Live News »

370 हटाने के विरोध में श्रीनगर पहुंचे गुलाम नबी आजाद की एयरपोर्ट से ही वापसी

370 हटाने के विरोध में श्रीनगर पहुंचे गुलाम नबी आजाद की एयरपोर्ट से ही वापसी

श्रीनगर: कांग्रेस जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को कमजोर किए जाने का विरोध कर रही है. राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद आज पार्टी के नेताओं के साथ बैठक करने श्रीनगर पहुंचे. लेकिन प्रशासन ने उन्हें एयरपोर्ट पर ही रोक दिया. आजाद को दोपहर 3.30 बजे की फ्लाइट से अगली फ्लाइट से वापस दिल्ली भेजा जाएगा. उनके साथ जम्मू-कश्मीर कांग्रेस के अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर भी आज सुबह ही श्रीनगर पहुंचे थे.

गुलाम नबी आजाद ने केंद्र सरकार पर बोला तीखा हमला:  
गुलाब नबी आजाद ने राज्यसभा में मोदी सरकार का पुरजोर विरोध करते हुए इसे गैर संवैधानिक बताया था. वहीं आज भी श्रीनगर रवाना होने से पहले गुलाम नबी आजाद ने केंद्र सरकार पर तीखा हमला बोला. आजाद ने अजित डोभाल के वीडियो पर निशाना साधते हुए कहा कि कि आप पैसा देकर किसी को भी साथ ला सकते हैं. उन्होंने कहा कि भारत के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी राज्य को केंद्र शासित प्रदेश बना दिया हो और वहां पर कर्फ्यू लगा हो. 

बता दें कि बुधवार को एक वीडियो सामने आया था, जिसमें अजित डोभाल शोपियां में आम कश्मीरियों के साथ सड़क पर खाना खाते हुए दिखे थे. इसके साथ ही कई जगह उन्होंने सीआरपीएफ, पुलिस के जवानों को संबोधित भी किया था. 

बयान पर भाजपा का पलटवार: 
भाजपा गुलाम नबी आजाद के इस बयान पर भड़क गई है. भाजपा नेता शाहनवाज हुसैन ने कहा है कि आजाद को इस बयान पर माफी मांगनी चाहिए, क्योंकि उनका यह बयान अब पाकिस्तान इस्तेमाल करेगा. उन्होंने कहा कि अजित डोभाल वहां लोगों से मिलकर जायजा ले रहे हैं, ऐसे में आप यह कैसे कह सकते हैं कि पैसा लेकर किसी को भी साथ लाया जा सकता है. 
 

और पढ़ें

Most Related Stories

CBSE Board 10th Results : 10वीं का रिजल्ट जारी, cbseresults.nic.in पर करें चेक

CBSE Board 10th Results : 10वीं का रिजल्ट जारी, cbseresults.nic.in पर करें चेक

नई दिल्ली: सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने 10वीं का रिजल्ट जारी कर दिया है. इसके साथ ही CBSE 10th की परीक्षा देने वाले करीब 18 लाख बच्चों का इंतजार भी खत्म हो गया है. केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी. CBSE Class 10th में 91.46% स्टूडेंट्स पास हुए हैं. जिसमें 93.31% लड़कियां और 90.14% लड़के पास हुए हैं. CBSE 10वीं का रिजल्ट http://cbse.nic.in/, http://cbseresults.nic.in/और http://results.nic.in/ पर चेक कर सकते हैं. 

बता दें कि 13 जुलाई को CBSE 12वीं का रिजल्ट घोषित किया जा चुका है. इस बार 12वीं में 88.78% स्टूडेंट्स पास हुए है. जिसमें दिल्ली जोन में 94.39 प्रतिशत रिजल्ट रहा है. CBSE 12वीं की परीक्षा में लड़कियों ने बाजी मारी है. इस बार 12वीं में लड़कियों का रिजल्ट 92.15 प्रतिशत रहा है. पिछले साल कुल 83.40 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए थे.

युवाओं को पीएम मोदी का संबोधन- 21वीं सदी में स्किल युवाओं की सबसे बड़ी ताकत

युवाओं को पीएम मोदी का संबोधन- 21वीं सदी में स्किल युवाओं की सबसे बड़ी ताकत

नई दिल्ली: वर्ल्ड यूथ स्किल डे के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज युवाओं को संबोधित किया. प्रधानमंत्री ने कहा कि 21वीं सदी में स्किल युवाओं की सबसे बड़ी ताकत है. आज हमारे युवा कई नई बातों को अपना रहे हैं. स्किल की ताकत इंसान को कहां से कहां पहुंचा सकती है. एक सफल व्यक्ति की बहुत बड़ी निशानी होती है कि वो अपनी स्किल बढ़ाने का कोई भी मौका जाने ना दे.

