही आगामी सत्र से कोई भी निजी स्कूल अपनी फीस में बढ़ोतरी नही कर सकेगा.

फीस 9 महीने के अंतराल में देनी होगी:
साथ ही आगामी सत्र की फीस 9 महीने के अंतराल में देनी होगी. स्कूल शिक्षा परिवार समिति में प्रदेश के करीब 30 हज़ार स्कूल आते है जल्द ही स्कूल शिक्षा परिवार की ओर से हेल्प लाइन नम्बर भी जारी किये जायेंगे जिससे परिजन अपनी समस्या आसानी से समिति को बता सकेंगे साथ ही अगर कोई स्कूल फीस एक साथ लेता है तो उस पर कार्यवाही भी की जाएगी.

राजगढ़ SHO आत्महत्या प्रकरण: राजेंद्र राठौड़ समेत 150 लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज !

जयपुर सचिवालय में कोरोना की दस्तक, 1 चतुर्थ श्रेणी कर्मी की माताजी की हुई थी मौत, रिपोर्ट आई थी कोरोना पॉजिटिव 

 जयपुर सचिवालय में कोरोना की दस्तक, 1 चतुर्थ श्रेणी कर्मी की माताजी की हुई थी मौत, रिपोर्ट आई थी कोरोना पॉजिटिव 

जयपुर: सचिवालय में चतुर्थ श्रेणी कर्मी की माताजी की मौत और बाद में उनके कोरोना पॉजिटिव होने का पता चलने के बाद हड़कंप मच गया. इसके बाद एसएसओ भवन की दूसरी मंजिल को सील कर दिया और भवन खाली कर दिया गया. पावर सेंटर सचिवालय में कर्फ्यूग्रस्त क्षेत्र से कर्मी के आने की गाहे बगाहे सूचना सामने आती रही है, लेकिन अब यहां के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की मां की मौत और फिर उनके कोरोना पॉजिटिव आने से हड़कंप मच गया.

COVID-19: देश में कुल 1 लाख 65 हजार 799 केस, लॉकडाउन के पांचवें चरण पर मंथन शुरू, पीएम आवास पर हुई मोदी और शाह की बैठक

दूसरी मंजिल खाली कराके किया सील: 
आनन फानन में एसएसओ भवन की दूसरी मंजिल खाली कराके उसे सील कर दिया गया. चतुर्थ श्रेणी कर्मी नियमित रूप से सचिवालय आ रहा था. अब उनकी मां की मौत के बाद उसके सैंपलिंग के लिए सचिवालय पंजीयक ने सीएमएचओ,डीओपी और कलेक्टर कार्यालय को पत्र भेज दिया है. कर्मचारी की रिपोर्ट पॉजिटिव आ जाती है तो सचिवालय में कार्यरत सभी अधिकारी और कर्मचारी मुश्किल में आ जाएंगे.

पहले भी हुआ था एक कर्मचारी कोरोना का शिकार:
इससे पहले सचिवालय के प्रथम तल में कार्यरत एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की कोरोनावायरस हो गया था. लेकिन राहत की बात यह थी यह कर्मचारी लॉक डाउन-1 लागू होने के बाद से सचिवालय नहीं आया था. इसलिए खतरा टल गया था. सचिवालय प्रशासन ने मामले की जानकारी मिलते ही तुरंत कदम उठाते हुए एसएसओ बिल्डिंग के सेकंड फ्लोर को खाली करा दिया. सेकंड फ्लोर पर कार्यरत सभी कर्मचारियों को होम क्वॉरेंटाइन रहने के निर्देश दिए हैं. शासन सचिवालय में मुख्य सचिव से लेकर सभी विभागों के उच्च अधिकारियों के कार्यालय हैं. सभी विभागों के प्रमुख नियमित रूप से सचिवालय आ रहे हैं. इसलिए भी मामला संगीन हो जाता है.

छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन, 74 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

VIDEO: पीसीसी प्रवक्ता प्रदीप चतुर्वेदी को फोन पर धमकी, मोदी सरकार के खिलाफ लिखने पर कहे अपशब्द

जयपुर: मोदी सरकार की नीतियों का विरोध करने पर पीसीसी प्रवक्ता डॉ प्रदीप चतुर्वेदी को फोन पर धमकी मिली है. धमकी देने वाले अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ चतुर्वेदी ने मानसरोवर के शिप्रा थाने में मुकदमा दर्ज कराया है. हालांकि धमकी देने वाले का खुलासा अभी नहीं हो पाया है. इस बारे में चतुर्वेदी ने टॉप लीडरशीप को लिखा है.

