जयपुर राज्यपाल कलराज मिश्र बोले, आत्मनिर्भर भारत के लिए युवाओं को आत्मविश्वासी बनाना होगा

राज्यपाल कलराज मिश्र बोले, आत्मनिर्भर भारत के लिए युवाओं को आत्मविश्वासी बनाना होगा

राज्यपाल कलराज मिश्र बोले, आत्मनिर्भर भारत के लिए युवाओं को आत्मविश्वासी बनाना होगा

जयपुर: जन चेतना मंच द्वारा स्वर्गीय सुंदर सिंह भंडारी जन्म शताब्दी वर्ष के मौके पर ऑनलाइन व्याख्यानमाला का आयोजन किया गया. राज्यपाल कलराज मिश्र ने व्याख्यानमाला को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से संबोधित किया. राज्यपाल ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत वर्तमान परिप्रेक्ष्य में बहुत जरूरी है. आर्थिक दृष्टिकोण से सशक्त भारत की कल्पना को साकार करने के लिए सभी को प्रयास करने होंगे. उद्यमिता विकास के लिए युवाओं में आत्मविश्वास जगाना होगा. इससे भारत आत्मनिर्भर बनेगा, संपन्न बनेगा.

आत्मविश्वास की कमी से नौकरी के लिए भटक रहे हैं युवा:
राज्यपाल ने कहा कि आत्मविश्वास की कमी से युवा नौकरी के लिए भटक रहे हैं. जबकि हमारे पास गांव में ही धंधे आरंभ करने के लिए संसाधन हैं. गांव में रहकर ही लोग जीवन यापन कर सकते हैं, देश की सेवा कर सकते हैं. देश और प्रदेश में चल रही योजनाओं की जानकारी युवाओं को मिलेगी तो वे योजनाओं का लाभ उठाकर स्वरोजगार को अपना सकेंगे. इस मौके पर राज्यपाल नेस्वर्गीय भंडारी के सादगी पूर्ण जीवन की सराहना की और कहा कि वे नेक दिल इंसान थे. देश की भावी पीढ़ी को आज उनके समर्पण और त्याग को समझने की जरूरत है.

नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने भी किया संबोधित:
ईमानदारी और कर्तव्यनिष्ठा उनके जीवन से सीखी जा सकती है. वे सभी कार्यकर्ताओं के पत्र का जवाब पोस्ट कार्ड से देते थे और खर्चा बचाने के लिए बस और ट्रेन में सफर करने में कोई संकोच नहीं करते थे. राज्यपाल ने कहा कि स्वर्गीय भंडारी से मेरा निकट का संबंध था. उनसे मुझे बहुत कुछ सीखने को मिला. वे दलित और वंचितों की मदद करने की पहल करते थे. समारोह को राजस्थान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने भी संबोधित किया. कटारिया ने कहा कि उन्होंने समाज में मानव जीवन को नई दिशा देने की पहल की. गरीबों की मदद करने में भंडारी ने अग्रणी भूमिका निभाई. समारोह को बजरंग लाल, निंबाराम, हेमंत शर्मा और आईएम सेतिया ने भी संबोधित किया.

...फर्स्ट इंडिया के लिए काशीराम चौधरी की रिपोर्ट

और पढ़ें