युवाओं के वैक्सीनेशन को लेकर सरकार को उम्मीद: दिसंबर तक 18 से 44 साल की उम्र की पूरी आबादी को लग जाएंगे टीके 

युवाओं के वैक्सीनेशन को लेकर सरकार को उम्मीद: दिसंबर तक 18 से 44 साल की उम्र की पूरी आबादी को लग जाएंगे टीके 

युवाओं के वैक्सीनेशन को लेकर सरकार को उम्मीद: दिसंबर तक 18 से 44 साल की उम्र की पूरी आबादी को लग जाएंगे टीके 

नई दिल्ली: कई राज्यों में कोरोना वैक्सीन (Vaccine) की किल्लत के बीच केंद्र सरकार को उम्मीद है कि 18 साल से 44 साल तक की उम्र की करीब 95 करोड़ की आबादी को इस साल दिसंबर तक टीका लग जाएगा. यह बात मीडिया रिपोर्ट्स (Media Reports) में सूत्रों के हवाले से कही जा रही है.

जुलाई से आसान होगी वैक्सीन की राह:
इन रिपोर्ट्स के मुताबिक जुलाई महीने से वैक्सीन की उपलब्धता आसान हो जाएगी. आने वाले महीनों में वैक्सीन की उपलब्धता बढ़ने का अनुमान है. बताया जा रहा है कि मई में 8.5 करोड़, जून में 10 करोड़, जुलाई में 15 करोड़, अगस्त में 36 करोड़, सितंबर में 50 करोड़, अक्टूबर में 56 करोड़, नवंबर में 59 करोड़ और दिसंबर में 65 करोड़ डोज उपलब्ध होने का अनुमान (Estimate) है.

इस महिने स्पूतनिक वैक्सीन की 60 लाख डोज मिलने की उम्मीद:
रूस की वैक्सीन स्पूतनिक (Sputnik Vaccine) के इस महीने में 60 लाख डोज मिलने की उम्मीद है. अगले महीने यानी जून में एक करोड़, फिर जुलाई में 2.5 करोड़ और अगस्त में 1.6 करोड़ डोज मिलने की उम्मीद की जा रही है. इधर, सीरम इंस्टीट्यूट की कोवीशील्ड (Covishield of Serum Institute) के जून में 6.5 करोड़, जुलाई में 7 करोड़, अगस्त में 10 करोड़ और सितंबर में 11.5 करोड़ डोज उपलब्ध होने के आसार हैं. भारत बायोटेक की कोवैक्सिन के जून में 2.5 करोड़, जुलाई और अगस्त में 7.5-7.5 करोड़, सितंबर में 7.7 करोड़, अक्टूबर और नवंबर में 10.2-10.2 करोड़ वहीं दिसंबर में 13.5 करोड़ डोज उपलब्ध होने की उम्मीद है.

अगस्त से दिसंबर तक हर दिन 90 लाख टीके लगाने होंगे:
18-44 साल उम्र के सभी लोगों को दिसंबर तक वैक्सीन लगाने के टार्गेट (Target) को पूरा करने के लिए अगस्त से दिसंबर में हर रोज 90 लाख टीके लगाने होंगे. लेकिन पिछले हफ्ते का औसत देखें तो हर रोज करीब 17 लाख टीके लग रहे थे. ऐसे में मौजूदा रफ्तार के हिसाब से वैक्सीनेशन (Vaccination) का टार्गेट समय पर पूरा करना सरकार के लिए एक चुनौती होगी.

केंद्र सरकार का दावा: अगस्त से दिसंबर के बीच 216 करोड़ डोज मिलेंगे:
देश में वैक्सीन की कमी के बीच गुरुवार को नीति आयोग (Policy Commission) के सदस्य वीके पॉल (VK Paul) ने एक उम्मीद भरी घोषणा की है. पॉल ने बताया कि इस साल अगस्त से दिसंबर तक वैक्सीन की 216 करोड़ डोज तैयार कर ली जाएगी. पॉल ने कहा कि कोई भी वैक्सीन जिसे FDA (Food and Drug Administration) या WHO (World Health Organization) ने अप्रूव किया हो उसे भारत आने की अनुमति होगी.

और पढ़ें