देश में ICU और ऑक्सीजन की कमी को लेकर सरकार जिम्मेदार, राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना

देश में ICU और ऑक्सीजन की कमी को लेकर सरकार जिम्मेदार, राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना

देश में ICU और ऑक्सीजन की कमी को लेकर सरकार जिम्मेदार, राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना

नई दिल्ली:  देश में चल रहे ऑक्सीजन क्राइसिस को लेकर  कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Congress Former President Rahul  Gandhi) ने कई शहरों में ऑक्सीजन और आईसीयू (Intensive Care Unit) बेड की कमी की खबरों के बीच शुक्रवार को मोदी सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि इस स्थिति के लिए सरकार जिम्मेदार है.

देश में ऑक्सीजन से हो रही मौतों की जिम्मेदारी सरकार ले:
उन्होंने ट्वीट किया है की कोरोना वायरस (Corona Virus) के कारण ऑक्सीजन का स्तर गिर सकता है, लेकिन ऑक्सीजन की कमी और आईसीयू बेड की कमी के कारण बहुत सारी मौतें हो रही हैं. भारत सरकार, यह जिम्मेदारी (Responsibility) आप की है.  गौरतलब है कि देश के कई शहरों में ऑक्सीजन की कमी होने की खबरें आ रही हैं. दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल में गंभीर रूप से बीमार 25 मरीजों की मौत हो गई है. सूत्रों ने यह जानकारी देते हुए घटना के पीछे संभावित वजह ऑक्सीजन की कमी को बताया है.

Corona can cause a fall in oxygen level but it’s #OxygenShortage & lack of ICU beds which is causing many deaths.

GOI, this is on you.

— Rahul Gandhi (@RahulGandhi) April 23, 2021


राहुल गांधी ने महाराष्ट्र के विरार में एक निजी अस्पताल में आग लगने की घटना पर कई कोविड मरीजों की मौत पर भी दुख जताया है.  उन्होंने एक टेलीग्राम संदेश (Telegram Message) में कहा कि विरार के विजय वल्लभ कोविड सेंटर (Vijay Vallabh Covid Center) से दुखद खबर मिली है कि आग लगने से कई मरीजों की मौत हो गई है. पीड़ित परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है.

सरकार से जरुरी मदद की अपील :
कांग्रेस नेता ने कहा है कि मैं राज्य सरकार और कांग्रेस कार्यकर्ताओं से अपील करता हूं कि वे सभी जरूरी मदद (Urgent Help) मुहैया कराएं. विरार में शुक्रवार तड़के एक निजी अस्पताल में आग लगने से कोविड-19 से पीड़ित 13 मरीजों की मौत हो गई. आग अस्पताल के आईसीयू (गहन चिकित्सा इकाई) में लगी थी. घटना के वक्त आईसीयू में 17 मरीज थे. चार मरीजों को बचा लिया गया और उन्हें इलाके के अन्य अस्पतालों में भर्ती करवाया गया है.

और पढ़ें