121 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का संचालन, 4 सप्ताह में 1 लाख 73 हजार प्रवासियों को पहुंचाया गंतव्य तक 

लिखने पर अप्रत्याशित परिणाम भोगने के लिए तैयार रहने को भी कहा: 
चतुर्वेदी ने कहा कि एक अज्ञात व्यक्ति ने मोबाइल फोन पर मेरे लेखों के बारे में अप्रसन्नता जाहिर की और मुझसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विरुद्ध लिखने का कारण पूछा. मैंने अपनी विचारधारा के बारे में उसे अवगत कराया. उस अनजान व्यक्ति ने मुझे धमकी देते हुए कहा कि मैं भविष्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मोदी के विरुद्ध कुछ ना लिखूं. लिखने पर अप्रत्याशित परिणाम भोगने के लिए तैयार रहने को भी कहा. इसके बाद मुझे अपशब्द बोले जिसकी रिकार्डिंग पुलिस को दे दी है. 

रेल मंत्रालय ने की यात्रियों से अपील, पूर्व ग्रसित बीमारी वाले व्यक्ति नहीं करें रेल यात्रा 

मौसम विभाग ने अलर्ट किया जारी, राजस्थान के कई जिलों में चल सकती है तेज धूलभरी आंधी

मौसम विभाग ने अलर्ट किया जारी, राजस्थान के कई जिलों में चल सकती है तेज धूलभरी आंधी

जयपुर: नौतपा का शुक्रवार को पांचवां दिन है, जिससे सूर्य देव उगल रहे है. तेज गर्मी के बीच मौसम विभाग ने शुक्रवार को कई जिलों में अलर्ट जारी किया है. तेज़ धूलभरी आंधी चलने की संभावना जताई गई है. प्रदेश के अलवर, भरतपुर, जयपुर, सीकर, दौसा, झुंझुनूं, बीकानेर,जोधपुर, चूरू,हनुमानगढ़,नागौर,श्रीगंगानगर जिले में अलर्ट जारी किया है. वहीं तापमान में गिरावट से गर्मी से राहत मिली है. शुक्रवार दोपहर 12 बजे तक का प्रमुख जिलों में तापमान में गिरावट दर्ज की गई है. किसी भी जिले का तापमान आज 45 डिग्री तक नहीं पहुंचा है. चूरू में 39.6 डिग्री, बीकानेर 36 डिग्री, गंगानगर 34 डिग्री और जयपुर में 35 डिग्री तापमान दर्ज किया गया है. 

121 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का संचालन, 4 सप्ताह में 1 लाख 73 हजार प्रवासियों को पहुंचाया गंतव्य तक

गुरुवार को बदला मौसम का मिजाज:
नौतपा के बीच पिछले 4 दिन से पूरा प्रदेश तप रहा था. इसमें गुरुवार को कुछ राहत मिली. प्रदेश के कुछ इलाकों में गुरुवार को मौसम ने पलटा खाया और बारिश हुई. वहीं भरतपुर में बारिश हुई तो धौलपुर के कुछ इलाकों में तेज आंधी आई. भीलवाड़ा के ग्रामीण इलाकों में बारिश के साथ ओले गिरे. 

कोरोना वायरस संक्रमण फैलाने पर क्लीनिक संचालक सहित 4 के विरुद्ध प्रकरण दर्ज

1 जून तक आंधी बारिश का अलर्ट जारी:
सवाई माधोपुर में गुरुवार शाम 4 बजे अंधड़ के साथ कुछ देर बारिश व ओले गिरे. आसमान में घने काले बादल छा गए और देखते ही देखते बरसात होनी शुरू हो गई. कई दिनों की गर्मी के बाद ठंडी हवा चलने से मौसम खुशनुमा हो गया और लोगों ने राहत की सांस ली. मौसम विभाग ने 1 जून तक 21 जिलों में आंधी बारिश का अलर्ट जारी किया है.

Open Covid-19