विधानसभा स्पीकर डॉ. सीपी जोशी ने 19 विधायकों को जारी किए नोटिस, 3 दिन में मांगा जवाब 

छोटी-छोटी स्किल ही आत्मनिर्भर भारत की शक्ति बनेंगी: 
उन्होंने कहा कि कोरोना के इस संकट ने World Culture के साथ ही Nature of Job को भी बदलकर के रख दिया है. देश में अब श्रमिकों की मैपिंग का काम शुरू किया गया है, जिससे लोगों को आसानी होगी. पीएम ने कहा कि छोटी-छोटी स्किल ही आत्मनिर्भर भारत की शक्ति बनेंगी. स्किल के प्रति अगर आप में आकर्षण नहीं है, कुछ नया सीखने की ललक नहीं है तो जीवन ठहर जाता है. एक रुकावट सी महसूस होती है. 

गहलोत मंत्रिमंडल विस्तार पर गंभीर संशय, विस्तार से पहले सरकार को हासिल करना होगा विश्वासमत! 

स्किल के प्रति आकर्षण, जीने का उत्साह देता है:
पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना संकट में लोग पूछते हैं कि आखिर आज के इस दौर में आगे कैसे चला जाए. ऐसे में इसका एक ही मंत्र है कि आप स्किल को मजबूत करें. स्किल के प्रति आकर्षण, जीने का उत्साह देता है. स्किल सिर्फ रोजी-रोटी और पैसे कमाने का जरिया नहीं है. जिंदगी में उमंग चाहिए, जीने की जिद चाहिए, तो स्किल हमारी ड्राइविंग फोर्स बनती है, हमारे लिए नई प्रेरणा लेकर आती है. अगर कुछ नया सीखने की ललक नहीं है तो जीवन ठहर जाता है.


 

भारत में नकली अयोध्या बताकर घर में ही घिरे पीएम केपी ओली

भारत में नकली अयोध्या बताकर घर में ही घिरे पीएम केपी ओली

काठमांडू: नेपाल (Nepal) के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली (KP Sharma Oli) ने दावा किया कि भारत ने सांस्कृतिक अतिक्रमण के लिए नकली अयोध्या का निर्माण किया है. जबकि, असली अयोध्या नेपाल में है. ओली ने सवाल किया कि उस समय आधुनिक परिवहन के साधन और मोबाइल फोन (संचार) नहीं था तो राम जनकपुर तक कैसे आए? उन्होंने दावा किया कि लेकिन, हमने भारत में स्थित अयोध्या के राजकुमार को सीता नहीं दी. बल्कि नेपाल के अयोध्या के राजकुमार को दी थी. अयोध्या एक गांव हैं जो बीरगंज के थोड़ा पश्चिम में स्थित है. भारत में बनाया गया अयोध्या वास्तविक नहीं है. 

Rajasthan Political Crisis: आज फिर होगी कांग्रेस विधायक दल की बैठक, सचिन पायलट को भी बुलाया 

बेतुकी टिप्पणी पर वे अब घर में घिरते नजर आ रहे:  
वहीं ओपी की इस बेतुकी टिप्पणी पर वे अब घर में घिरते नजर आ रहे हैं. सोशल मीडिया पर ओली के इस बयान का मजाक किया जा रहा है, इसके साथ नेपाल के कई बड़े नेता भी इस टिप्पणी को लेकर आपत्ति जाहिर कर रहे हैं. इससे पहले भी नेपाली कम्युनिस्ट पार्टी (NCP) पहले ही ओली को भारत विरोधी बयानों के लिए चेतावनी दे चुकी है. 

धर्म राजनीति और कूटनीति से ऊपर: 
नेपाली लेखक और पूर्व विदेश मंत्री रमेश नाथ पांडे ने ट्वीट किया है कि धर्म राजनीति और कूटनीति से ऊपर है. यह एक बड़ा भावनात्मक विषय है. अबूझ भाव और ऐसी बयानबाज़ी से आप केवल शर्मिंदगी महसूस करते हैं. और अगर असली अयोध्या बीरगंज के पास है तो फिर सरयू नदी कहाँ है?

