ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने वालों के लिए अच्छी खबर, स्थायी लाइसेंस की ट्रायल के लिए मिल रहा तय समय

ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने वालों के लिए अच्छी खबर, स्थायी लाइसेंस की ट्रायल के लिए मिल रहा तय समय

जयपुर: जयपुर समेत पूरे रीजन में ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना चाह रहे लोगों के लिए अच्छी खबर है. जयपुर आरटीओ कार्यालय ने लॉक डाउन की अवधि में हुई लाइसेंसों की पूरी पेंडसी को ख़त्म कर लिया है. अब स्थाई लाइसेंस की ट्रायल के लिए लिए पहले की तरह ही तय समय मिल रहा है. कोरोना के बाद प्रदेश में हुए लंबे लॉक डाउन के कारण सभी विभागों का काम ख़ासा प्रभावित हुआ था. जयपुर आरटीओ में भी क़रीब 20 हजार ड्राइविंग लाइसेंसों का काम पेंडिंग हो गया था. इतनी बड़ी पेंडसी के कारण जहां पुराने आवदेकों को परेशान होना पड़ रहा था तो वहीं नए आवेदक भी लाइसेंस के लिए आवेदन नहीं कर पा रहे थे. लंबित लाइसेंसों की बड़ी संख्या देखकर ऐसा अंदाजा लगाया जा रहा था कि पेंडेंसी को ख़त्म करने में आरटीओ को बहुत समय लगेगा. लेकिन आरटीओ राजेंद्र वर्मा की मॉनिटरिंग और सटीक प्लांनिग से जयपुर रीजन में ड्राइविंग लाइसेंसों की पेंडसी ख़त्म हो गई है. 

केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद का बयान, कहा-भारत ने चीन पर की डिजिटल स्ट्राइक 

शनिवार और रविवार को पूरी क्षमता से हुआ काम:
अब स्थाई लाइसेंस के लिए पहले की तरह ही ARTO कार्यालय में जहां 40 दिन बाद की डेट मिल रही है तो वहीं विद्याधर नगर में 25 दिन बाद कि डेट अब दी जा रही है. आरटीओ राजेंद्र वर्मा ने बताया कि लाइसेंसों की पेंडेंसी को ख़त्म करने के लिए परिवहन आयुक्त रवि जैन के निर्देशों के बाद कार्यालय समय के अलावा 3 घँटे अधिक काम किया गया. शनिवार और रविवार को भी सभी कार्यालयों में पूरी क्षमता के साथ काम किया गया. इतना ही नहीं आवेदकों को आरटीओ और डीटीओ कार्यालयों से फोन कर के भी बुलाया गया. आरटीओ राजेंद्र वर्मा का कहना है कि अगर अभी भी लॉक डाउन अवधि में आवेदन करने वाले किसी आवेदक का लाइसेंस नहीं बन पाया है तो वह कार्यालय आ कर अपनी सुविधा से अपना स्लॉट रिशेड्यूल करा सकता है.  लंबित लाइसेंसों का निस्तारण करने में जयपुर रीजन के सभी कार्यालयों ने अच्छा काम किया है.अगर आकंडो की बात करें तो...   

-22 मई से लेकर 30 जून तक जयपुर रीजन में बने हैं कुल 36049 लाइसेंस
-इसमें 7950 हैं लर्निंग लाइसेंस,16127 हैं स्थाई लाइसेंस,11972 लाइसेंसों का हुआ है नवीनीकरण

म्यांमार में भारी बारिश की वजह से खदान धंसी, 100 से ज्यादा लोगों की मौत

22 मई से 30 जून तक के आकंड़े

-आरटीओ जयपुर कार्यालय में 2236 लर्निंग लाइसेंस बने

-डीटीओ विद्याधर नगर कार्यालय में 2603 लर्निंग लाइसेंस बने

-डीटीओ चौमूं कार्यालय में 685 लर्निंग लाइसेंस बने

-डीटीओ दूदू में 931 लर्निंग लाइसेंस बने

-डीटीओ शाहपुरा कार्यालय में 853 लर्निंग लाइसेंस बने

-डीटीओ कोटपूतली कार्यालय में 642 लर्निंग लाईसेंस बने

-ARTO जगतपुरा कार्यालय में 8648 स्थाई लाइसेंस बने है

-डीटीओ विद्याधर नगर कार्यालय में 4386 स्थाई लाइसेंस बने हैं

-डीटीओ चौमू कार्यालय में 727 स्थाई लाइसेंस बने हैं

-डीटीओ दूदू में 827 स्थाई लाइसेंस बने हैं

-डीटीओ शाहपुरा कार्यालय में 955 स्थाई लाइसेंस बने हैं

-डीटीओ कोटपूतली कार्यालय में 584 स्थाई लाइसेंस बने हैं

20 हजार लंबित ड्राइविंग लाइसेंसों का निस्तारण कर जयपुर आरटीओ ने नए आवेदकों को बड़ी राहत दी है. अब जयपुर रीजन में कहीं भी लाइसेंस के लिए लोगों को तय समय से अधिक इंतजार नहीं करना पड़ रहा है.

...फर्स्ट इंडिया के लिए शिवेंद्र परमार की रिपोर्ट

और पढ़ें