नई दिल्ली सरकार अमरनाथ यात्रा को बेहद सफल बनाने में जुटी, बालटाल और चंदनवाड़ी में बनाए जा रहे अस्पताल 

सरकार अमरनाथ यात्रा को बेहद सफल बनाने में जुटी, बालटाल और चंदनवाड़ी में बनाए जा रहे अस्पताल 

 सरकार अमरनाथ यात्रा को बेहद सफल बनाने में जुटी, बालटाल और चंदनवाड़ी में बनाए जा रहे अस्पताल 

नई दिल्ली: इस साल की अमरनाथ यात्रा को बेहद सफल बनाने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा विभिन्न कदम उठाए गए हैं. इनके तहत डीआरडीओ की मदद से जम्मू कश्मीर में बालटाल एवं चंदनवाड़ी में 50-50 बिस्तरों वाले दो अस्पताल स्थापित किये जा रहे हैं.मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया के निर्देश तथा उच्चतम न्यायालय के दिशानिर्देशों के अनुपालन में श्रद्धालुओं के लिए अमरनाथ यात्रा को सुचारू बनाने के लिए कई पहल की गयी हैं.

अमरनाथ यात्रा बृहस्पतिवार को शुरू हुई और उसका समापन 11 अगस्त को होगा. बयान में कहा गया है, राज्य सरकारों को जम्मू कश्मीर सरकार के प्रयासों में हाथ बंटाने के लिए विशेषज्ञ डॉक्टरों और सामान्य ड्यूटी चिकित्सा अधिकारियों समेत चिकित्सा व्यवस्था के साथ साथ जरूरी इंतजामों के बारे में बताया गया. खासकर उन राज्यों से ऐसा अनुरोध किया जहां से बड़ी संख्या में तीर्थयात्री पहुंचते हैं. बयान के अनुसार चिकित्सा आपात स्थिति के चिकित्सकों एवं अर्धचिकित्साकर्मियों समेत स्वास्थ्य पेशेवरों को दलों में तैनात किया जाएगा. पहला दल 25 जून से 13 जुलाई तक अपनी सेवा देगा. दूसरा एवं तीसरा दल क्रमश: 11जुलाई से 28 जुलाई तक और 26 जुलाई से 11 अगस्त तक चिकित्सा कार्य संभालेंगे.

ये चिकित्सा पेशेवर केंद्र सरकार के अस्पतालों तथा केंद्र सरकार स्वास्थ्य योजना (सीजीएचएस) से तैनात किये जा रहे हैं.बयान में कहा गया है, जम्मू कश्मीर सरकार ने स्वास्थ्य सेवाएं निदेशालय (डीएचएस कश्मीर) के मार्फत केंद्र सरकार के अस्पतालों एवं सीजीएचएस से 155 चिकित्सा कर्मी (87 डॉक्टर एवं 68 अर्धचिकित्साकर्मी) उपलब्ध कराने का अनुरोध किया था. मंत्रालय ने कहा कि केंद्र सरकार के अस्पतालों एवं सीजीएचएस से 176 प्रविष्टियां (115 डॉक्टर एवं 61 अर्धचिकित्साकर्मी) मिली हैं और पूरी सूची तैनाती के लिए डीएचएस कश्मीर के पास भेज दी गयी है.

उसने कहा कि 11 राज्यों /केंद्रशासित प्रदेशों से ये चिकित्सा पेशेवर तैनात किये जा रहे हैं.जम्मू कश्मीर सरकार ने 11 राज्यों (दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, पंजाब, उत्तर प्रदेश, आंध्रप्रदेश, मध्यप्रदेश, गुजरात, पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र) से भी 437 चिकित्सा पेशेवर उपलब्ध कराने का अनुरोध किया था.बयान में कहा गया है, नौ राज्यों से कुल 433 प्रविष्टियां (214 डॉक्टर एवं 219 अर्धचिकित्साकर्मी) प्राप्त हुई हैं. 428 चिकित्सा कर्मियों (211 डॉक्टर एवं 217 अर्धचिकित्साकर्मी) की तैनाती पहले ही डीएचएस कश्मीर ने तीन दलों में कर दी है. बयान में कहा गया है, बालटाल एवं चंदनवाड़ी में डीआरडीओ की मदद से 50-50 बिस्तरों के दो अस्पताल बनाये जा रहे हैं. अमरनाथ यात्रा 2022 के लिए समग्र सूचना, शिक्षा एवं प्रचार सामग्री तैयार की गयी है और जरूरी कार्रवाई हेतु पक्षकारों को दी गई है. श्रद्धालुओं के वास्ते ‘क्या करें’ और ‘क्या न करें’ की पुस्तिका बनायी गयी है. (भाषा) 

और पढ़ें