बाड़मेर रिफाइनरी कार्य की प्रगति की समीक्षा के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में मंत्री समूह गठित 

बाड़मेर रिफाइनरी कार्य की प्रगति की समीक्षा के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में मंत्री समूह गठित 

जयपुर: बाड़मेर में निर्माणाधीन महत्वाकांक्षी पेट्रोलियम रिफाइनरी का कार्य प्राथमिकता के आधार पर समयबद्ध रूप से पूरा हो इसके लिए अब इसकी नियमित समीक्षा मुख्यमंत्री कार्यालय के स्तर पर की जाएगी. रिफाइनरी की प्रगति की समीक्षा के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में मंत्री समूह गठित किया गया है.

मंत्री डॉ.बीडी कल्ला, प्रमोद जैन भाया और हरीश चौधरी सहित अन्य मंत्री शामिलः
मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में गठित इस समूह में ऊर्जा एवं जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री डॉ. बी डी कल्ला, नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल, उद्योग मंत्री परसादी लाल मीणा, खान एवं पेट्रोलियम मंत्री प्रमोद जैन भाया, राजस्व मंत्री हरीश चौधरी, इदिरा गांधी नहर परियोजना मंत्री उदयलाल अंजना, कौशल विकास एवं रोजगार मंत्री अशोक चांदना, पचपदरा विधायक मदन प्रजापत सदस्य होंगे. इनके अलावा मुख्य सचिव निरंजन आर्य, मुख्यमंत्री के सलाहकार डॉ. गोविन्द शर्मा, गृह, वित्त, राजस्व, ऊर्जा, पीएचईडी, पीडब्ल्यूडी, यूडीएच, उद्योग, आईजीएनपी, कौशल विकास एवं रोजगार विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव/प्रमुख शासन सचिव/शासन सचिव, रीको के प्रबन्ध निदेशक, निदेशक पेट्रोलियम, जोधपुर के संभागीय आयुक्त, कलेक्टर बाड़मेर एवं पुलिस अधीक्षक बाड़मेर भी इस समूह में सदस्य होंगे. अतिरिक्त मुख्य सचिव/ प्रमुख शासन सचिव खान एवं पेट्रोलियम इसमें सदस्य सचिव होंगे.

परियोजना के कार्य की प्रगति की नियमित मॉनिटरिंग करेगा ये मंत्री समूहः
यह मंत्री समूह परियोजना के कार्य की प्रगति की नियमित मॉनिटरिंग करेगा. इससेे रिफाइनरी के विषय में सरकार के विभिन्न विभागों के बीच बेहतर तालमेल के साथ ही अन्तर्विभागीय मुद्दों का त्वरित समाधान हो सकेगा. हिन्दुस्तान पेट्रोलियम के अधिकारियों से समन्वय भी स्थापित किया जाएगा.  उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंगलवार को रिफाइनरी की प्रगति को लेकर आयोजित उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक में जयपुर मेट्रो प्रोजेक्ट की तर्ज पर रिफाइनरी के कार्य को प्रतिबद्धता के साथ एवं समय पर पूरा करने के निर्देश दिए थे.

और पढ़ें