आदि-कवि ओली द्वारा रचित कल युग की नई रामायण सुनिए:
वहीं नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री बाबू राम भट्टाराई ने ओली के बयान पर व्यंग्य करते हुए लिखा है कि आदि-कवि ओली द्वारा रचित कल युग की नई रामायण सुनिए, सीधे बैकुंठ धाम का यात्रा करिए.

कांग्रेस विधायक दानिश अबरार बोले, सरकार के पास बहुमत से ज्यादा नंबर हैं

इस तरह के निराधार, अप्रमाणित बयानों से बचना चाहिए:
राष्ट्रीय प्रजातांत्री पार्टी के सह-अध्यक्ष कमल थापा ने ट्वीट कर कहा कि प्रधानमंत्री के लिए इस तरह के निराधार, अप्रमाणित बयानों से बचना चाहिए. थापा ने ट्वीट किया कि  ऐसा लग रहा है कि पीएम तनावों को हल करने के बजाय नेपाल-भारत संबंधों को और खराब करना चाहते हैं. सिर्फ कमल ही नहीं नेपाल राष्ट्रीय योजना आयोग के पूर्व उपाध्यक्ष स्वर्णिम वागले ने चेतावनी दी कि भारतीय मीडिया पीएम के ऐसे बयान से विवादास्पद सुर्खियां बटोर सकता है और बना सकता है. 

सुंदर पिचाई ने किया एलान, Google भारत में करेंगी 75,000 करोड़ रुपए का निवेश

सुंदर पिचाई ने किया एलान, Google भारत में करेंगी 75,000 करोड़ रुपए का निवेश

नई दिल्ली: Google अगले 5 से 7 वर्ष में भारत में 75,000 करोड़ रुपए का निवेश करेगा. इसकी घोषणा सोमवार को Google के सीईओ सुंदर पिचाई ने की. खबरों के मुताबिक पिचाई ने कहा कि भारत की डिजिटल अर्थव्यवस्था को गति देने में मदद करने के लिए 75,000 करोड़ रुपए का फंड देंगे.

डिजिटलीकरण कोष की घोषणा करने के लिए उत्साहित हूं:
Google फॉर इंडिया इवेंट को संबोधित करते हुए पिचाई ने कहा कि यह नवीनतम कदम भारत के भविष्य और इसकी डिजिटल अर्थव्यवस्था में कंपनी के विश्वास का प्रतिबिंब है. पिचाई ने कहा कि आज मैं भारत के डिजिटलीकरण कोष की घोषणा करने के लिए उत्साहित हूं. अगले 5-7 सालों में हम भारत में 75,000 करोड़ रुपए या 10 बिलियन अमरीकी डालर का निवेश करेंगे. 

पीसीसी दफ्तर में वापस लगाए गए पायलट के पोस्टर, खुद प्रियंका गांधी कर रहीं मध्यस्थता !

पीएम मोदी ने की सुंदर पिचाई से मुलाकात:
इससे पहले पीएम मोदी ने सुंदर पिचाई से हुई बातचीत की जानकारी देते हुए ट्वीट में लिखा, आज सुबह सुंदर पिचाई के साथ बातचीत हुई. हमने कई विषयों पर बात की, खास तौर से तकनीक के जरिए भारत के किसानों, युवाओं और उद्यमियों के जीवन को बदलने के विषय में बातचीत की.

सावन के दूसरे सोमवार को हुई शिव मंदिरों में पूजा अर्चना, भोले शंकर का हुआ अभिषेक

CBSE Results: 12वीं का रिजल्ट हुआ जारी, cbseresults.nic.in पर करें चेक

CBSE Results: 12वीं का रिजल्ट हुआ जारी, cbseresults.nic.in पर करें चेक

नई दिल्ली: CBSE 12वीं के स्टूडेंट्स का इंतजार खत्म हो गया है. सीबीएसई ने 12वीं क्लास के रिजल्ट घोषित कर दिए हैं. मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि सीबीएसई ने 12वीं के रिजल्ट घोषित कर दिए हैं. आप इसे http://cbseresults.nic.in/ पर देख सकते हैं.

