लॉकडाउन में ढील, कोविड नियमों का पालन नहीं करने, नए स्वरूपों की वजह से संक्रमण के मामले बढ़े: सरकार

लॉकडाउन में ढील, कोविड नियमों का पालन नहीं करने, नए स्वरूपों की वजह से संक्रमण के मामले बढ़े: सरकार

लॉकडाउन में ढील, कोविड नियमों का पालन नहीं करने, नए स्वरूपों की वजह से संक्रमण के मामले बढ़े: सरकार

नई दिल्ली: लॉकडाउन में ढील, कोविड अनुकूल व्यवहार का पालन नहीं करने और सार्स-सीओवी-2 के और अधिक संक्रामक स्वरूपों के सामने आने के कारण कुछ राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में कोरोना वायरस संक्रमण के नये मामले बढ़े हैं. सरकार ने शुक्रवार को लोकसभा को सूचित किया.

स्वास्थ्य राज्य मंत्री भारती प्रवीण पवार ने एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार सार्स-सीओवी-2 के डेल्टा और डेल्टा प्लस जैसे स्वरूपों से संक्रमण के मामले बढ़ने के संकेत मिले हैं.

उन्होंने कहा कि लॉकडाउन में ढील, कोविड अनुकूल व्यवहार का पालन नहीं करने और सार्स-सीओवी-2 के और अधिक संक्रामक स्वरूपों के सामने आने के कारण कुछ राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में कोरोना वायरस संक्रमण के नये मामले बढ़े हैं.

प्रश्न पूछा गया था कि क्या डेल्टा प्लस और लैम्डा जैसे वायरस के नये स्वरूप ज्यादा संक्रामक हैं और केरल, अरुणाचल प्रदेश, त्रिपुरा, ओडिशा, छत्तीसगढ़ और मणिपुर समेत कुछ राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में कोरोना वायरस के मामलों में हाल में इजाफा हुआ है.

और पढ़ें