Gehlot की Open VC: कोरोना में राजस्थान रहा Extra ऑर्डिनरी, अब वैक्सीनेशन पर फोकस करना होगा

Gehlot की Open VC: कोरोना में राजस्थान रहा Extra ऑर्डिनरी, अब वैक्सीनेशन पर फोकस करना होगा

Gehlot की Open VC: कोरोना में राजस्थान रहा Extra ऑर्डिनरी, अब वैक्सीनेशन पर फोकस करना होगा

जयपुर: प्रदेश में कोरोना (Covid) के मामले कम होने के साथ ही अब वैक्सीनेशन (Vaccination) पर फोकस किया जा रहा है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने वीसी (VC) के जरिए पंचायत स्तर से लेकर ब्लॉक और जिला लेवल तक वैक्सीनेशन (Vaccination) पर संवाद किया. वीसी में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कोरोना की हर लहर में रजस्थान एक्स्ट्रा ऑर्डिनरी (Extra Ordinary) रहा है. कोरोना मैनेजमेंट पर राजस्थान सरकार ने एक अचीवमेंट हासिल किया है.

राजस्थान में एक्स्ट्रा ऑर्डिनरी रही कोरोना में व्यवस्था:
गहलोत ने कहा कि मुझे दो वैक्सीन लगी थी, मुझे भी कोरोना हो गया. लेकिन माइल्ड (Miled) होने से जान का खतरा नहीं रहा. राजस्थान की व्यवस्था एक्स्ट्रा ऑर्डिनरी रही. पूरे देश में वैक्सीनेशन में महाराष्ट्र (Maharashtra) और राजस्थान टॉप पर थे. भारत सरकार (Central Government) ने भी तारीफ की.

राजस्थान रोज 15 से 20 लाख वैक्सीन के डोज लगाने की क्षमता रखता है:
हमारी रोज की कैपेसिटी (Capacity) 15 से 20 लाख वैक्सीन रोज लगाने की है. केंद्र सरकार जब तक पूरी वैक्सीन डोज नहीं मिलेगी, तब तक इस क्षमता का क्या फायदा. गहलोत ने कहा कि एक सर्वे में सामने आया कि राजस्थान में वैक्सीन लगाने से मना करने वाले बहुत कम लोग हैं. सर्वे में केवल 10 फीसदी लोग ही ऐसे थे, जिन्होंने वैक्सीन लगावाने से मना किया.

स्वास्थ्य मंत्री बोले- राजस्थान वैक्सीनेशन में अव्वल:
स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा (Health Minister Raghu Sharma) ने कहा कि राजस्थान सरकार (Government of Rajasthan) वैक्सीनेशन में अव्वल है. हमारी बेवजह खूब आलोचना की गई लेकिन हमने वैक्सीनेशन की रफ्तार नहीं रुकने दी. अभी भी हम एक दिन में 15 ​लाख वैक्सीनेशन की क्षमता रखते हैं. केंद्र सरकार हमें कम से कम 60 लाख वैक्सीन की डोज तो एडवांस दे. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Union Minister Prakash Javadekar) कह रहे हैं कि दिसंबर तक सबको वैक्सीनेट कर देंगे, लेकिन रोडमैप (Roadmap) अब तक नहीं बताया.

मास्क की अनिवार्यता को लेकर राजस्थान ने बनाया कानून:
धारीवाल ने कहा, विदेशों में यह पूछा जा रहा है कि अकेला भारत ही कोरोना से इस तरह प्रभावित हुआ. केवल भाषण होते रहे धरातल पर कुछ हुआ नहीं, इसलिए यह सब हुआ. देश के किसी राज्य में मास्क (Mask) की अनिवार्यता का कानून नहीं है, हमारे यहां मास्क लगाने को कानून बनाकर अनिवार्य किया गया है.

लक्ष्य बनाकर जल्द से जल्द करना होगा वैक्सीनेशन: जोशी
विधानसभा स्पीकर CP जोशी ने कहा कि हमें लक्ष्य बनाकर वैक्सीनेशन करना होगा. हमारा 18 से 45 साल एजग्रुप का सेक्शन बचा हुआ है, उसे लक्ष्य बनाकर वैक्सीनेट करना होगा. प्रिवेंटिव डिपार्टमेंट (Preventive Department) के पास पूरे डेटा होने चाहिए. राजस्थान पहला प्रदेश होना चाहिए, जहां 70 फीसदी वैक्सीनेशन जल्द से जल्द पूरा करें, तभी हम तीसरी लहर (Third Wave) को रोक पाएंगे.

एक्सपर्ट बोले- वैक्सीन हेलमेट की तरह:
CM के कोरोना कोर कोर ग्रुप से जुड़े एक्सपर्ट डॉ. वीरेंद्र सिंह ने कहा कि कोरोना वैक्सीन हेलमेट की तरह है, इंफेक्शन से नहीं बचाता है मौत से बचाता है. तीसरी वेव में दो तीन माह का हमें वक्त मिला है. हमें ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगा देनी चाहिए.

और पढ़ें