Rajasthan Political Crisis: सचिन पायलट का बड़ा बयान, कहा- 25 विधायक मेरे साथ बैठे  

बतादें कि सीबीएसई ने सुप्रीम कोर्ट को इस बात की जानकारी दी थी कि वह 10वीं और 12वीं की पेंडिंग परीक्षाओं को रद्द कर दिया है और रिजल्ट 15 जुलाई तक जारी कर देंगें. 

Rajasthan Political Crisis: सचिन पायलट के लिए कांग्रेस के दरवाजे हमेशा खुले, जेपी को खरीद-फरोख्त का मौका देना अनुचित- सुरजेवाला  

इस साल 88.78 फीसदी छात्रों ने 12वीं सीबीएसई परीक्षा उत्तीर्ण की:
बोर्ड की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक इस साल 88.78 फीसदी छात्रों ने 12वीं सीबीएसई परीक्षा उत्तीर्ण की. इस साल परीक्षा में त्रिवेंद्रम, बेंगलुरु और चेन्नई प्रदर्शन के मामले में टॉप थ्री रहे हैं. इस साल जहां दिल्ली जोन में 94.39% परिणाम आया है, वहीं लड़कियों का प्रतिशत 92.15 प्रतिशत रहा. बता दें कि इस साल लड़कियों ने लड़कों से 5.96% बेहतर प्रदर्शन किया है.

Covid-19 Update: पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 28 हजार नए मामले, देश में अब करीब साढ़े 8 लाख कोरोना पॉजिटिव केस

Covid-19 Update: पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 28 हजार नए मामले, देश में अब करीब साढ़े 8 लाख कोरोना पॉजिटिव केस

नई दिल्ली: देशभर में लगातार कोरोना वायरस के मामले बढ़ते जा रहे है. रोजाना मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है. रविवार को पहली बार 24 घंटे में रिकॉर्ड 28 हजार से ज्यादा कोरोना के नए मामले सामने आये है. अब तक देश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 8 लाख 49 हजार के पार पहुंच गई है. 

अब तक 22 हजार से ज्यादा मौतें:
स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में अबतक 8 लाख 49 हजार 553 लोग कोरोना पॉजिटिव हो चुके है. इनमें से 22 हजार 674 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 5 लाख 34 हजार लोग ठीक भी हुए हैं. गत 24 घंटों में कोरोना वायरस के 28 हजार 637 नए मामले सामने आए और 551 मौतें हुईं.आपको बता दें कि अमेरिका और ब्राजील के बाद हर दिन सबसे ज्यादा मरीज भारत में सामने आ रहे है. 

विधायक खरीद फरोख्त प्रकरण: अपनी संबंधता सूची से कांग्रेस ने तीन विधायकों के नाम हटाए

अब 3 लाख के करीब एक्टिव केस:
अगर बात करें आंकड़ों की. तो उनके मुताबिक देश में इस समय 2 लाख 92 हजार 258 कोरोना के एक्टिव केस हैं. इनमें से सबसे ज्यादा एक्टिव केस महाराष्ट्र राज्य में हैं. महाराष्ट्र में 99 हजार से ज्यादा पॉजिटिव मरीजों का इलाज चल रहा है. इसके बाद दूसरे नंबर पर तमिलनाडु, तीसरे नंबर पर दिल्ली, चौथे नंबर पर गुजरात और पांचवे नंबर पर पश्चिम बंगाल है. इन 5 राज्यों में सबसे ज्यादा एक्टिव केस हैं. 

अमिताभ बच्चन और अभिषेक बच्चन की रिपोर्ट आई कोरोना पॉजिटिव,  फैंस में छाई मायूसी

Corona Impact: दिल्ली की सभी यूनिवर्सिटी में परीक्षाएं रद्द, पिछले नतीजों को आधार पर होगा प्रमोशन

Corona Impact: दिल्ली की सभी यूनिवर्सिटी में परीक्षाएं रद्द, पिछले नतीजों को आधार पर होगा प्रमोशन

नई दिल्ली: कोरोना संकट की वजह से दिल्ली विश्वविद्यालयों की परीक्षा रद्द कर दी गई है. डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने बताया कि दिल्ली राज्य के जितने भी युनिवर्सिटी  हैं उनकी आगामी परीक्षा रद्द कर दी जाएगी. 

