VIDEO: सस्ते मकान चाहने वालों के लिए सुखद खबर, मकान का सपना होगा साकार!

Abhishek Shrivastava Published Date 2019/08/10 08:52

जयपुर: आवासन मंडल के सस्ते मकानों का इंतजार कर रहे लोगों के लिए सुखद खबर है. राज्य सरकार ने मकानों की कीमतों में छूट देने की सैद्धांतिक स्वीकृति दे दी है. अब महीने भर बाद या नवरात्रा में आवासन मंडल की ओर से 7 हजार से अधिक मकानों की बिक्री शुरू कर दी जाएगी. यह बिक्री किस प्रक्रिया के तहत होगी इसे जानने के लिए फर्स्ट इंडिया न्यूज की ये खास रिपोर्ट-

आवासन मंडल की ओर से प्रदेश भर में बनाए गए करीब 22 हजार मकानों को बेचना चुनौती बना हुआ है. इनमें से 12 हजार मकान तो ऐसे हैं जो काफी प्रयासों के बाद भी नहीं बिके. इन मकानों में आवासन मंडल का करीब तीन हजार करोड़ रुपए का निवेश फंसा हुआ है. आवासन मंडल की बोर्ड की 20 जून को हुई बैठक में इन मकानों की कीमतों में छूट देते हुए राज्य सरकार से स्वीकृति लेने का फैसला किया गया. इसके बाद आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा ने तुरंत इस बारे में प्रस्ताव राज्य सरकार को भिजवाया और मामले को सरकार स्तर पर जल्द मंजूरी के लिए प्रयास किया. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने बजट भाषण में भी मकानों की कीमतों में छूट देते हुए नीलामी की घोषणा की. यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल के निर्देश पर आवासन मंडल की बैठक में ऋणात्मक निविदा प्रक्रिया से मकान बेचने का फैसला किया गया. इस फैसले पर मंत्री शांति धारीवाल ने मुहर लगा दी है. अब प्रमुख सचिव भास्कर ए सावंत की ओर से जल्द आदेश जारी किए जाएंगे. आपको बताते हैं कि आखिर क्या है यह ऋणात्मक नीलामी प्रक्रिया?

- नीलामी के लिए प्रदेश भर में स्थित 7075 मकानों को 0 से 25% और 0 से 50% दो अलग-अलग वर्गों में बांटा जाएगा. 
- यह वर्गीकरण मंडल की ओर से प्रस्तावित छूट के आधार पर किया जाएगा.
- मकान की लोकेशन के लिहाज से यह संभव है कि एक ही योजना के दो मकान अलग-अलग वर्ग में रखे जाएं. 
- मकानों के बेचान के लिए ऑनलाइन नीलामी की जाएगी. 
- इच्छुक लोगों के पास मकान की ऑनलाइन बोली लगाने के लिए एक महीने का समय होगा. 
- जो मकान 0 से 25% के वर्ग में होंगे,उनमें कीमत से अधिकतम 25% तक की छूट दी जाएगी 
- जो मकान 0 से 50% के वर्ग में होंगे,उनमें कीमत से अधिकतम 50% तक की छूट दी जाएगी. 
- ऋणात्मक निविदा के तहत न्यूनतम छूट चाहने वाले को ही मकान मिल पाएगा. 
- मसलन,0 से 50% के वर्ग में एक व्यक्ति ने 45% और दूसरे ने 40%कम की बोली लगाई. 
- तो मकान 40%कम कीमत लगाने वाले व्यक्ति को दे दिया जाएगा. 

आवासन मंडल की 2 अगस्त को हुई बैठक में तय किया गया था कि सरकार की स्वीकृति मिलने के बाद महीने भर में मकानों की नीलामी प्रक्रिया शुरू कर देगा. संभावना जताई जा रही है कि महीने भर बाद श्राद्ध पक्ष होने के चलते नवरात्रा स्थापना के दिन से आवासन मंडल मकानों की नीलामी शुरू कर देगा. आपको बताते हैं आवासन मंडल की ओर से पूरी नीलामी प्रक्रिया किस तरह संपादित की जाएगी और लोग इस नीलामी में किस तरह से भाग ले सकेंगे. 

- महीने भर में आवासन मंडल नीलाम किए जाने वाले मकानों की सूचना वेब पोर्टल पर डाल देगा. 
- नीलामी में भाग लेने के लिए 500 रुपए का आवेदन शुल्क ऑनलाइन जमा कराना होगा. 
- EWS वर्ग को 5 हजार रुपए, MIG A व MIG B वर्ग के आवेदक को को 25000 रुपए बतौर अमानता राशि देने होंगे. 
- HIG वर्ग के आवेदक को को 50 हजार रुपए बतौर अमानत राशि देनी होगी. 
- ऑनलाइन जमा कराई जाने वाली यह राशि नीलामी में असफल होने पर रिफण्डेबल होगी. 
- ऑनलाइन नीलामी प्रक्रिया के लिए आवासन मंडल की ओर से एक सॉफ्टवेयर विकसित किया जाएगा. 
- नीलामी में बोली लगाने से पहले आवेदक मकान का मौका मुआयना भी कर सकेंगे. 
- इसके लिए आवासन मंडल के कार्यालयों में एक टीम नियुक्त की जाएगी. 
- बोली लगाने के लिए 1 माह का समय देने के बाद मंडल के सक्षम अधिकारी के सामने निविदा खोली जाएगी. 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in