राजस्थान में मुनाफाखोरी पर सरकारी चाबुक: विभाग ने 18 Medical स्टोर एवं 25 किराना दुकानों का किया निरीक्षण, 14 दुकानदारों पर लगाई Penalty

राजस्थान में मुनाफाखोरी पर सरकारी चाबुक: विभाग ने 18 Medical स्टोर एवं 25 किराना दुकानों का किया निरीक्षण, 14 दुकानदारों पर लगाई Penalty

राजस्थान में मुनाफाखोरी पर सरकारी चाबुक: विभाग ने 18 Medical स्टोर एवं 25 किराना दुकानों का किया निरीक्षण, 14 दुकानदारों पर लगाई Penalty

जयपुर:  राजस्थान में मुनाफाखोरी पर अब सरकारी चाबुक चला है. आवश्यक वस्तुओं की MRP (Maximum Retail Price) से अधिक कीमत एवं मुनाफाखोरी (Profiteering) जैसी गतिविधियों की रोकथाम के लिए चलाये जा रहे अभियान के दौरान विधिक मापविज्ञान विभाग (Legal Metrology Department) द्वारा गुरुवार को 18 मेडिकल स्टोर और 25 किराना दुकानों का निरीक्षण किया. निरीक्षण के दौरान 14 दुकानदारों के विरुद्ध प्रकरण दर्ज कर 55 हजार रुपए की पेनल्टी लगाई गई.

भीलवाड़ा और झालावाड़ में की गई कार्रवाई:
उपभोक्ता मामले विभाग (Consumer Affairs Department) के शासन सचिव नवीन जैन (Government Secretary Naveen Jain) के अनुसार भीलवाड़ा जिले में उमराव मेडिकल पर एन- 95 मार्का मास्क के पैकेट पर डिक्लेरेशन नहीं होने के कारण 21 मास्क जब्त कर 5 हजार रुपए की पेनल्टी (Penalty) लगाई. वही पर झालावाड़ जिले में ओम एंटरप्राइजेज, फॉरेस्ट रोड एवं राजेश फार्मा मामा भांजा चौराहा के द्वारा बेचे जाने वाले ऑक्सीमीटर (Oximeter) के पैकेट पर डिक्लेरेशन (Declaration) नहीं होने पर पल्स ऑक्सीमीटर के 7 नग तथा मास्क (N95 मार्का) के 8 नग जब्त करते हुए 7.5 हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया. इसी प्रकार भारत मेडिकल एजेंसी, SRG हॉस्पिटल (SRG Hospital) के द्वारा एन95 मार्का मास्क पैकेट पर बिना डिक्लेरेशन के बेचे जाने पर 5 हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया.

प्रतिष्ठान सीज करने के साथ जुर्माना भी:
शासन सचिव ने बताया कि इस कार्रवाई में अनियमितता (Irregularity) पाए जाने पर प्रतिष्ठान को सीज करने के साथ-साथ पेनेल्टी भी लगाई गई है. बताया कि कोटा जिले में श्याम मेडिकल स्टोर, नामदेव मेडिकल एवं शुभम मेडिकल पर ऑक्सीमीटर के पैकेट पर डिक्लेरेशन नहीं होने पर प्रत्येक पर 5 हजार रुपए का जुर्माना लगाकर एक-एक ऑक्सीमीटर जब्त किए गए. उन्होंने बताया कि सिरोही में सगर मेडिकल स्टोर पर मास्क के पैकेट पर डिक्लेरेशन नहीं होने पर 2 हजार500 रुपए का जुर्माना लगाया गया. जोधपुर में नर्सिंग मेडिकल (Nursing Medical) तथा हनुमान मेडिकल पर ऑक्सीमीटर के पैकेट पर डिक्लेरेशन नहीं होने पर प्रत्येक पर 2.5 हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया.

अजमेर मे राशन विक्रेता के रेड:
शासन सचिव ने बताया कि अजमेर में एक राशन विक्रेता के यहां रेड की गई. उन्होने बताया कि गुरमीत जनरल स्टोर पर हल्दी, मिर्ची (Turmeric, Chilli) के पैकेट तथा पंकज जनरल स्टोर पर बटर टोस्ट के मास्क के पैकेट पर डिक्लेरेशन नहीं होने पर प्रत्येक पर 2.5 हजार  का जुर्माना लगाया गया. बूंदी में प्रकाश किराना स्टोर तथा त्रिलोक किराना स्टोर मायजा, केशोरायपाटन पर मिर्ची पाउडर को MRp से अधिक मूल्य पर विक्रय के जाने पर प्रत्येक पर 5 हजार रुपये  का जुर्माना लगाया गया.

और पढ़ें