भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सरहद के रखवालों ने मनाया नववर्ष का जश्न

Suryaveer Singh Tanwar Published Date 2020/01/01 10:01

जैसलमेर: जब पूरे देश में नये साल की धूम मची है तो हमारे देश की सरहद पर तैनात फस्ट लाईन ऑफ डिफेंस सीमा सुरक्षा बल के जवान व अधिकारी, बी.एस.एफ की महिला जवानों के साथ दिन-रात सहरद की सुरक्षा में मुस्तैदी ने तैनात हैं. सीमा पर तापमान 0 डिग्री से भी नीचे पहुंच चुका हैं, उसके बावजूद यह बी.एस.एफ के जांबाज अधिकारी जवान बुलंद हौसलो के साथ देश की सीमाओं की रक्षा कर रहे हैं. पूरा देश नये साल के जश्न में डूबा रहा तो यह बी.एस.एफ के जवान राउंड द क्लोक सीमा पर पेट्रोलिंग करते रहे. इनकी वजह से पूरा देश सुरक्षित नया साल मना रहा हैं. इनकी मुस्तैदी से परिंदा भी पर नही मार सकता. नया साल मनाने की बात इनके मन में आती हैं लेकिन फर्ज व ड्यूटी के कारण देश सुरक्षित रहे इसी भावना से यह अपना कार्य बखूबी से अंजाम दे रहे हैं. फर्स्ट इंडिया की टीम भारत पाक सीमा पर पहुंचे, इन जवानों ने कुछ पल के लिए नया साल का जश्न केक काटकर एक दूसरे को बधाईया देते हुवें बनाया. पूरा माहौल बी.एस.एफ की जयजयकार व भारत माता की जयजयकार से गूंजायमान हो उठा. 

भारत माता की जयजयकार के साथ नया साल मनाया: 
कंधे पर बंदूक रखे दुश्मन पर चैकन्नी नजर के साथ सरहद की रखवाली करते बी.एस.एफ की बेटियों को देखकर हर किसी देशवासी का सीना गर्व से फूल जाए. 18 बी.एस.एफ के कमांडेन्ट व उच्चधिकारियों ने भी अन्तर्राष्ट्रीय सीमा पर पहुंच कर जवानों के साथ मिलकर वर्ष 2020 का स्वागत किया व नये साल का केक काटा व एक दूसरे को मिठाईयां देकर भारत माता की जयजयकार के साथ नया साल का जश्न मनाया. असल में अपने घर परिवार से सैकड़ों कि.मी. दूर बैठ कर देश की सीमाओं की रक्षा कर रहे सीमा सुरक्षा बल के जवान नए साल के जश्न के अवसर पर अपने को अकेला महसूस न करे इसके लिये सीमा सुरक्षा बल राजस्थान फ्रंटियर मुख्यालय द्वारा पाकिस्तान से लगती अन्तर्राष्ट्रीय सीमा पर स्थित बी.एस.एफ की सीमा चैकियों पर तैनात बी.एस.एफ के जवानों के लिये नया साल मनाने के लिये विशेष प्रबंधक किये हैं जवानों के लिये मिठाईयों व रोशनी की भिजवाई गई हैं वरन बटालियनों के कमांडेन्ट व उच्चधिकारियों को जवानों के साथ नया साल मनाने के लिये सीमा पर भेजा गया है.

देश की सीमाओं की सुरक्षा का कर्तव्य सर्वोपरी: 
बी.एस.एफ मुख्यालय द्वारा सभी जवानों अधिकारियों को नए साल की बधाईयां व शुभकामनाएं प्रेषित की गई हैं चूंकि देश की सीमाओं की सुरक्षा का कर्तव्य सर्वोपरी हैं ऐसे में सभी जवानों को अपने घर परिवार के साथ बैठकर नए साल का जश्न मनाने के लिये छुट्टी पर भेजना असंभव होता हैं. इसके मध्यनजर सीमा पर भी जवानों के नए साल के स्वागत का जश्न सेलीब्रेशन करने के विशेष प्रबंध किये गये हैं. जवानों की हौसला अफजाई व अपने को अकेला महसूस न करे इसके लिये कमांडेन्ट भी सीमा पर पहुंच गये. मिनी भारत के रूप मशहूर विभिन्न प्रांतों के जवान सब मिलकर आनंद से नया साल मनाया. राजस्थान के गंगानगर बीकानेर जैसलमेर में इन दिनों कोहरे व धुन्ध की स्थितियां बनी हुई हैं कुछ फुट की दूरी पर ही देखना काफी मुश्किल हो रहा हैं ऐसे में जवान सीमाओं की सुरक्षा अत्यधिक सतर्कता से रखते हुवे नया साल का जश्न भी सेलिब्रेशन रख रहे है. जांबाज महिला जवानों का कहना है कि घर की याद तो आती है लेकिन हमारे लिए सबसे बड़ी बात है कि देश के लोग नया साल का उत्सव मनाए. हमारी पहरेदारी से वो महफूज रहे इससे बड़ी हमारी खुशी क्या हो सकती है.

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in