कोरोना पिछले 100 साल का सबसे बड़ा स्वास्थ्य एवं आर्थिक संकट- RBI गवर्नर

परीक्षा लेना और डिग्री न देना होगा अन्याय: 
उन्होंने कहा कि सभी बच्चों को अगले सेमेस्टर में प्रमोट कर दिया जाएगा. सिसोदिया ने कहा कि सभी यूनिवर्सिटीज़ को फाइनल एग्ज़ाम कैंसिल कर छात्रों के इवैल्युएशन का कोई पैमाना तैयार कर डिग्री जल्द से जल्द देने के लिए कहा गया है. कोरोना के कारण से परीक्षा लेना और डिग्री न देना अन्याय होगा. 

सेंट्रल यूनिवर्सिटीज भी ले निर्णय:
यह निर्णय स्टेट यूनिवर्सिटीज़ के लिए लिया गया है. उन्होंने दिल्ली के अंदर आने वाली सभी सेंट्रल यूनिवर्सिटीज़ के लिए केंद्र को निर्णय लेना है. इसके लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को पत्र लिख निवेदन किया है कि दिल्ली सरकार जैसा फैसला देश की दूसरी सेंट्रल यूनिवर्सिटीज़ के लिए भी लिया जाए.

प्रदेश की राजनीति में बढ़ती हलचल ! 26 कांग्रेस विधायकों ने भाजपा पर लगाया सरकार को अस्थिर करने का आरोप

कोरोना पिछले 100 साल का सबसे बड़ा स्वास्थ्य एवं आर्थिक संकट- RBI गवर्नर

कोरोना पिछले 100 साल का सबसे बड़ा स्वास्थ्य एवं आर्थिक संकट- RBI गवर्नर

नई दिल्ली: भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के बैंकिंग एंड इकोनॉमिक्स कॉन्क्लेव में भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि कोरोना वायरस पिछले 100 साल का सबसे बड़ा स्वास्थ्य एवं आर्थिक संकट है. कोरोना महामारी को देखते हुए ये कार्यक्रम इस बार वर्चुअल आयोजित हो रहा है. कॉन्क्लेव की थीम 'बिजनेस और अर्थव्यवस्था पर कोरोना का प्रभाव' रखी गई है. दो दिवसीय कॉन्क्लेव शुक्रवार को शुरू हुआ था और आज इसे आरबीआई गवर्नर ने संबोधित किया. 

Coronavirus Updates: पिछले 24 घंटे में पहली बार आए 27 हजार से ज्यादा नए मामले, देश में 8 लाख से पार हुआ मरीजों का आंकड़ा 

पिछले 100 सालों में सबसे खराब स्वास्थ्य और आर्थिक संकट:  
इस कार्यक्रम में शक्तिकांत दास ने कहा कि कोरोना वायरस पिछले 100 सालों में सबसे खराब स्वास्थ्य और आर्थिक संकट है. कोरोना की वजह से उत्पादन और नौकरियों पर नेगेटिव प्रभाव पड़ा है. इसने दुनिया भर में मौजूदा व्यवस्था, श्रम और कैपिटल के मूवमेंट को कम किया है. ऐसे में मौजूदा संकट में अर्थव्यवस्था को सहयोग देने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक ने कई कदम उठाए हैं. 

RBI के लिए विकास पहली प्राथमिकता:
उन्होंने कहा कि RBI के लिए विकास पहली प्राथमिकता है. वित्तीय स्थिरता भी उतनी ही महत्त्वपूर्ण है. RBI ने उभरते जोखिमों की पहचान करने के लिए अपने ऑफसाइट निगरानी तंत्र को मजबूत किया है. रिजर्व बेंक गवर्नर ने कहा कि ''कोरोना वायरस महामारी से एनपीए बढ़ेगा और पूंजी का क्षरण होगा.''

प्रदेश की राजनीति में बढ़ती हलचल ! 26 कांग्रेस विधायकों ने भाजपा पर लगाया सरकार को अस्थिर करने का आरोप 

भारतीय अर्थव्यवस्था के वापस सामान्य स्थिति की ओर लौटने के संकेत:
आगे शक्तिकांत दास ने कहा कि लॉकडाउन के प्रतिबंध हटने के बाद भारतीय अर्थव्यवस्था के वापस सामान्य स्थिति की ओर लौटने के संकेत दिखने शुरू हो गये हैं. उन्होंने कहा कि संकट के समय में भारतीय कंपनियों और उद्योगों ने बेहतर काम किया. दबाव में फंसी संपत्ति से निपटने के लिये वैधानिक अधिकार संपन्न ढांचागत प्रणाली की जरूरत है.


 

Open Covid-19