जयपुर राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा-लोकल को वोकल और ग्लोबल बनाना होगा

राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा-लोकल को वोकल और ग्लोबल बनाना होगा

राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा-लोकल को वोकल और ग्लोबल बनाना होगा

जयपुर: राज्यपाल कलराज मिश्र ने युवाओं को जाॅब प्रोवाइडर बनाए जाने की आवश्यकता जताई है. राज्यपाल ने कहा है कि आत्मनिर्भर भारत के लिए युवाओं के नवाचारों को सराहा जाना चाहिए और उनकी प्रतिभा को आगे बढ़ाने के अवसर प्रदान करने चाहिए. इसी से लोकल वोकल होगा और ग्लोबल भी बन सकेगा. राज्यपाल ने आज राजभवन से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से महामना मालवीय मिशन की ग्रामीण इकाई द्वारा आयोजित वाराणसी और देहरादून की आपातिक अनुक्रिया समूह इकाइयों के प्रवर्तन समारोह को सम्बोधित किया. राज्यपाल ने कहा कि आपतिक समूहों का उपयोग बाढ़, अकाल, भूकंप, भू-स्खलन, प्रदूषण जैसी अन्य समस्याओं के दुष्प्रभावों के निराकरण के लिए भी किया जा सकता है.

छात्रों के परिजनों को भी सम्मिलित करने की योजना सराहनीय:
इन समूहों में कार्य करने से छात्रों और स्वयंसेवकों में मानवीय मूल्यों की भावना को विकसित करने में मदद मिलेगी. काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के छात्रों-छात्राओं और महामना के मानस पुत्रों द्वारा स्थापित महामना मालवीय मिशन एक विश्वव्यापी संगठन है, जिसकी शाखाएं पूरे देश में हैं. इस समूह में छात्रों के परिजनों को भी सम्मिलित करने की योजना सराहनीय है.

राजस्थान सियासी घटनाक्रम पर बड़ा अपडेट! सचिन पायलट की राहुल गांधी-प्रियंका गांधी से मुलाकात

समूह का गठन एक तरह का सामाजिक अभियांत्रिकी प्रयास:
आपातकालिक अनुक्रिया समूह का गठन एक तरह का सामाजिक अभियांत्रिकी प्रयास है, जिसका उद्देश्य युवाओं की रचनात्मक क्षमता के उपयोग से आपातिक स्थितियों से निपटना है. साथ ही प्रदेश एवं केंद्र स्तर के सम्बंधित विभागों को सहयोग भी करना है. इन समूहों के सदस्यों का उपयोग कोविड-19 की महामारी से उत्पन्न समस्याओं के निराकरण के लिये किया जाना अच्छी पहल है. इससे युवा आपातिक स्थिति में दूसरों की मदद करने के योग्य हो सकेंगे साथ ही अन्य लोगों को प्रेरित तथा प्रशिक्षित भी कर सकेगे. स्वागत उद्बोधन डाॅ. प्रदीप कुमार मिश्रा ने किया.

बसपा विधायकों को विधानसभा परिसर में प्रवेश नहीं देने को लेकर जनहित याचिका, एडवोकेट हेमंत नाहटा ने दायर की जनहित याचिका

और पढ़ें